पांच माह बाद खुले स्कूल, सरकारी में 50 और निजी में 40 प्रतिशत आए बच्चे

सोमवार को लगभग पांच माह बाद जिले के सरकारी एडिड व निजी स्कूल 10वीं 11वीं व 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों से गुलजार हो गए।

JagranTue, 27 Jul 2021 01:30 AM (IST)
पांच माह बाद खुले स्कूल, सरकारी में 50 और निजी में 40 प्रतिशत आए बच्चे

अखिलेश सिंह यादव, अमृतसर: कोरोना की दूसरी लहर के आतंक से उबरते हुए सोमवार को लगभग पांच माह बाद जिले के सरकारी, एडिड व निजी स्कूल 10वीं, 11वीं व 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों से गुलजार हो गए। हालांकि पहले दिन स्कूलों में पहुंचने वाले विद्यार्थियों की संख्या कम दर्ज की गई। स्कूलों में विद्यार्थियों के प्रवेश से पूर्व थर्मल स्क्रीनिग, शारीरिक दूरी के साथ साथ हाथों को सैनिटाइजर किया गया।

खास बात यह रही कि स्कूलों में आनलाइन व आफलाइन पढ़ाई एक साथ हुई। इस दौरान टीचरों ने स्कूल में कक्षा के दौरान गूगल मीट व जूम क्लास में खुद को लाग इन रखा। कक्षा में जो-जो पढ़ाया गया, वे बच्चे घर में बैठकर भी देखते रहे। स्कूलों में नियमों अनुसार एक कक्षा में 20 से अधिक स्टूडेंट्स को नहीं बिठाया गया। एक बेंच पर एक ही स्टूडेंट रहा। जिन कक्षाओं में अधिक बच्चे थे, उन्हें दो या अधिक सेक्शन में बांट दिया गया। स्कूलों ने दसवीं और 11वीं-12वीं के बच्चों की टाइमिग अलग रहे। दसवीं के स्टूडेंट्स जहां 8.30 बजे पहुंचे, वहीं 11-12वीं के स्टूडेंट्स नौ बजे बुलाए गए।

सरकारी स्कूलों में 50 प्रतिशत और निजी स्कूलों में 40 प्रतिशत के करीब विद्यार्थी पहुंचे। डीएवी पब्लिक स्कूल में 100, भवंस एसएल स्कूल में 135, डीएवी इंटरनेशनल में 90, अशोका स्कूल में 50, नवजोत स्कूल में 80 व प्रभाकर स्कूल में 50 विद्यार्थी पहुंचे। बारिश और पहला दिन होने के कारण भी सरकारी स्कूलों में गिनती भी प्रभावित रही।

रेकोग्नाइजड एफीलिएटिड स्कूल एसोसिएशन के प्रदेश महासचिव सुजीत शर्मा बबलू ने कहा कि निजी स्कूलों ने दसवीं, 11वीं व 12वीं की कक्षाएं खुलने से काफी राहत हुई है। कक्षा में पढ़ाई आसान हो जाएगी। साथ ही विद्यार्थी कोरोना से बचाव के लिए पूरे नियम अपना रहे है। पहले दिन करीब 40 से 50 प्रतिशत बच्चे निजी स्कूलों में पहुंचे हैं। करीब 700 स्कूलों में विद्यार्थियों ने दी दस्तक

जिले में सरकारी हाई व सेकेंडरी स्कूलों की गिनती 225, एडिड स्कूल्ज 35, प्राइवेट पंजाब स्कूल एजुकेशन बोर्ड से मान्यता प्रापत हाई व सेकेंडरी स्कूल 375, सीबीएसई से मान्यता प्राप्त स्कूल 50, आइसीएसई बोर्ड से मान्यता प्राप्त नौ स्कूलों में विद्यार्थियों ने दस्तक दी। स्कूल संचालकों ने विद्यार्थियों से कहा कि वह आन लाइन एजुकेशन के जरिये भी अपनी पढ़ाई जारी रख सकते हैं। सरकारी स्कूलों में हुई पीटीएम

पहले दिन सरकारी स्कूलों में कक्षाओं के साथ पैरेंट्स-टीचर मीटिग (पीटीएम) रही। शिक्षा विभाग की तरफ से सोमवार व मंगलवार को पेरेंट्स मीटिग बुलाई गई ताकि बच्चों को उनका स्टडी रिकार्ड दिया जा सके और सहमति पत्र पर उनके हस्ताक्षर भी लिए जा सकें। डीईओ ने पीटीएम का लिया जायजा

डीईओ सेकेंडरी सतिदरबीर सिंह ने कहा कि उन्होंने सरकारी सीसे स्कूल हेर, पुतलीघर व माल रोड स्कूल में पीटीएम का जायजा लिया। इस दौरान सभी सरकारी स्कूलों में 50 से 60 प्रतिशत विद्यार्थी 10वीं, 11वीं व 12वीं कक्षा के पहुंचे थे। उम्मीद है कि आगे और संख्या बढ़ेगी। अभिभावकों ने भी स्कूल खुलने पर खुशी जताई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.