बाबा नानक के उपदेश से हल हो सकती हैं सभी समस्याएं : वीसी संधू

बाबा नानक के उपदेश से हल हो सकती हैं सभी समस्याएं : वीसी संधू

। श्री गुरु नानक देव जी की शिक्षाएं आज भी सार्थक हैं उन्हीं के जरिए बड़ी से बड़ी समस्या का हल निकाला जा सकता है।

Publish Date:Tue, 01 Dec 2020 06:23 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, अमृतसर

श्री गुरु नानक देव जी की शिक्षाएं आज भी सार्थक हैं, उन्हीं के जरिए बड़ी से बड़ी समस्या का हल निकाला जा सकता है। यह शब्द गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी (जीएनडीयू) के वाइस चांसलर प्रो. जसपाल सिंह संधू ने श्री गुरु नानक देव जी के 551 नें प्रकाश पर्व को समर्पित अंतरराष्ट्रीय वेबिनार को संबोधित करते हुए कहे।

'श्री गुरु नानक देव: अंतरधर्म की सूझ व सह अस्तित्व' विषय पर करवाए गए वेबिनार में देश-विदेश से माहिर शामिल हुए। जिन्होंने श्री गुरु नानक देव जी की शिक्षाओं और उदासियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान वक्ताओं ने गुरु साहिब की शिक्षाओं को देश-विदेश में पहुंचाने का प्रण भी लिया। उन्होंने बताया कि किस तरह गुरु जी ने अपने विचारों के साथ वहम और भ्रम का विरोध कर लोगों को सही मार्ग दिखाया।

वेबिनार की शुरुआत में वीसी प्रो. संधू ने कहा कि गुरु नानक देव जी ने सत्य व नैतिकता को विशेष महत्व दिया। धर्म के प्रति सोच रखने के बजाय सभी को प्यार व अमन के साथ रहने का संदेश दिया। वहीं न्यूयार्क से वेबिनार में जुड़े प्रो. गुरिदर सिंह मान ने कहा कि गुरु जी ने हर धर्म के साथ संवाद रचा और एकता का संदेश मजबूत किया। वहीं यूनेस्को के पूर्व राजदूत चिरजीव सिंह ने कहा कि ऐसे विषयों पर बहुत सारे कार्यक्रम आयोजित होते हैं जो बहुत ही अच्छा प्रयास है। लेकिन इन प्रयासों के सार्थक परिणाम तभी हासिल होते हैं, जब पूरी ईमानदारी के साथ प्यार व भाईचारे को बढ़ाने के लिए कार्यक्रम तय हो सकें। उन्होंने कहा कि गुरु जी ने दूसरे के प्रति प्यार वाला व्यवहार अपनाने का संदेश दिया है। ताकि नफरत की दीवारों को खत्म किया जा सके।

इसके अलावा दिल्ली से प्रो. जगबीर सिंह ने भी गुरु नानक देव जी की ओर से अपने जीवन काल में मानवता की भलाई के लिए किए अनेक प्रयासों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि गुरु साहिब की शिक्षा को सबसे पहले अपने जीवन में अपनाने की जरूरत है। तभी हम उनका संदेश दुनिया भर के लोगों तक पहुंचा सकते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.