थर्मल के अस्थायी मुलाजिम परिवारों के साथ देंगे धरना

संसू, भुच्चो मंडी/लहरा मोहब्बत :

जीएचटीपी कांट्रैक्ट वर्कर्स यूनियन (रजि.) लहरा मोहब्बत की ओर से प्रधान जगरुप सिंह की अगुआई में थर्मल प्लांट के मेन गेट पर सुबह आठ बजे से नौ बजे तक अगले संघर्ष की तैयारी संबंधी रैली की।

महासचिव जगसीर सिंह भंगू ने पंजाब सरकार और पावरकॉम मैनेजमेंट की मजदूर-मुलाजिम विरोधी नीतियों की सख्त शब्दों में निदा करते हुए कहा कि पंजाब सरकार और पावरकाम मैनेजमेंट कारपोरेट घरानों को बड़ा फायदा देने के लिए महंगी बिजली पैदा करने वाले प्राइवेट थर्मल प्लांटों को लगातार पूरे लोड पर चला रही है जबकि सस्ती बिजली पैदा करने वाले प्राइवेट थर्मल प्लांटों को बंद करने की नियत से लगातार बंद रखकर पंजाब के लोगों को महंगी बिजली खरीदने के लिए मजबूर किया हुआ हैं। थर्मल प्लांटों में पिछले 20-25 सालों लगातार काम करते आ रहे अस्थायी मुलाजिमों के सिर पर छींटनी की तलवार लटकाई हुई हैं। इसके रोष और अपनी मांगों को लेकर थर्मल के अस्थायी मुलाजिम जत्थेबंदी के बैनर तले 25 नवंबर को सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक परिवारों और बच्चों सहित ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा पंजाब और किसान, मजदूर, मुलाजिम जत्थेबंदियों के सहयोग से थर्मल प्लांट के मुख्य गेट के सामने एक दिवसीय धरना देंगे।

समूह नेताओं ने पंजाब सरकार से मांग की कि सरकारी थर्मल प्लांट लगातार चलता रखा जाए और पावरकॉम के कच्चे मुलाजिमों को पावरकॉम में पक्का भर्ती किया जाए और बिजली एक्ट 2003 को रद्द किया जाए।

इस मौके पर बलजिदर सिंह, परमजीत महराज, कुलदीप सिंह, बलविदर कोटड़ा, खोमपाल, यादविदर, दुल्ला सिंह, जसविदर भुच्चो, गुरप्रीत लहरा, जगतार कोटड़ा, लवप्रीत बेगा, बलविदर लहरा, बूटा सिंह, लक्ष्मण सिंह, हीरा लाल, गुरप्रीत गरुसर, गुरशरण कोटड़ा आदि उपस्थित थे।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.