पाइटेक्स मेले का आगाज, पहले दिन उमड़े 15 हजार लोग, जानें मेले में आए अफगानी कारोबार क्या बोले..

रणजीत एवेन्यू की दशहरा ग्राउंड में वीरवार को 15वें इंटरनेशनल ट्रेड एक्सपो पाइटेक्स का आगाज हुआ।

JagranPublish:Fri, 03 Dec 2021 07:00 AM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 07:00 AM (IST)
पाइटेक्स मेले का आगाज, पहले दिन उमड़े 15 हजार लोग, जानें मेले में आए अफगानी कारोबार क्या बोले..
पाइटेक्स मेले का आगाज, पहले दिन उमड़े 15 हजार लोग, जानें मेले में आए अफगानी कारोबार क्या बोले..

जासं, अमृतसर: रणजीत एवेन्यू की दशहरा ग्राउंड में वीरवार को 15वें इंटरनेशनल ट्रेड एक्सपो पाइटेक्स का आगाज हुआ। यह छह दिसंबर तक जारी रहेगा। इसका उद्घाटन उप मुख्यमंत्री ओम प्रकाश सोनी ने किया। पीएचडी चैंबर आफ कामर्स की तरफ से पंजाब सरकार के सहयोग से लगाए गए इस मेले के पहले ही दिन लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। कोरोना के कारण करीब पौने दो साल बाद लगे इस मेले में पहले ही दिन 15 हजार से अधिक लोग पहुंचे जिन्होंने अलग-अलग स्टालों पर जाकर शापिग की। पाइटेक्स मेले में आठ हैंगर लगाए गए है, जिसमें 450 के करीब स्टाल लगाए गए हैं। थाइलैंड के व्यापारियों ने कपड़ा, तुर्की के व्यापारियों ने लाइट लैंप, अफगानिस्तान के व्यापारियों ने ड्राइफ्रूट, पत्थर की मूर्तियां, ईरान के ड्राई फ्रूट, शाल व मिस्त्र के व्यापारियों ने फर्नीचर व अलग-अलग चीजों के स्टाल लगाए गए। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर ने पूरे हैंगर में ही अपनी अलग-अलग आइटमों का प्रदर्शन किया। इस मेले में तुर्की के लाइट लैंप और अफगानिस्तान के व्यापारियों की तरफ से लगाई गई पत्थर की मूर्तियों ने लोगों को काफी आकर्षित किया। अभी वीरवार को पहला दिन था, जिसके चलते अभी कई स्टाल लगाए जा रहे थे। शुक्रवार को सभी स्टाल लगकर तैयार हो जाएंगे। एमएसएमई यूनिट के 40 स्टाल लगे

पाइटेक्स मेले में एमएसएमई यूनिट के 40 लोकल स्टाल भी लगाए गए हैं। इसमें लेडीज शाल, स्टाल्स, लेड़ीस सूट्स, जेंटस रेडीमेड्स व अलग-अलग कपड़े की आइटमें शामिल हैं। इनके अलावा लोकल आर्गेनिक हल्दी, शहद, शाल, धागा, आचार, मुरब्बे के अलावा फर्नीचर आदि के कई स्टाल लगाए गए है। इन स्टालों पर भी लोगों की काफी भीड़ देखने को मिली। टेक्सटाइल मेनुफैक्चर एसोसिएशन के आनरेरी सचिव राजीव खन्ना का कहना था कि पहले ही दिन रिकार्डतोड़ लोग इस मेले में पहुंचे। उन्होंने कहा कि इस बार लोगों में काफी क्रेज देखने को मिल रहा है। कोरोना के बाद डेढ़ साल के बाद यह मेला लगा है, जिसके चलते लोग इसमें ज्यादा उत्साह दिखा रहे हैं।

अफगानिस्तान के व्यापारियों का दर्द: युद्ध से पीछे जा रहा है देश, बच्चे तक बेचने पड़ रहे मोदी जी पाक के साथ शुरू करें व्यापार

रंजीत एवेन्यू की दशहरा ग्राउंड में लगाए गए पाइटेक्स मेले में पहुंचे अफगानिस्तान के व्यापारियों ने देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से पाक के साथ व्यापार खोलने की अपील की है। उन्होंने कहा कि पाक के साथ व्यापार न होने के कारण उनका काफी माल पाकिस्तान में अटका हुआ है, जिससे उन्हें नुकसान हो रहा है। अफगानिस्तान के व्यापारी हामिद का कहना है कि उन्हें प्रधानमंत्री मोदी पर काफी भरोसा है, क्योंकि उन्होंने अफगानिस्तान में उनकी काफी मदद की है। वहां युद्ध के बाद हालात बदतर हो चुके हैं। उन्हें अपना पेट पालने के लिए अपने बच्चों को भी बेचना पड़ रहा है। दो वक्त का खाना भी नसीब नहीं हो है। अब पाकिस्तानी इमीग्रेशन अधिकारी मरीजों की फेंक देते हैं दवा

अफगान के बिजनेसमैन फरहाद का कहना है कि अफगानिस्तान में युद्ध होने के कारण भारत व पाक के रिश्ते खराब होने का असर उन पर भी पड़ रहा है। पहले जब उनके किसी मरीज को भारत लाया जाता था तो उस समय पाक इमीग्रेशन अधिकारियों का काफी सहयोग रहता था। अब हालात बदल चुके हैं। अब जब भी वह कोई मरीज लेकर भारत आते हैं तो उस मरीज की दवा को इमीग्रेशन अधिकारी वहीं पर फेंक देते हैं, जिससे उन्हें काफी नुक्सान झेलना पड़ता है। उन्होंने भारत सरकार से अपील की है कि भारत को पाक के साथ अच्छे संबंध बनाने की पहल करनी होगी ताकि उन्हें आने जाने में सुविधा मिल सके।

पाक में फंसा है काफी सामान, सरकार से मदद की गुहार

मोहम्मद अफगान का कहना था कि एजुकेशन ही सबसे जरूरी है। वहां पर शिक्षा की कमी है। अगर यह सही हो जाती है तो आर्थिक रूप से भी सब कुछ ठीक हो जाएगा। वार के कारण अफगानिस्तान 60 साल पीछे चला गया है। उन्होंने कहा कि पाक के साथ ट्रेड बंद होने के कारण उनका काफी माल पाकिस्तान में फंसा हुआ है। भारत पाक को व्यापार दोबारा खोलना चाहिए, ताकि उनका फंसा माल उनके पास आ सके। उन्होने कहा कि उन्हें भारत सरकार से काफी उम्मीदे है, क्योंकि मुसीबत के समय उन्होंने उनकी काफी मदद की है। उनका बाकी देशों से भी अपील की है कि इस मामले में अफगानिस्तान सरकार का साथ दिया जाए।