एनटीएसई टेस्ट क्लीयर करो, पीएचडी तक स्कॉलरशिप पाओ

डॉ. सुमित सिंह श्योराण, चंडीगढ़ : साइंस में करियर बनाने के इच्छुक शहर के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों के स्टूडेंट्स के लिए पूरी पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप पाने का शानदार मौका है। स्टूडेंट्स एनटीएसई टेस्ट क्लीयर कर 11वीं से लेकर पीएचडी तक हर महीने स्कॉलरशिप पा सकते हैं। देशभर में स्कूली प्रतिभाओं को तलाशने के लिए एनसीईआरटी नेशनल टैलेंट सर्च एग्जामिनेशन (एनटीएसई) आयोजित करती है। दो स्टेज की परीक्षा का पहला टेस्ट नवंबर में होगा। स्टूडेंट्स 20 सितंबर तक परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। 10वीं क्लास में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। हर साल चंडीगढ़ से ही 5 हजार से अधिक स्टूडेंट इस परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं।

हर साल मिलेगी 15 हजार रुपये की स्कॉलरशिप

एनटीएसई क्लीयर करने वाले चंडीगढ़ के 10 स्टूडेंट्स को 11वीं और 12वीं में हर महीने 1250 रुपये की स्कॉलरशिप मिलेगी। साइंस संकाय से ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन करने पर हर महीने 2 हजार और पीएचडी के लिए यूजीसी नियमों के तहत स्कॉलरशिप मिलेगी। एनटीएसई क्लीयर करने वाले स्टूडेंट्स को देश के टॉप इंजीनियंिरंग संस्थानों में दाखिले में भी वरीयता मिलती है। 20 सितंबर तक कर सकते हैं आवेदन

स्टेट लायजनिंग ऑफिसर ममता शर्मा के अनुसार एनटीएसई टेस्ट दो स्टेज पर लिया जाता है। पहली स्टेज का टेस्ट सेक्टर-32 स्थित स्टेट काउंसिल ऑफ रिसर्च ट्रेनिंग (एससीईआरटी) आयोजित करती है। दसवीं में पढ़ रहे स्टूडेंट, जिन्होंने नौवीं क्लास में 61 फीसद से अधिक अंक हासिल किए, वह आवेदन कर सकते हैं। सेक्टर-32 एससीईआरटी में 20 सितंबर तक आवेदन किया जा सकता है। आवेदन फार्म स्कूल प्रिंसिपल से अटेस्ट होना जरूरी है। पहली स्टेज की परीक्षा 4 नवंबर को चंडीगढ़ में होगी। फरवरी के पहले हफ्ते में रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। दूसरी और फाइनल स्टेज का टेस्ट एनसीईआरटी आयोजित करेगा। चंडीगढ़ के 10 स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप के लिए चुना जाएगा। ओपन स्कूल से 9वीं करने वाले स्टूडेंट्स भी आवेदन कर सकते हैं, लेकिन ऐसे स्टूडेंट्स 10वीं की पढ़ाई कर रहे हों। स्टूडेंट्स की उम्र 18 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए। स्कॉलरशिप के लिए दो स्टेज करनी होंगी क्लीयर

एनटीएसई स्टेज-1 के लिए स्टूडेंट्स को दो पेपर क्लीयर करने होंगे। जानकारी अनुसार मेंटल एबिलिटी टेस्ट (मेट) में गणित के 100 सवाल पूछे जाएंगे। दूसरा पेपर स्कॉलेस्टिक एप्टीट्यूट का 100 नंबर का होगा। दोनों के लिए दो घंटे का समय निर्धारित किया गया है। जनरल कैटेगरी में 40 फीसद और रिजर्व कैटेगरी में 32 फीसद अंक पास होने के लिए तय किए गए हैं। एनटीएसई परीक्षा स्कूल स्तर की प्रतिभाओं की खोज के लिए एनसीईआरटी ने 1963 में शुरू की थी। इस परीक्षा का उदेश्य साइंस स्ट्रीम की प्रतिभाओं को तराशना है। चंडीगढ़ से 10 स्टूडेंट्स का एनटीएसई स्कॉलरशिप के लिए चयन किया जाएगा। पेरेंट्स को इस परीक्षा के लिए बच्चों को मोटिवेट करना चाहिए।

डॉ. सुरेंद्र सिंह दहिया, डायरेक्टर स्टेट काउंसिल ऑफ एजुेकशनल रिसर्च (एससीईआरटी) सेक्टर-32, चंडीगढ़

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.