प्रेमिका ने दस लाख रुपये लेने के बाद बातचीत कर दी बंद, प्रेमी व गांववालों ने दिया धरना

बठिंडा-चंडीगढ़ मुख्य मार्ग पर स्थित गांव बडबर के निवासियों ने रविवार को जाम लगाकर पुलिस प्रशासन व पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी की व रोष धरना दिया।

JagranPublish:Sun, 19 Sep 2021 06:38 PM (IST) Updated:Sun, 19 Sep 2021 06:38 PM (IST)
प्रेमिका ने दस लाख रुपये लेने के बाद बातचीत कर दी बंद, प्रेमी व गांववालों ने दिया धरना
प्रेमिका ने दस लाख रुपये लेने के बाद बातचीत कर दी बंद, प्रेमी व गांववालों ने दिया धरना

जागरण संवाददाता, बरनाला

बठिंडा-चंडीगढ़ मुख्य मार्ग पर स्थित गांव बडबर के निवासियों ने रविवार को जाम लगाकर पुलिस प्रशासन व पंजाब सरकार के खिलाफ नारेबाजी की व रोष धरना दिया।

गांव के रहने वाले दर्शन सिंह ने बताया कि उसका पटियाली की रहने वाली मीनाक्षी से प्रेम प्रसंग था। उसके (प्रेमिका) माता पिता बीमार हो गए। मीनाक्षी ने मदद की गुहार लगाई तो उसने अपनी जमीन बेचकर दस लाख रुपये उधार दे दिए थे ताकि वे दोनों शादी करने के बाद विदेश जाने की व्यवस्था कर सकें। रुपये लेने के बाद मीनाक्षी ने उसका फोन उठाना बंद कर दिया। पीड़ित युवक ने बताया कि मामले को लेकर उन्होंने एसएसपी बरनाला को शिकायत दर्ज करवाई लेकिन पुलिस ने मीनाक्षी के खिलाफ कोई कोई कार्रवाई नहीं की है।

गांव के सरपंच मनदीप सिंह, बलजीत सिंह व अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने बताया कि उनके सहित गांव के कई लोग मामला सुलझाने पटियाला गए थे लेकिन समस्या का कोई हल नहीं हुआ। दूसरी ओर मीनाक्षी ने ही पीड़ित मनदीप के खिलाफ पटियाला पुलिस के पास रिपोर्ट दर्ज करवा दी। इसके बाद से पटियाला पुलिस बार-बार युवक को बुलाकर परेशान कर रही है।

घटनास्थल पर पहुंचकर डीएसपी बरनाला लखवीर सिंह टिवाना व अंडर ट्रेनिग डीएसपी विश्वजीत सिंह मान ने प्रदर्शनकारियों को शांत करवाया। उन्होंने थाना धनौला में रिपोर्ट दर्ज करवाने संबंधी व उस पर जांच करने का भरोसा दिलाकर रोष धरना उठवाया। गांव निवासी गुरमुख सिंह, बलदेव सिंह बब्बर, सुखराज सिंह बब्बर, प्रदीप सिंह, बलवीर सिंह समेत अन्य ग्रामीणों ने कहा कि अगर मनदीप सिंह को न्याय नहीं मिला तो वह अनिश्चितकाल के लिए धरने पर बैठ जाएंगे।