लोक भलाई की स्कीमों के लिए लगाए गए कैंप में किसानों ने किया कांग्रेस नेताओं का घेराव

पंजाब सरकार की ओर से लोगों को एक ही जगह पर विभिन्न विभागों की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए आदर्श स्कूल में मेगा कैंप लगाया गया।

JagranThu, 28 Oct 2021 11:37 PM (IST)
लोक भलाई की स्कीमों के लिए लगाए गए कैंप में किसानों ने किया कांग्रेस नेताओं का घेराव

जागरण संवाददाता, बठिडा : पंजाब सरकार की ओर से लोगों को एक ही जगह पर विभिन्न विभागों की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए आदर्श स्कूल में मेगा कैंप लगाया गया। इसमें वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल की पत्नी मीनू बादल मुख्य मेहमान के तौर पर शामिल हुई। जब वह समागम का उद्घाटन करने के बाद जाने लगीं तो किसानों ने उनका विरोध कर दिया। हालांकि पुलिस मुलाजिमों ने उनको तो वहां से निकाल दिया लेकिन कांग्रेस के शहरी प्रधान अरुण वधावन किसानों के बीच फंस गए। उनको थाना कैनाल कालोनी की पुलिस ने वहां से निकाला। इस दौरान उनकी किसानों के साथ काफी बहस भी हुई। किसानों ने आरोप लगाया कि वे बीते कई दिनों से नरमे की फसल का मुआवजा लेने के लिए बठिडा में अपने घर परिवार को छोड़कर बैठे हुए हैं, लेकिन सरकार ने उनकी एक नहीं सुनी। इसके चलते अब उनको पता चला कि आदर्श नगर स्कूल के कैंप में कांग्रेसी नेता पहुंच रहे हैं, तो उन्होंने इसका विरोध कर दिया।

आदर्श स्कूल में लगाए गए कैंप के दौरान लोगों को 18 विभागों की विभिन्न प्रकार की सेवाएं दी गई। इस दौरान जिला रोजगार दफ्तर की ओर से भी युवाओं को नौकरियां देने के लिए अपना काउंटर स्थापित किया गया। लेकिन यहां पर रोजगार दफ्तर की ओर से सिर्फ एक कंपनी को ही बुलाया गया। जिनके द्वारा कम से कम 12वीं पास युवाओं की इंटरव्यू ली गई। हालांकि उनको भी शार्टलिस्ट ही किया गया, नौकरी नहीं दी गई। जबकि रोजगार के लिए यहां पर 100 से ज्यादा युवा पहुंचे थे, जिनकी सिर्फ रजिस्ट्रेशन ही की गई। इसके अलावा सबसे ज्यादा भीड़ बिजली बिलों को माफ करवाने वाले काउंटर पर देखने को मिली। वहीं विभिन्न प्रकार के छोटे-मोटे कारोबार को लोन लेने के लिए पहुंचे लोगों का भी कोई हल नहीं हो पाया। जबकि कई लोग तो मेले से जाते समय गुस्साए नजर भी आए। इससे पहले कैंप में पहुंचे लोग भी रजिस्ट्रेशन न होने से नाराज दिखाई दिए। कैंप को शुरू करने का समय सुबह नौ बजे रखा था। लेकिन इसको देरी से शुरू किए जाने के चलते लोग विरोध करने लगे। वे घंटों लाइनों में खड़े होकर नेताओं व अधिकारियों के भाषण खत्म होने का इंतजार करते रहे। लेकिन जब 11 बजे के बाद कैंप शुरू हुआ तो पर्ची लेने वालों की भीड़ जमा हो गई। हालात तो यह थे कि लोग एक दूसरे से पहले अपना काम करवाने के लिए कोशिश करने लगे। इसके अलावा वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल की पत्नी वीनू बादल के पास लोग नौकरियां देने के लिए बातचीत करते रहे। हालांकि उनके द्वारा एक महिला को स्कूल में सफाई की नौकरी भी दी गई। महिला बोली-शगुन स्कीम का फिर आश्वासन मिला

कैंप में पहुंची मनजीत कौर ने बताया कि उसकी बेटी की शादी एक साल पहले हुई थी। उन्होंने शगुन योजना के पैसों के लिए अप्लाई किया था, लेकिन आज तक उनको एक पैसा भी नहीं मिला। जबकि वह कई बार दफ्तरों के चक्कर काट चुकी है। मगर अब कैंप में आई तो यहां पर भी सिर्फ आश्वासन ही मिला। दूसरा कैंप आज लगेगा

डीसी अरविदपाल सिंह संधू ने बताया कि लोगों की भलाई के लिए यह कैंप लगाया गया है। जबकि अब दूसरा कैंप शुक्रवार को धोबियाना बस्ती में लगाया जाएगा। कैंप में तहसीलदार सुखबीर सिंह बराड़, मार्केट कमेटी के सचिव गुरविदर सिंह, सीनियर कांग्रेसी नेता जयजीत सिंह जोहल भी मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.