गुरुद्वारा सिंह सभा के पदाधिकारियों के खिलाफ धरना

जासं, बठिडा : गुरुद्वारा सिंह सभा प्रबंधकों और गुरुद्वारा साहिब की दुकानों के किरायदारों के बीच चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। इसी क्रम में सोमवार शाम को दुकानदारों ने गुरुद्वारा साहिब के बाहर धरना देकर नारेबाजी की। इस दौरान दुकानदारों ने आरोप लगाया कि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारी मनमानी कर रहे हैं। किसी की राय लिए बिना ही तय नियमों व प्रबंध व्यवस्था में बदलाव किया जा रहा है। गुरुद्वारा साहिब में जरूरतमंदों को कमरे किराये पर न देकर केवल चहेतों को ही हर तरह की सुविधा दी जा रही है। ट्रस्ट के अंतर्गत 70 दुकानें चल रही हैं और मिलकर गुरुद्वारा साहिब में बाशरूम का निर्माण करवाया था, ताकि दुकानदारों को किसी भी तरह की परेशानी ना झेलनी पड़े, लेकिन प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारियों द्वारा बाशरूम को ताला लगा दिया। दूसरी तरफ प्रबंधक कमेटी ने दुकानदारों पर गुरुद्वारा साहिब में आने वाली संगत व श्रद्धालुओं को परेशान करने के आरोप लगाए। वहीं दुकानदारों द्वारा सड़क पर लगाए धरने के चलते राहगीरों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने दुकानदारों का धरना खत्म कर मामले का हल बैठकर निकालने की अपील की। जब दुकानदारों ने धरना नहीं उठाने की बात कही तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया। इसके साथ ही गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारियों को भी थाने में बुलाया गया। उधर, थाना कोतवाली के प्रभारी इंस्पेक्टर दविदर सिंह का कहना है कि दोनों पक्षों बात सुनने के बाद ही अगली कार्रवाई की जाएगी।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.