CDS हेलीकाप्टर हादसे में मृत ब्रिगेडियर लिड्डर का पंचकूला से नाता, पड़ोसी कर्नल ने कुछ इस तरह किया याद

Bipin Rawat Death News ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह का पंचकूला सेक्टर-12 में आवास मकान नंबर 357 पर उनके मित्र व अन्य लोग शोक जताने पहुंच रहे हैं। 20 साल से उनके पड़ोसी और मित्र रहे कर्नल भूपेंद्र सिंह का दर्द छलक पड़ा।

Ankesh ThakurThu, 09 Dec 2021 01:36 PM (IST)
ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह का पंचकूला सेक्टर-12 में घर है।

आनलाइन डेस्क, चंडीगढ़। Bipin Rawat Death News कुन्‍नूर हेलीकाप्‍टर हादसे (CDS helicopter crash) की भेंट चढ़े सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) समेत अन्‍य 13 पर पूरा देश शोक मना रहा है। हादसे में देश के पहले सीडीएस बिपिन रावत उनकी पत्नी समेत 11 अन्य सैन्य जवान व अधिकारी भी शहीद हुए हैं। वहीं, इस हादसे में पंचकूला निवासी ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह लिड्डर का भी देहांत हुआ है। जैसे ही पंचकूला में ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह लिड्डर (Brigadier Lakhbinder Singh Lidder) के शहीद होने की यह बुरी खबर लोगों को मिली तो हर कोई स्तब्ध था। ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह के हेलीकाप्टर दुर्घटना में शहीद होने पर पंचकूला में शोक की लहर है।

ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह का पंचकूला सेक्टर-12 में आवास मकान नंबर 357 पर उनके मित्र व अन्य लोग शोक जताने पहुंच रहे हैं। 20 साल से उनके पड़ोसी और मित्र रहे कर्नल भूपेंद्र सिंह का दर्द छलक पड़ा। नम आंखों से भूपेंद्र सिंह ने कहा कि यह हादसा केवल पंचकूला के लिए ही नहीं बल्कि देश के लिए महा क्षति है। उन्होंने बताया कि ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह लिड्डर बेहद जिंदादिल और खुशदिल इंसान थे और एक डेकोरेटेड आफिसर थे। उनका परिवार माता, पत्नी दिल्ली में उनके साथ ही रहते थे। वो कभी कभार पंचकूला स्थित अपने घर में आते थे, लेकिन जब भी वह यहां आते थे तो दिल खोलकर सबसे मिलते थे। उन्होंने कभी भी ऐसा महसूस नहीं होने दिया कि वह इतने बड़े पद पर रहकर देश सेवा कर रहे हैं।

जल्द प्रमोशन के बाद बनने वाले थे मेजर जनरल

कर्नल भूपेंद्र सिंह  ने बताया कि ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह काफी अनुभवी अधिकारी थे। इसलिए उनकी जल्दी ही प्रमोशन होने वाली थी और वह प्रमोट होकर मेजर जनरल बनने वाले थे। उन्होंने देश की सेवा में यूएन मिशन से लेकर विभिन्न सैन्य क्षेत्रों में अपनी महत्वपूर्ण सेवाएं दी हैं। ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह सीडीएस बिपिन रावत का स्टाफ छोड़कर डिविजन ऑफिसर की कमान संभालने वाले थे।

ब्रिगेडियर लिड्डर की प्रमोशन हो गई थी अप्रूव

कर्नल भूपेंद्र सिंह ने बताया कि ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह को मेजर जनरल रैंक के पद प्रमोट किए जाने की अनुमति मिल गई थी। ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह लिड्डर भारतीय वायुसेना (Indian Airfroce) के हेलीकाप्टर दुर्घटना (Chopper Crash) में मारे गए लोगों में से एक हैं। ब्रिगेडियर लखबिंदर सिंह लिड्डर परिवार में दूसरी पीढ़ी के सेना अधिकारी थे। हरियाणा स्थित पंचकूला सेक्टर-12 के निवासी लिड्डर पिछले एक साल से अधिक समय से जनरल बिपिन रावत के स्टाफ में थे। उन्होंने जम्मू-कश्मीर राइफल्स की दूसरी बटालियन की कमान संभाली थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.