डीईओ सेकेंडरी रिटायर, डीडीओ पावर नदारद, कर्मियों का वेतन अटका

ड्राइंग एंड डिसबर्सिग आफिसर (डीडीओ) पावर के बिना जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी कार्यालय का स्टाफ वेतन को तरस रहा है।

JagranTue, 16 Nov 2021 11:30 PM (IST)
डीईओ सेकेंडरी रिटायर, डीडीओ पावर नदारद, कर्मियों का वेतन अटका

अखिलेश सिंह यादव, अमृतसर

ड्राइंग एंड डिसबर्सिग आफिसर (डीडीओ) पावर के बिना जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी कार्यालय का स्टाफ वेतन को तरस रहा है। 31 अक्टूबर को जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी सतिदरबीर के रिटायर होने के बाद शिक्षा विभाग ने डीडीओ पावर दूसरे अधिकारी को शिफ्ट नहीं की है। इस कारण इस कार्यालय में कार्यरत 38 के करीब कर्मचारियों का वेतन जिला खजाना विभाग में फंस गया है। इसके अलावा 31 अक्टूबर को रिटायर होने वाले कर्मियों की अंतिम अदायगी भी लटक गई। चार नवंबर को बिना वेतन के मुलाजिमों की दीवाली भी बीत गई। ऐसे में मुलाजिम मायूसी हैं। खास बात यह है कि 31 अक्टूबर को रिटायर हुए जिला शिक्षा विभाग सेकेंडरी मुखी का आखिरी वेतन भी डीडीओ पावर शिफ्ट न होने के कारण नहीं निकल पाया है।

गौर हो कि अक्टूबर के अंतिम सप्ताह में मिनिस्ट्रियल स्टाफ की कलम छोड़ हड़ताल के कारण भी वेतन खजाने से नहीं निकल पाया। जिस कारण मुलाजिमों की दीवाली बिना वेतन के ही गुजरी है। उधर, 31 अक्टूबर को खाली हुए जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी पद को पंजाब सरकार स्कूल शिक्षा विभाग अभी तक भरने में विफल रहा है। 15 दिन से अधिक का समय बीत चुका है। इसके बावजूद जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी की पोस्ट रिक्त है, जिसके कारण स्कूलों में रिटायर हुए कई अध्यापकों, हेड मास्टरों व प्रिसिपलों की अंतिम अदायगी रुक गई है। इससे पहले शिक्षा विभाग अधिकारी के रिटायर होने के बाद उनकी डीडीओ पावर जूनियर अधिकारी को शिफ्ट कर देता था, पर इस बार यह प्रक्रिया नहीं अपनाई गई। एक-दो दिन में डीडीओ पावर मिलने की संभावना

डिप्टी डीईओ सेकेंडरी हरभगवंत सिंह ने कहा कि डीडीओ पावर शिफ्ट करने की प्रक्रिया चल रही है। एक-दो दिन में डीडीओ पावर मिलने की संभावना है। उसके बाद तनख्वाह मुलाजिमों के खाते में आ जाएगी। कई अधिकारी लगा रहे डीईओ सेकेंडरी बनने की दौड़

पंद्रह दिन से अधिक समय से खाली डीईओ सेकेंडरी के पद को पाने के लिए कई अधिकारी दौड़ लगा रहे है। इनमें सबसे आगे जिला शिक्षा अधिकारी एलिमेंट्री तरनतारन राजेश शर्मा का नाम आगे चल रहा है। वही इससे पहले डीईओ एलिमेंट्री अमृतसर के रूप में काम कर चुके जुगराज सिंह रंधावा, डिप्टी डीईओ अमृतसर के रूप में काम कर चुकी दलजिदर कौर, वर्तमान डिप्टी डीईओ सेकेंडरी हरभगवंत सिंह व मूल रूप से तरनतारन से संबंध रखने वाले हरपाल सिंह भी इस पद को पाने में दिलचस्पी दिखा रहे है। इसके अलावा कई जूनियर प्रिसिपल भी अपने आपको इस पद के लिए आंक रहे है। दफ्तरी अमले का ब्यौरा

कुल 38

डीईओ सेकेंडरी रिटायर्ड - 1

डिप्टी डीईओ सेकेंडरी - 1

सुपरिंटेंडेंट - 2

क्लर्क जूनियर व सीनियर सहायक - 22

सी व डी श्रेणी कर्मचारी - 12

31 अक्टूबर को रिटायर हुए हेड मास्टरों, अध्यापकों व अन्य की अंतिम अदायगी रुक गई। डीडीओ पावर धारक व्यक्ति ही इन कागजात पर हस्ताक्षर करने के योग्य होता है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.