चंडीगढ़ के बढ़े पानी के दामों को लेकर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने, भाजपा की धमकी, सेक्टर में भी नहीं घुस पाएंगे कांग्रेसी

चंडीगढ़ के बढ़े पानी के दामों को लेकर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने।

शहर में बढ़े पानी के दामों को लेकर रविवार को कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा अध्यक्ष अरुण सूद और मेयर रविकांत शर्मा के घर का घेराव करेंगे। वहीं भाजपा ने धमकी दी है कि कांग्रेसी घर तो दूर सेक्टर में भी नहीं घुस पाएंगे।

Ankesh KumarSun, 28 Feb 2021 11:47 AM (IST)

चंडीगढ़, जेएनएन। चंडीगढ़ कांग्रेस ने शहर में बढाए गए पानी के रेट के खिलाफ भाजपा अध्यक्ष अरुण सूद और मेयर रविकांत शर्मा के घर का घेराव करने की घोषणा की है। कांग्रेस नेताओं ने कहा है कि इन दोनों नेताओं को गुलाब का फूल देखकर पानी के रेट बढ़ाने का फैसला वापस लेने के लिए ज्ञापन दिया जाएगा। जबकि इससे पहले भाजपा नेताओं ने कांग्रेस को यह धमकी दी है कि वह घर तक तो दूर सेक्टर के अंदर भी नहीं घुस पाएंगे।  

भाजपा अध्यक्ष और मेयर का घर सेक्टर-37 में है। ऐसे में रविवार शाम को होने वाले प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस और भाजपा में टकराव हो सकता है। कांग्रेस प्रवक्ता गुरबख्श रावत का कहना है कि सभी कार्यकर्ताओं को सेक्टर-37 सेंट कबीर स्कूल के पास एकत्र होने के लिए कहा गया है। जहां से भाजपा अध्यक्ष और मेयर के घर जाया जाएगा।

वहीं, भाजपा के प्रदेश महामंत्री रामबीर भट्टी और चंद्रशेखर ने बयान जारी कर कहा है कि चंडीगढ़ में पानी के मुद्दे को लेकर कांग्रेस पार्टी अब ओछी राजनीति करने जा रही है। कांग्रेस को इतनी तो समझ होनी चाहिए कि लोग कोरोना महामारी से त्रस्त हैं और ऐसे में इस प्रकार से किसी के भी घर में जाना ये कहा की संस्कृति है। भाजपा इसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को घरों में तो क्या सेक्टर के अंदर भी घुसने नहीं देगी।

उन्होंने कहा कि किसी भी राजनीतिक मुद्दों को किसी के घरों के समक्ष लेकर जाना ये कहां की राजनीति है। इसके लिए प्रशासनिक अधिकारी और पार्टी के कार्यालय हैं, वहां पर ऐसा करके अपनी राजनीति को चमकाएं तो बेहतर होगा। पानी के मुद्दे को लेकर पार्टी प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद पहले से ही प्रयास कर रहे हैं कि इसको वास्तविक दर पर लोगों को कैसे उपलब्ध करवाया जाए। इसके लिए उन्होंने गृह मंत्रालय से लेकर चंडीगढ़ प्रशासन के सभी आला अधिकारियों से भेंट कर इस मुद्दे को हल कर जिस दर निगम को पानी उपलब्ध हो रहा है उसी दर पर लोगों को दिए जाने की वकालत करते आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जब गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी, चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी सिंह बदनौर और सलाहकार मनोज परिदा से बातचीत हो रही है और नगर निगम की मार्च की बैठक में इस एजेंडा को लाया जा रहा है तो ऐसे में कांग्रेस पार्टी को इतनी तिलमिलाहट क्यों हो रही है। ऐसे में अब कांग्रेसी भाजपा की रणनीति जानने का भी प्रयास कर रही है कि वह किस तरह से उन्हें रोकेंगे। सुभाष चावला के अध्यक्ष बनने के बाद यह कांग्रेस का पहला प्रदर्शन है। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता हरमेल केसरी का कहना है कि कांग्रेस ने ही भाजपा ओछी राजनीति कर रही है। प्रदर्शन करना लोकतांत्रिक अधिकार है ऐसे में भाजपा को धमकी देना शोभा नहीं देता।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.