सेवा केंद्रों की नई नीतियों के खिलाफ आंदोलन करेंगे संगठन

सेवा केंद्रों की नई नीतियों के खिलाफ आंदोलन करेंगे संगठन

पंजाब सरकार की ओर से श्रमिकों की रजिस्ट्रेशन के लिए लागू की गई नई नीतियों को लेकर ट्रेड यूनियन संगठन संतुष्ट नहीं है। इसको लेकर ट्रेड यूनियन संगठनों में भारी रोष है।

JagranFri, 07 May 2021 11:00 AM (IST)

जासं, अमृतसर: पंजाब सरकार की ओर से श्रमिकों की रजिस्ट्रेशन के लिए लागू की गई नई नीतियों को लेकर ट्रेड यूनियन संगठन संतुष्ट नहीं है। इसको लेकर ट्रेड यूनियन संगठनों में भारी रोष है। मुद्दे को लेकर ट्रेड यूनियन संगठनों के अमृतसर के डीसी और पंजाब के मुख्यमंत्री को पत्र भेजा है। चेतावनी दी गई है कि अगर नीतियों को श्रमिक पक्षीय न बनाया गया तो ट्रेड यूनियन संगठनों का सांझा फ्रंट इस मामले को लेकर राज्य स्तरीय आंदोलन शुरू किया जाएगा। मुद्दे को लेकर हिद मजदूर सभा, आल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस और उसारी मजदूर एकता यूनियन ने संयुक्त बैठक करके रणनीति तैयार की है।

ट्रेड यूनियन हिद मजदूर सभा और एटक के नेताओं कुलवंत सिंह बावा और अमरजीत सिंह आसल ने कहा कि पहले वर्करों का श्रम विभाग में पंजीकरण विभाग की ओर से ही सीधा पोर्टल पर किया जाता था। परंतु अब यह सुविधा सरकारी सेवा केंद्रों के माध्यम से शुरू की है। इसमें वर्करों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वर्करों को अपनी सदस्यता का नवीकरण करने के लिए आनलाइन फीस ट्रांजेक्शन करनी पड़ती है। वहीं वर्करों को रजिस्ट्रेशन रिन्यू करने के लिए आनलाइन समय भी लेना पड़ा है। वर्करों को कंप्यूटर आदि की जानकारी नही होती है। अगर वह किसी कंप्यूटर सेंटर से भी मदद लेते है तो उनकी भारी लूट सिर्फ समय लेने के लिए ही की जाती है। उन्होंने कहा कि जिस तरह पहले सेवा केंद्रों और विभाग की ओर से मौके पर ही बिना कोई टाइम लिए पैसे नगद जमा करवाए जाते थे, उसी तरह इन वर्करों के लिए सुविधा शुरू की जाए।

उन्होंने कहा कि अनपढ़ वर्करों के लिए सरकार को नियम आसान करने चाहिए। परंतु सरकारी सेवा केंद्रों के माध्यम से इन नियमों को पेचीदा बना कर वर्करों के लिए नई नई मुश्किलें पैदा की जा रही है। इस के चलते राज्य में हजारों वर्कर अपने नामों और सदस्यता को न तो रिन्यू कर पा रहे है और न ही नया पंजीकरण करवा पा रहे है। मामले को लेकर ट्रेड यूनियन संगठन प्रत्येक जिले के डीसी को ज्ञापन सौंपेगे और इस के बाद राज्य भर में डीसी कार्यालयों के बाहर रोष प्रदर्शन किए जाएंगे। इस अवसर पर संगठन के नेता जसविदर कौर, अकविदर कौर, जगतार सिंह आदि भी मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.