कोरोना टीकाकरण : रजिस्ट्रेशन आज से, पहचान पत्र जरूर साथ लाना होगा

कोरोना टीकाकरण : रजिस्ट्रेशन आज से, पहचान पत्र जरूर साथ लाना होगा

एक मार्च यानि सोमवार को देशभर में कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू होने जा रहा है।

JagranMon, 01 Mar 2021 06:26 AM (IST)

नितिन सिगला, बठिडा : एक मार्च यानि सोमवार को देशभर में कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू होने जा रहा है। इस चरण में गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45 साल से ऊपर के लोगों के अलावा 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों को कोरोना का टीका सेहत विभाग की तरफ से लगाया जाएगा। सरकार की योजना के अनुसार सरकारी अस्पतालों में यह टीका निश्शुल्क लगाया जाएगा, तो वही प्राइवेट अस्पतालों में एक टीका 250 रुपये में लगेगा। यानि कोरोना वैक्सीन की दो डोज के लिए 500 रुपये खर्च करने पड़ेंगे। केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार कोरोना का टीका केवल उन प्राइवेट अस्पतालों में ही लगेगा, जोकि आयुष्मान भारत और सेंट्रल हेल्थ गवर्नमेंट स्कीम (सीजीएचएस) के तहत पैनल में शामिल होंगे, जबकि अन्य प्राइवेट अस्पतालों का चयन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। विभाग के अनुसार सोमवार को बेशक कोविन एप पर टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगी, लेकिन सात मार्च तक टीका लगने की प्रकिया शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है। निजी अस्पतालों की सूची विभाग को भेजी

सिविल सर्जन डा. तेजवंत सिंह ढिल्लों ने बताया कि सेहत विभाग की तरफ से आयुष्मान योजना में शामिल जिले के 62 प्राइवेट व 14 सरकारी अस्पतालों की सूची केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग को भेजी जा चुकी है। सरकार की तरफ से जारी गाइडलाइन को पूरा करने वाले अस्पतालों में टीकाकरण होगा। इसकी शुरुआत करने से पहले निजी अस्पतालों का विभाग की एक टीम निरीक्षण करेगी और उसके बाद ही उन्हें परमिशन दी जाएगी। सरकार की तरफ से रेट तय होने के बाद जो अस्पताल डिमांड करेंगे, उन्हें वैक्सीन उपलब्ध करवाई जाएगी। विभाग के स्टोर में वैक्सीन का स्टाक उपलब्ध है। बेशक राज्य सरकार ने भी रेट तय नहीं किए हैं, लेकिन केंद्र सरकार की तरफ से प्राइवेट अस्पताल में प्रति डोज 100 रुपये सर्विस चार्ज और 150 रुपये टीके के तय किए हैं।

-------------

इन रोगियों को लगेगा टीका

हार्ट ट्रांसप्लांट, हृदय 40 फीसद से ज्यादा खराब हो, बीते एक साल में हार्ट अटैक आया हो, हृदय रोग, आर्टरी डिसीज, बाईपास सर्जरी, हाइपरटेंशन, 10 साल से डायबिटीज हो या उसकी दवा ले रहे हों, बीपी और मधुमेह के कारण स्ट्रोक, किडनी/लीवर ट्रांसप्लांट, किडनी खराब हो चुकी हो, डायलिसिस हो रहा हो, इम्यून सिस्टम कमजोर हो और उसकी दवा ले रहे हों, गंभीर सांस की बीमारी, किसी तरह का कैंसर हो, स्किलसेल, बोनमैरो में खराबी, एचआइवी संक्रमित या बीमारी के कारण आई दिव्यांगता जैसे रोग शामिल हैं। इन रोगों को प्रमाणित करने के लिए आपको किसी सामान्य रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर से सर्टिफिकेट लेना लाजिमी होगा।

---------

रजिस्ट्रेशन को पहचान पत्र व मेडिकल सर्टिफिकेट जरूरी

-कोविन 2.0 एप और उसके वेब पोर्टल ष्श्र2द्बठ्ठ.द्दश्र1.द्बठ्ठ पर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। आरोग्य सेतु एप भी इससे जोड़ा गया है। कामन सेंटर और सेवा केंद्र पर जाकर रजिस्टर हो सकते हैं। जिन लोगों के पास मोबाइल फोन या उन्हें कंप्यूटर के बारे में जानकारी नहीं है, तो वह टीकाकरण सेंटर पर जाकर अपनी रजिस्ट्रेशन मौके पर करवा सकता है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में आशा वर्कर भी रजिस्ट्रेशन कर सकेगी।

---------

एप पर ऐसे होगी टीकाकरण की रजिस्ट्रेशन

सबसे पहले अपने मोबाइल में कोविन 2.0 एप व आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करें। एप में बताए जा रहे निर्देशों का पालन कर रजिस्ट्रेशन करें, फोटो आइडी भी लगेगी। इस दौरान यह चुन सकते हैं कि आपको किस दिन, किस सेंटर पर टीका लगवाना है। इसका एसएमएस मिलेगा। 60 साल से ऊपर के लोगों को आइडी कार्ड रखना होगा।

एप पर आप घर के नजदीक का अस्पताल चुन सकते हैं।

टीका लगाने के बाद सावधानी बरतनी होगी

पहली डोज के 28 दिन बाद दूसरी लगेगी। इसके 14 दिन बाद प्रतिरोधी क्षमता विकसित होगी। मास्क पहनें, शारीरिक दूरी का पालन करना जरूरी होगा। दोबारा रजिस्ट्रेशन से बदल सकते हैं टीका केंद्र

रजिस्ट्रेशन के लिए आप अपने या किसी और के मोबाइल फोन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। एक फोन से चार बार रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। सरकार ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन को मंजूरी दी है, लेकिन एप पर रजिस्ट्रेशन के दौरान टीके के नाम की जानकारी नहीं होगी, लेकिन टीका लगने के दौरान आप पूछ सकते हैं कि कौन सी कंपनी की डोज दी जा रही है। अगर सेंटर पर जिस कंपनी का टीका उपलब्ध है और आप वह नहीं लगवाना चाहते हैं तो आप दोबारा रजिस्ट्रेशन कराकर टीका केंद्र बदल सकते हैं।

--------

रजिस्ट्रेशन के लिए ये दस्तावेज जरूरी

जो लोग कोरोना टीकाकरण करवाने जाएंगे, वे सरकारी पहचान पत्र दिखा सकते हैं। ये आईडी कार्ड-आधार नंबर, ड्राइविग लाइसेंस, हेल्थ केयर इंश्योरेंस स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जाब कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, सांसद/विधायकों को दिए गए आईडी कार्ड, पैन कार्ड, बैंक/पोस्ट ऑफिस की पासबुक, पेंशन डाक्युमेंट, सरकारी आइडी कार्ड आदि हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.