आर्ट गैलरी में नाटक भुक्ख अग्ग है का मंचन

मदन मोहन मालवीय रोड स्थित इंडियन अकादमी आफ फाइन आ‌र्ट्स (आइएएफए) आर्ट गैलरी में नाटक भुक्ख अग्ग है का मंचन किया गया।

JagranFri, 03 Dec 2021 08:03 PM (IST)
आर्ट गैलरी में नाटक भुक्ख अग्ग है का मंचन

जागरण संवाददाता, अमृतसर : मदन मोहन मालवीय रोड स्थित इंडियन अकादमी आफ फाइन आ‌र्ट्स (आइएएफए) आर्ट गैलरी में शुक्रवार को नाटक 'भुक्ख अग्ग है' का मंचन किया गया। आर्ट गैलरी के सचिव डा. अरविदर सिंह चमक ने बताया कि ये नाटक कृष्ण बलदेव वैद्य के हिदी नाटक का पंजाबी अनुवाद है, जिसे डायरेक्टर रजिदर सिंह ने निर्देशित किया है। सहायक डायरेक्टर के तौर पर अमिता शर्मा ने काम किया है। दस्तक थिएटर की टीम द्वारा पेश किए गए नाटक में बताया गया है कि एक अध्यापिका एक छात्रा को भूख के विषय पर लेख लिखने संबंधी कहती है। छात्रा अमीर घर से होने की वजह से उक्त लेख को लिखने में असमर्थ रहती है, क्योंकि उसे भूख का तजुर्बा नहीं है। उक्त छात्रा के अभिभावक बाहर से कुछ भिखारियों को पकड़कर लाते हैं और उनसे काम करवाने के बाद न ही कोई पगार देते हैं और न ही कुछ खाने के लिए देते हैं। इससे नाराज होकर भिखारी गुस्से में आकर बच्चे के अभिभावकों को बेहोश करके खाने-पीने का सामना छीनकर ले जाते हैं। नाटक के माध्यम से भूख को दर्शाया गया है कि यदि हक न मिले, तो उसे छीन भी लिया जाता है। आर्ट गैलरी के चेयरमैन रजिदर मोहन सिंह छीना मुख्य मेहमान व नई दिल्ली से लेखक किशोर ठुकराल विशेष मेहमान के तौर पहुंचे, जिन्होंने नाटक पेश करने वाले कलाकारों की भरपूर प्रशंसा की। नाटक में ही स्वर्गीय गुरमीत बावा व कुलवंत सिंह सूरी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.