top menutop menutop menu

सड़कों पर यमदूत बनकर घूम रहे बेसहारा पशु

महमूद मंसूरी, बरनाला

सड़कों पर बेसहारा पशु मौत बनकर घूम रहे हैं। नगर कौंसिल लाचार बनकर तमाशा देख रहा है। पशुओं के कहर से किसानों के खेत भी सुरक्षित नहीं हैं। रात के समय बेसहारा पशु किसानों की फसलों को चटकर जाते हैं और किसानों के पास सिवाय चिता के कुछ नहीं रहता। काफी बड़ी संख्या में बेसहारा पशु बरनाला शहर की सड़कों पर घूमते भिड़ते नजर आ रहे हैं व सड़क के बीच बैठे रहते है। दोपहिया वाहन चालकों के लिए यह पशु परेशानी पैदा कर रहे हैं। कई बार बेसहारा पशुओं के झुंड लड़ते-लड़ते लोगों के घरों के बाहर खड़ी गाड़ियों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। अगर कोई इन्हें रोकने का प्रयास करे तो उसकी भी खैर नहीं होती। इन जानवरों के कारण कई लोग सड़क हादसों में अपनी जान से हाथ धो चुके हैं। कइयों ने अस्पतालों में दम तोड़ा है। नगर कौंसिल के पास इन बेसहारा पशुओं के लिए कोई उपयुक्त व्यवस्था नहीं होने के कारण आमजन को परेशानी उठानी पड़ रही है। शाम ढलते ही सड़कों पर घूमने वाले कई बेसहारा जानवर शहर की मुख्य सड़कों के अलावा नेशनल हाईवे पर डेरा जमा लेते है। अधिकारी बस एक ही बात का रट लगाए बैठे हैं कि समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

लोगों की समस्या से ईओ को कोई लेना देना नहीं : नगर कौंसिल के ईओ मनप्रीत सिंह हर बार बेसहारा पशुओं को मनाल गौशाला छोड़ा जा रहा है, कहकर पल्ला झाड़ लेते हैं। वहीं बातचीत के दौरान आज भी वहीं रटा रटाया बयान दे दिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.