गुडविल लंच को महिला डाक्टरों और नेत्रियों ने सराहा, भागीदारी से एकजुटता का आह्वान

कोरोना योद्धाओं की हौसला अफजाई करने के मकसद से दैनिक जागरण ने सलाम जिदगी के तहत गुडविल लंच पहल का आगाज किया है।

JagranMon, 21 Jun 2021 10:00 AM (IST)
'गुडविल लंच' को महिला डाक्टरों और नेत्रियों ने सराहा, भागीदारी से एकजुटता का आह्वान

जासं, अमृतसर: कोरोना मरीजों, इस वायरस को मात देने वालों और लोगों की जान बचाने में जुटे कोरोना योद्धाओं की हौसला अफजाई करने के मकसद से दैनिक जागरण ने सलाम जिदगी के तहत गुडविल लंच पहल का आगाज किया है। सकारात्मकता का विस्तार करने के मकसद से सलाम जिदगी अभियान के लिए शहर की महिलाएं अपने घर में एक दिन का भोजन बनाकर हमें देंगी। यही होगा गुडविल लंच यानी सदभावना भोज। इस हम कोरोना मरीजों के साथ-साथ कोरोना योद्धाओं तक पहुंचाएंगे और साथ ही साथ बच्चे अपने छोटे-छोटे हाथों से ग्रीटिग्स कार्ड बनाकर अपनी शुभकामनाएं भेजेंगे। 14 जून को कोरोना से जूझ रहे लोगों के स्वस्थ होने की कामना और इस महामारी में मारे गए लोगों की आत्मिक शांति के लिए देश भर के लोगों ने दो मिनट का मौन धारण कर प्रार्थना की थी। इस बार कोरोना मरीजों, इस वायरस को मात देने वालों और लोगों की जान बचाने में जुटे कोरोना योद्धाओं की हौसला अफजाई करने के मकसद से दैनिक जागरण ने सलाम जिदगी के तहत गुडविल लंच पहल का आगाज किया है। इसके तहत कोविड मरीजों व कोरोना योद्धाओं को एक दिन लंच मुहैया करवाया जाना है। इसमें सभी की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए शहर की महिला डाक्टरों और नेत्रियों ने आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि इस इंसानियत धर्म के लिए सभी एकजुटता का प्रमाण दें। वहीं बच्चों में भी उत्साह पाया जा रहा है और उन्होंने अपनी शुभकामनाएं ग्रीटिंग कार्ड के जरिए भेजने की तैयारी शुरू कर दी है। भोजन के साथ जब नन्हे हाथों से बने ग्रीटिग कार्ड के माध्यम से संक्रमित मरीज व कोरोना योद्धाओं का मनोबल बढ़ाएंगे, तो वे महामारी के साथ बहादुरी से लड़ेंगे। महामारी से संक्रमित लोगों व उनके पारिवारिक सदस्यों के लिए ग्रीटिग के साथ-साथ भोजन पहुंचाने वाला अभियान प्रशंसनीय और प्रेरणादायक है।

ममता दत्ता, पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रधान, पंजाब खादी-ग्राम उद्योग बोर्ड की चेयरपर्सन व पार्षद दैनिक जागरण की गुडविल लंच पहल अस्पतालों के साथ-साथ होम क्वारंटाइन मरीजों के लिए वरदान साबित होगी। इस समय हर व्यक्ति अपने ही हित में सोच रहा है। इस बीच दैनिक जागरण ने संक्रमितों के साथ-साथ कोरोना योद्धाओं के लिए काम करके समाज में एक मिसाल पेश करने की प्रयास किया है।

जतिदर सोनिया, जिला कांग्रेस कमेटी की प्रधान व पार्षद कोविड-19 महामारी के चलते देश व समाज में हर तरफ दहशत फैली हुई है। इसने हर किसी को चितित कर रखा है, क्योंकि समाज में हम बेगानों से क्या अपनों के साथ भी मिलने से झिझक रहे हैं। दैनिक जागरण ने समय-समय पर देश व समाज को एकता और अखंडता का संदेश देने का प्रयास किया है, जोकि जरूरी है।

मीनू सहगल, भाजपा महिला मोर्चा की उपाध्यक्ष व पूर्व पार्षद कोविड-19 की महामारी के संक्रमण से पीड़ित लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करना इंसानियत धर्म है। जरूरतमंद लोगों तक भोजन पहुंचाना का एक ऐसा कर्म है, जो परमात्मा को प्रसन्न करने के बराबर है। दैनिक जागरण परिवार के प्रयास में हर नागरिक को शामिल होना चाहिए, जोकि सराहनीय है।

संध्या सिक्का, नेत्री विपक्षी दल, नगर निगम सलाम जिदगी के तहत दैनिक जागरण द्वारा गुडविल लंच की पहल के तहत अस्पतालों के साथ-साथ होम क्वारंटाइन संक्रमितों व पीड़ित लोगों तक भोजन व खुशहाली की शुभकामनाएं भेजना प्रशंसनीय है। कोविड-19 की महामारी से निपटने के लिए समाज का एकजुट होना बेहद जरूरी है और एक दूसरे की मदद करना भी लाजमी है।

सुनीता रानी, पार्षद कोरोना संक्रमित मरीजों और उनके परिवारों तथा फ्रंट लाइन वारियर्स को दैनिक जागरण द्वारा खाना पहुंचाने की मुहिम सराहनीय है। कोरोना वायरस ने हमें बहुत पीछे धकेल दिया है। कई लोग ऐसे भी हैं जिनका पूरा परिवार संक्रमित होकर अस्पतालों में उपचाराधीन है। ऐसे लोगों को भोजन की व्यवस्था करके दैनिक जागरण ने सराहनीय प्रयास किया है।

- डा. शालू अग्रवाल, नेत्र रोग विशेषज्ञ, सिविल अस्पताल जरूरतमंदों की सहायता करना पुण्य का कार्य है। यह इंसानियत धर्म भी है। दैनिक जागरण ने संकटकाल में अपनी कलम की मदद से लोगों को जहां जागरूक किया, वहीं अब समाज कल्याण के लिए गुडविल लंच योजना शुरू की है। इससे लोगों को लाभ मिलेगा और सभी को भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।

डा. जसविदर कोरोना काल में बहुत से लोग आर्थिक संकट में घिर गए। कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें दो वक्त की रोटी के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ी। आज जरूरत है जरूरतमंदों की सेवा करने की। दैनिक जागरण का प्रयास सराहनीय है। लोग इससे प्रेरणा लें और भागीदारी दिखाएं।

- डा. चेतना शर्मा, सरकारी मेडिकल कालेज अमृतसर कोरोना महामारी से अब भी बहुत लोग लड़ रहे हैं। फ्रंट लाइन वारियर्स भी अपनी जान की परवाह किए बगैर काम कर रहे हैं। दैनिक जागरण द्वारा शुरू किए गए अभियान के तहत घर पर खाना बनाकर देने के लिए महिलाएं आगे आ रही हैं। मरीजों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिए जागरण के आह्वान पर बच्चों ने भी पहल की है। यह सराहनीय प्रयास है।

- डा. शरणजीत कौर, डिप्टी डायरेक्टर डेंटल कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए सामूहिक प्रयास जरूरी है। लोग मास्क पहनें और शारीरिक दूरी के नियम का पालन करें। इस संकट काल में दैनिक जागरण ने जो मुहिम शुरू की है वह काबिलेतारीफ है। मरीजों को घर का बना हुआ खाना परोसा जाएगा। निश्चित ही इससे मरीजों को आत्मबल मिलेगा।

डा. जैसमीन नंदा

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.