मई में आक्रामक था कोरोना, जून में पस्त

कोरोना वायरस धीरे—धीरे कमजोर पड़ रहा है। जून महीने के 17 दिनों में 1523 संक्रमित रिपोर्ट हुए हैं

JagranFri, 18 Jun 2021 04:00 PM (IST)
मई में आक्रामक था कोरोना, जून में पस्त

जासं, अमृतसर :

कोरोना वायरस धीरे—धीरे कमजोर पड़ रहा है। जून महीने के 17 दिनों में 1523 संक्रमित रिपोर्ट हुए हैं, जबकि इस अवधि में 88 संक्रमितों की मौत हुई। मई माह के पहले 17 दिनों की तुलना करें तो 1 से 17 मई तक 8167 संक्रमित रिपोर्ट हुए थे, जबकि 275 लोगों की जान गई थी। वीरवार को जिले में 46 संक्रमित मिले हैं, जबकि दो लोगों की मौत हो गई। सुखद बात यह है कि चौबीस घंटों में 157 मरीज स्वस्थ हुए हैं। अब जिले में एक्टिव केसों की संख्या कम होकर 1283 रह गई है। इन क्षेत्रों से संबंधित लोगों की हुई मौत

गांव मल्लूवाल निवासी 65 वर्षीय महिला- आइवीवाइ

पार्क एवेन्यू दुबुर्जी निवासी 67 वर्षीय व्यक्ति - आइवीवाइ

वीरवार को कम्युनिटी से मिले - 22

वीरवार का कांटेक्ट से मिले- 24

वीरवार को स्वस्थ हुए- 157

अब तक संक्रमित - 46347

अब तक स्वस्थ हुए - 43515

अब तक मौतें- 1549

थम नहीं रहा कोरोना से करने वालों का आंकड़ा

जागरण संवाददाता, तरनतारन : जिले में कोरोना के मामले भले ही कम हो रहे हैं, परंतु कोरोना से मौत का सिलसिला जारी है। वीरवार भी को जिले में कोरोना से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि कोरोना के दस नए मामले भी सामने आए हैं। 24 घंटों के दौरान 80 लोगों ने कोरोना को मात दी है।

कोरोना को मात देने वाले लोगों में 21 महिलाएं और चार बुजुर्ग शामिल हैं। यह लोग तरनतारन, पट्टी, गोइंदवाल साहिब, मीयांविड, खेमकरण, कैरों, पलासौर, घरियाला, झब्बाल, सुरसिंह, भिखीविड, सूरविड, खालड़ा से संबंधित हैं। उधर कोरोना से मरने वाले लोग ब्लाक सुरसिंह, घरियाला, झब्बाल और खेमकरण के रहने वाले हैं। जिले में रोजाना दो से चार लोगों की कोरोना से मौत हो रही है। मरने वाले लोग अधिक तौर पर ग्रामीण क्षेत्र से संबंधित हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.