डेंटल कालेज अस्पताल में रजिस्टर पर हाजिरी लगाकर गायब हुई तीन स्टाफ नर्स, प्रिंसिपल बोली होगी कार्रवाई

मेडिकल शिक्षा व खोज विभाग के मंत्री डा. राजकुमार वेरका के गृह जिले में सरकारी डेंटल कालेज का हाल बेहाल है।

JagranSun, 14 Nov 2021 08:00 AM (IST)
डेंटल कालेज अस्पताल में रजिस्टर पर हाजिरी लगाकर गायब हुई तीन स्टाफ नर्स, प्रिंसिपल बोली होगी कार्रवाई

जागरण संवाददाता, अमृतसर: मेडिकल शिक्षा व खोज विभाग के मंत्री डा. राजकुमार वेरका के गृह जिले में सरकारी डेंटल कालेज का हाल बेहाल है। यहां का स्टाफ रजिस्टर में हाजिरी दर्ज कर गायब हो जाता है। अस्पताल प्रशासन को भी इसकी जानकारी नहीं होती। शनिवार को इस अस्पताल की तीन नर्सिग सिस्टर गायब पाई गई। हालांकि रजिस्टर पर इनकी हाजिरी दर्ज थी।

दरअसल, फोरएस चौक स्थित डेंटल कालेज में शनिवार को आरटीआइ कार्यकर्ता वरुण सरीन पहुंचे। वह अपने परिचित के दांतों की जांच करवाने आए थे। नर्सिग स्टाफ के कमरे में पहुंचे तो वहां कोई नहीं था। उन्होंने दूसरे कमरे में बैठे डाक्टरों से पूछा तो जवाब मिला कि उन्हें नहीं पता। वरुण के अनुसार उन्होंने प्रिसिपल कार्यालय के एक कर्मचारी को विश्वास में लेकर हाजिरी रजिस्टर देखा तो उसमें स्टाफ नर्स दलजीत कौर, बलविदर कौर और मीरा रानी की उपस्थिति दर्ज थी।

वरुण ने कालेज की प्रिसिपल डा. जीवनलता से मिलकर जानकारी दी। डा. जीवनलता ने नर्सिग हेड से पूछा तो उन्होंने जवाब दिया कि सुबह तो तीनों आई थीं, पर अब पता नहीं कहां हैं? इसी बीच एक नर्स बलविंदर कौर करीब साढ़े ग्यारह बजे पिछले दरवाजे से अंदर आ गई। वरुण ने उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि वह सुबह की ड्यूटी पर आई हुई हैं। वह बाहर से सामान लेने गई थीं। सरीन ने उन्हें कहा कि वह बिना यूनिफार्म के ही डयूटी पर आई है। इस पर वह स्पष्ट जवाब नहीं दे सकी। फिलहाल कालेज की प्रिसिपल जीवनलता ने इन लोगों पर कार्रवाई करने का भरोसा दिया है। वरुण ने मेडिकल एवं रिसर्च मंत्री डा. राज कुमार वेरका को इस संबंधी लिखित शिकायत भी कर दी है और मांग की है कि इस पर सख्त कार्रवाई की जाए। पहले भी गायब रहीं थी स्टाफ नर्से

वरुण सरीन का कहना है कि डेंटल अस्पताल की स्टाफ नर्से पिछले काफी समय से रोजाना ड्यूटी से गैरहाजिर रहती हैं। इनकी हाजिरी सुबह रजिस्टर में लगी रहती है। उनका कहना है कि वह पछले कई दिनों से डेंटल कालेज में आ रहे हैं। ज्यादातर स्टाफ गायब रहता है। शनिवार को सुबह 10.25 बजे डेंटल कालेज पहुंचे तो तीन नर्सिग सिस्टर की हाजिरी लगी थी, पर वे वहां नहीं थीं। स्टाफ नर्स मीरा कुमारी की इंचार्ज एसोसिएट प्रोफेसर व हेड डा. निरपजीत कौर ने कहा कि उन्होंने सुबह से उसे देखा नहीं। इसी तरह स्टाफ नर्स दलजीत कौर और बलविदर कौर ढिल्लों भी ड्यूटी पर नहीं मिली। अटेंडेंस रजिस्टर पर थी आठ लोगों की हाजिरी, इनमें से तीन गैर हाजिर

अटैंडेंस रजिस्टर पर करीब आठ स्टाफ सदस्यों की हाजिरी लगाई जाती है। इसमें एक स्टाफ की ट्रांसफर हो गई है, जबकि पांच लोगों की हाजिरी लगी हुई थी। एक ने सीएल लीव ले रखी थी और की हाजिरी ही नहीं थी। पांच स्टाफ सदस्यों में दलजीत कौर, बलविदर कौर और मीरा रानी की हाजिरी लगी थी, लेकिन वह गैरहाजिर थी। प्रिसिपल ने माना- गायब थीं तीनों

इस सारे घटनाक्रम के बाद प्रिसिपल डा. जीवन लता ने माना कि वाकई ही यह तीनों गायब थीं। यह गलत है। वह स्टाफ सदस्यों के हेड आफ डिपार्टमेंट से इसका कारण पूछेंगी और लिखित शिकायत आने के बाद अगली कार्रवाई भी की जाएगी। नहीं सुधर रहे सरकारी कर्मचारी

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सरकारी कर्मचारियों व अधिकारियों को समय पर कार्यस्थल में पहुंचने के आदेश दिए थे, पर स्टाफ लेटलतीफ है और हाजिरी लगाकर गायब भी हो रहा है। इससे पूर्व 25 सितंबर को तरसिक्का स्थित सरकारी अस्पताल में के दो डाक्टरों, दो फार्मासिस्टों व एक स्टाफ नर्स की हाजिरी दर्ज थी। ये कर्मी सेहत केंद्र में पहुंचे ही नहीं थे। जांच में उजागर हुआ कि इन्होंने 24 सितंबर को ड्यूटी आफ करने के बाद 25 दिन की हाजिरी भी रजिस्टर में दर्ज की थी। इन कर्मचारियों से सिविल सर्जन ने जवाबतलबी की थी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.