दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

शिक्षा विभाग के आदेश बने अध्यापकों के लिए गले की फांस

शिक्षा विभाग के आदेश बने अध्यापकों के लिए गले की फांस

प्री बोर्ड विद्यार्थियों के अंक अपलोड करना अध्यापकों के लिए नई परेशानी का कारण बन गया है।

JagranMon, 17 May 2021 04:06 AM (IST)

संवाद सहयोगी, बठिडा : प्री बोर्ड विद्यार्थियों के अंक अपलोड करना अध्यापकों के लिए नई परेशानी का कारण बन गया है। 15 मई तक अध्यापकों को प्री बोर्ड के अंक अपलोड करने को कहा गया था, लेकिन तिथि निकलने के बाद भी डाटा अपलोड नहीं किया गया। वहीं दूसरी तरफ कोरोना महामारी के चलते डीसी ने जिले के सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों को बंद रखने के आदेश जारी कर रखे हैं। इसमें स्कूल के नान टीचिग व टीचिग स्टाफ को घर से काम करने के लिए कहा गया है। दूसरी तरफ शिक्षा विभाग के डायरेक्टर जनरल आफ स्कूल एजुकेशन ने कहा है कि अगर किसी स्कूल में दस कर्मचारी हैं, वे कर्मचारी 50 प्रतिशत स्कूलों में उपस्थित रहें। इस वजह से अध्यापक अपना कार्य सही ढंग से नहीं कर पा रहे थे। अभी अध्यापक इन दोनों पत्रों को लेकर असमंजस के दौर से निकले भी नहीं पा रहे हैं। ऐसे में अब पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने एक पत्र जारी कर आदेश जारी किया कि बारहवीं कक्षा के प्री बोर्ड के अंक बोर्ड की साइट पर अपलोड किए जाएं। अध्यापकों के यह आदेश गले की फांस बनते जा रहे हैं। अब अध्यापकों को यह समझ नहीं आ रहा है कि किस प्रकार वे यह कार्य करें। एक-एक विद्यार्थी का डाटा भेजना नहीं आसान

अब यह काम इतना आसान नहीं है जितना दिख रहा है क्योंकि एक एक बच्चे का रिकार्ड खोलकर उसके सब्जेक्ट वाइज प्री बोर्ड के नंबर भरने होंगे। ऐसे में यह काम घर पर नहीं हो सकता क्योंकि बहुत से अध्यापकों के पास घरों में कंप्यूटर नहीं हैं तो अध्यापकों को तो कंप्यूटर पर नंबर अपलोड करने भी नहीं आते। ऐसे में अध्यापक दुविधा में हैं कि प्रकार वे यह कार्य करेंगे। अब किसी को यह बात समझ नहीं आ रही है कि वे यह कार्य कैसे करेंगे। वहीं प्री बोर्ड के अंक स्कूल अध्यापक अपने स्कूल से संबंधित ब्लाक मेंटर व डिस्ट्रिक्ट मेंटर को पहले ही एक्सेल शीट पर भेज चुके हैं लेकिन अब उन्हें फरमान सुनाया गया है कि इन अंकों को बोर्ड द्वारा अल्फाबेटिकल भेजी गई शीट के अनुसार भरा जा। ------------------

हम जल्द डाटा भरने की कोशिश कर रहे हैं। अध्यापकों द्वारा कुछ डाटा भर दिया गया है। कुछ डाटा रह गया है, रहता डाटा जल्द भरा जाएगा।

-इकबाल सिंह बुट्टर, उपजिला शिक्षा अधिकारी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.