मुख्यमंत्री पंजाब मोतिया मुक्त अभियान आज से

लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से पूरे राज्य में 26 नवंबर से मुख्यमंत्री पंजाब मोतिया मुक्त अभियान का शुभारंभ शुक्रवार से होगा।

JagranThu, 25 Nov 2021 10:15 PM (IST)
मुख्यमंत्री पंजाब मोतिया मुक्त अभियान आज से

जासं,बठिडा: मुख्यमंत्री पंजाब चरणजीत सिंह चन्नी की ओर से स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से पूरे राज्य में 26 नवंबर से मुख्यमंत्री पंजाब मोतिया मुक्त अभियान का शुभारंभ शुक्रवार से होगा।

सिविल सर्जन डा. तेजवंत सिंह ढिल्लों ने बताया कि इस अभियान के तहत बठिडा जिले में आंखों की जांच के कैंप लगाते हुए लोगों की आंखों की पूरी जांच की जाएगी। नेत्र विशेषज्ञों द्वारा की जाने वाली इस जांच में मोतियाबिद से पीड़ित पाए जाने वाले व्यक्तियों के जांच के बाद 15 दिन के भीतर मुफ्त आपरेशन भी किए जाएंगे। आपरेशन के लिए चुने जाने वाले मरीजों को जहां आने जाने की सुविधा प्रदान की जाएगी, वहीं रिफ्रेशमेंट भी दी जाएगी। आपरेशन के बाद मरीजों को चश्मे भी मुफ्त दिए जाएंगे। दिसंबर माह के दौरान जिले की हर तहसील में कम से कम एक-एक नेत्र जांच कैंप जरूर लगाया जाएगा, जबकि अभियान 31 दिसंबर तक लगातार जारी रहेगा। डा. तेजवंत सिंह ढिल्लो ने जिला वासियों से अपील कि जब उनके नजदीकी तहसील में नेत्र जांच कैंप लगे तो जरूर अपनी आंखों की जांच करवाएं। चीरा रहित नसबंदी पखवाड़ा चार दिसंबर तक : डा. ढिल्लो सेहत विभाग की तरफ से सिविल सर्जन डा.तेजवंत सिंह ढिल्लों की अध्यक्षता में सिविल सर्जन कार्यालय में चीरा रहित नसबंदी पखवाड़ा मुहिम के अंतर्गत मीटिग का आयोजन किया गया। सिविल सर्जन डा. ढिल्लों ने बताया कि सेहत विभाग की तरफ से चार दिसंबर तक चीरा रहित नसबंदी पखवाड़ा मनाया जा रहा है। पखवाड़े के पहले चरण में लाभार्थियों को पुरुष नसबंदी की जानकारी दी जाएगी और उन्हें इसे अपनाने के लिए तैयार किया जाएगा, जबकि दूसरे चरण में सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

इस पंदरवाड़े के तहत 27 नवंबर तक जागरूकता मुहिम चलाई जाएगी। जागरूकता मुहिम दौरान योग्य लाभार्थियों को नसबंदी के फायदे बताएंगे और साथ ही समुदाय में फैले हुए पुरुष नसबंदी से संबंधित मिथकों और भ्रांतियों को दूर करने के लिए परामर्श करेंगे। उन्होंने बताया कि कोई भी शादीशुदा पुरुष जिसके दो बच्चे हैं, वे सिविल अस्पताल बठिडा, गोनियाना, तलवंडी साबो और रामपुराफूल पहुंच कर नसबंदी का आपरेशन करवा सकता है। आपरेशन करवाने वाले पुरुष को 1100 रुपये का मानभत्ता भी दिया जाएगा और प्रेरित करके लाने वाले वर्कर को 200 रुपये का मान भत्ता दिया जाएगा। इस मौके पर जिला परिवार भलाई अफसर डा. गुरदीप सिंह ने अपील करते हुए कहा कि पुरुष चीरा रहित पंदरवाड़े में अपनी भागेदारी यकीनी बनाएं ताकि बढ़ रही आबादी और काबू पाने में मदद मिल सके। मीटिग में जिला परिवार भलाई अफसर डा. गुरदीप सिंह, डीएमसी डा.रमनदीप सिगला, एसएमओ डा. मनिदरपाल सिंह, आरएमओ डा. मुनीश गुप्ता, मक्खन सिंह, जगतार सिंह बराड़, कुलवंत सिंह, गगनदीप भुल्लर के अलावा पैरा मेडिकल स्टाफ शामिल हुए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.