पटियाला जेल से नेटवर्क चला रहा था गैंगस्टर रम्मी मछाणा

पटियाला जेल से नेटवर्क चला रहा था गैंगस्टर रम्मी मछाणा

गैंगस्टर रमनदीप सिंह उर्फ रम्मी मछाना पटियाला जेल से ही नेटवर्क चलाकर उत्तर प्रदेश से अवैध हथियार मंगवा रहा था।

JagranTue, 02 Mar 2021 09:29 PM (IST)

जासं,बठिडा: गैंगस्टर रमनदीप सिंह उर्फ रम्मी मछाना पटियाला जेल से ही नेटवर्क चलाकर उत्तर प्रदेश से अवैध हथियार मंगवा रहा था। उसके नेटवर्क को तोड़ते हुए पुलिस ने मछाणा उसके चार साथियों को गिरफ्तार कर नौ पिस्टल बरामद किए हैं। फिलहाल बठिडा पुलिस गैंगस्टर मछाणा को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ कर रही है। साथ ही उत्तर प्रदेश से हथियार सप्लाई करने वाले की तलाश शुरू कर दी है।

मंगलवार शाम बठिडा रेंज के आइजी जसकरण सिंह व एसएसपी भूपिदरजीत सिंह विर्क ने बताया कि एसपी (डी) बलविदर सिंह रंधावा की अगुआई में गठित सीआइए स्टाफ टू के इंचार्ज इंस्पेक्टर जसवीर सिंह औलख ने गत 16 फरवरी 2021 को लाल सिंह बस्ती निवासी मनदीप सिंह उर्फ मनी, दशमेश नगर वासी परमिदर सिंह उर्फ गोगी व मुक्तसर के गिदड़बाहा निवासी अमृतपाल सिंह उर्फ बब्बू को गिरफ्तार किया था। उनसे 32 बोर का एक पिस्टल, 9 एमएम का एक पिस्टल और 14 कारतूस बरामद किए थे। पूछताछ में उन्होंने बताया कि ये हथियार पटियाला जेल में बंद गैंगस्टर रम्मी मछाणा ने उन्हें उपलब्ध करवाए हैं। पता चला कि जेल में मछाणा के पास मोबाइल है। पुलिस ने उसके फोन को ट्रेस कर डिटेल जुटाईस और कुछ ्िदन पहले बठिडा सीआइए स्टाफ टू की टीम उसे प्रोडक्शन वारंट पर बठिडा ले आई। पूछताछ के बाद तीन पिस्टल 32 बोर व 14 जिदा राउंड बरामद करवाए गए। जांच में पता चला कि उसके साथ गांव तख्तमल थाना किलायावाली जिला सिरसा हरियाणा का वासी जगसीर सिंह उर्फ जग्गा भी उसके लिए काम करता है। बठिंडा पुलिस ने जग्गा को भी गिरफ्तार कर रिमांड पर ले लिया। उससे भी चार पिस्टल बरामद हुए। उत्तर प्रदेश के शामली में ट्रांसफर किए गए चार लाख रुपये

पूछताछ में आरोपितों ने माना कि वह पंजाब में गैंग बना रहे थे व आपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने के लिए उत्तर प्रदेश से हथियार मंगवा रहे थे। इसके लिए स्टेट बैंक आफ इंडिया की शामली ब्रांच में हथियारों की सप्लाई देने वाले व्यक्ति को चार लाख रुपये की राशि भेजी गई थी। यह राशि मछाणा के एक साथी ने विदेश से ट्रांसफर की थी। गैंगस्टर मछाणा ने गनहाउस में घुसकर मारी थी गोलियां

शहर के बहुचर्चित दशमेश गन हाउस मर्डर केस मामले में जिला अदालत ने गैंगस्टर रम्मी मछाना समेत तीन लोगों को चार साल पहले दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी। इस मामले में कुख्यात गैंगस्टर गुरविदर बिदू हांगकांग भाग गया था। इसके बाद लूटपाट व अन्य आपराधिक मामलों में रमनदीप सिंह रम्मी मछाना पटियाला की जेल में बंद था। पुलिस के मुताबिक रम्मी मछाणा पर 37 मामले दर्ज हैं, जबकि आरोपित जग्गा पर हरियाणा में 23 मामले दर्ज हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.