उद्घाटन के ढाई साल बाद आरयूबी का काम शुरू, जोड़ा फाटक पर जाम से मिलेगी निजात

उद्घाटन के ढाई साल बाद आरयूबी का काम शुरू, जोड़ा फाटक पर जाम से मिलेगी निजात

जोड़ा फाटक रेलवे अंडरब्रिज के कार्य का आखिर उद्घाटन के ढाई साल बाद कार्य शुरू कर दिया गया। समारोह में 25.44 करोड़ के प्रोजेक्ट का शुभारंभ मुख्यातिथि सांसद गुरजीत सिंह औजला ने किया।

JagranWed, 03 Mar 2021 02:30 AM (IST)

विपिन कुमार राणा, अमृतसर

जोड़ा फाटक रेलवे अंडरब्रिज के कार्य का आखिर उद्घाटन के ढाई साल बाद कार्य शुरू कर दिया गया। नगर सुधार ट्रस्ट के चेयरमैन दिनेश बस्सी की अध्यक्षता में हुए समारोह में 25.44 करोड़ के प्रोजेक्ट का शुभारंभ मुख्यातिथि सांसद गुरजीत सिंह औजला ने किया। इस प्रोजेक्ट का काम छह माह में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के विधानसभा हलका पूर्वी में रखे गए समारोह का निमंत्रण उनको भी भेजा गया था, पर वह नहीं आए।

बता दें कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह द्वारा 15 अक्टूबर 2018 को जोड़ा फाटक रेलवे अंडर ब्रिज (आरयूबी) का उद्घाटन किया गया था। वर्कआर्डर होने के बाद 6 मार्च 2019 को पूर्व निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने दोबारा काम शुरू करवाया। पर अंडर ब्रिज की रेलवे की ओर से परमीशन नहीं आई थी। ट्रस्ट द्वारा इस बाबत पास प्रस्ताव भी पंजाब सरकार के पास पेंडिग था। ट्रस्ट के चेयरमैन बस्सी ने कुर्सी संभालते ही इस बाबत प्रयास शुरू किए, तो 26 नवंबर 2019 को इसकी मंजूरी मिल गई, परंतु बाद में कोविड-19 की वजह से इस पर काम शुरू नहीं हो सका। समारोह में खास बात यह रही कि काम शुरू करते वक्त सभी धर्मो हिदू, सिख, ईसाई व मुस्लिम भाईचारे के प्रतिनिधि समारोह में शामिल हुए और उन्होंने अरदास की। जोड़ा फाटक आरओबी की लंबाई 1115 फुट और चौड़ाई 32 फुट(दोनों तरफ से 16 व 16 फुट) रहेगी। रेलवे अंडर ब्रिज का कार्य नार्दर्न रेलवे के तत्वाधान में होगा, जबकि रेलवे द्वारा ही इसका टेंडर लगाया गया है और रेलवे को पूर्ण राशि ट्रस्ट द्वारा मुहैया करवाई जाएगी। नौ वार्डो के लोगों को मिलेगा लाभ

जोड़ा फाटक रेलवे अंडर ब्रिज बनने से नौ वार्डो की डेढ़ लाख के लगभग की आबादी को इसका लाभ मिलेगा। फाटक के रास्ते रोजाना बड़ी संख्या में लोग आते जाते है, लेकिन रेलवे फाटक बंद होने की वजह से उन्हें लंबे समय से परेशानी झेलनी पड़ रही है। फाटक के नीचे अंग्रेजों के समय की पुलिया बनी हुई है। इन्हें खुलवाने के लिए भी सालों-साल प्रयास हुए, पर 2009 में पूर्व कांग्रेस प्रवक्ता मनदीप सिंह मन्ना ने लोगों के साथ धरना देते हुए इसे खुलवा तो दिया, पर बरसात में पुलियों के नीचे से पानी तक निकलवाने का प्रबंध प्रशासन नहीं कर पाया। जिनको समर्पित, उन्हें बुलाया नहीं

जोड़ा फाटक आरओबी का काम शुरू करने को लेकर कार्यक्रम रखा गया और यह आरओबी जोड़ा फाटक दशहरा के दिन मारे गए लोगों को समर्पित था। मगर उनके परविार वालों को ही समारोह में बुलाया नहीं गया। जब समारोह चल रहा था कि जोड़ा फाटक हादसे के शिकार हुए परिवारों के लोग घटनास्थल पर श्री दरबार साहिब जाने के लिए एकत्रित हुए, पर उन्होंने भी समारोह को लेकर कोई रुचि नहीं दिखाई। हाजिर रहे गणमान्य

समारोह में जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष जतिदर सोनिया, ट्रस्ट के एसई प्रदीप जसवाल, पार्षद लाडो पहलवान, पार्षद राजिदर सैनी, पार्षद जीत सिंह भाटिया, पार्षद जतिदर मोती भाटिया, राणा पवन कुमार रखड़ा, पार्षद अमर सिंह, पार्षद राकेश मदान, संदीप सरीन, बाबी महाजन, बलप्रीत सिंह रोजर, रोफित देवगन, पंकज चौहान, संदीप शाह, दीपक चतरथ, जतिदर राणा, बब्बू पहलवान, गुरप्रताप सिंह बुग्गा, विक्की खन्ना, नरिदर लव, विशाल कुमार, अजय महाजन, अमित शर्मा, अविप्रीत सिंह, विपुल चौहान, विक्की अरोड़ा सहित सैकड़ों की संख्या में इलाका निवासी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह तथा लोकल बाडी मंत्री ब्रह्म मोहिदरा के हम आभारी हैं, जिन्होंने ट्रस्ट के प्रस्ताव को पास कर इसे मंजूरी दी और अब काम शुरू हो सका है। यह आरओबी जोड़ा फाटक रेल हादसे में मारे गए लोगों को समर्पित किया है।

-दिनेश बस्सी, चेयरमैन नगर सुधार ट्रस्ट फाटक की वजह से पिछले कई सालों से जनता को हो रही परेशानी को देखते हुए सांसद होने के नाते केंद्र सरकार से बात करके रेलवे विभाग से इस अंडरपास के निर्माण के लिए रजामंदी करवाई। यह आरओबी आबादी को बड़ी राहत देगा और ट्रैफिक जाम की समस्या से उन्हें निजात मिलेगी।

-गुरजीत सिंह औजला, सांसद

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.