UP on Top: देशी के साथ विदेशी पर्यटकों को लुभाने में उत्तर प्रदेश सफल, राज्यों में मिला शीर्ष स्थान

पर्यटन के क्षेत्र में सरकार के प्रयासों का ही परिणाम है कि पर्यटन के क्षेत्र में पहले स्थान पर है
Publish Date:Tue, 20 Oct 2020 04:30 PM (IST) Author: Dharmendra Pandey

लखनऊ, जेएनएन। कोरोना संक्रमण काल में भी उत्तर प्रदेश का करिश्मा जारी है। योगी आदित्यनाथ सरकार के उत्तर प्रदेश के स्थापित पर्यटन स्थलों में सुविधा बढ़ाने के साथ नये को विकसित करने का परिणाम बेहद ही सुखद रहा है। पर्यटकों को लुभाने के मामले में उत्तर प्रदेश को देश में पहला स्थान मिला है।

भारतीय पर्यटकों के आगमन की दृष्टि से उत्तर प्रदेश देश में प्रथम स्थान पर है। इससे पहले 2019 में इसका का द्वितीय स्थान था। उत्तर प्रदेश में वर्ष 2019 में 53,58,55,162 भारतीय पर्यटक भ्रमण के लिए आये थें। इस अवधि में 47,45,181 विदेश पर्यटक भी प्रदेश में आये थे। इन परिपथों के सभी पर्यटक स्थलों के उच्चीकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है। इसके साथ ही अब विविधतापूर्ण पर्यटन आकर्षण से समृद्ध होने, पर्यटकों को उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं के फलस्वरूप उत्तर प्रदेश देश-विदेश में महत्वपूर्ण पर्यटन केन्द्र के रूप में अपनी विशिष्ट पहचान बना रहा है।

जनसंख्या के लिहाज से देश का सबसे बडा राज्य उत्तर प्रदेश एक बार फिर उंचाईयां छू रहा है। पर्यटन के क्षेत्र में सरकार के प्रयासों का ही परिणाम है कि इस वर्ष पर्यटन के क्षेत्र में देश में उत्तर प्रदेश पहले स्थान पर आया है। इसके पीछे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अथक प्रयास शामिल है। उन्होंने अपने साढे वर्ष के कार्यकाल में प्रदेश में पर्यटन के विकास के लिए कई योजनाओं की घोषणा की जिसके सार्थक परिणाम मिल रहे हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में अनेक परिपथ चिन्हित किये हैं। इसमें रामायण सर्किट, बृज सर्किट, महाभारत सर्किट, शक्तिपीठ सर्किट, आध्यात्मिक सर्किट, जैन सर्किट, बुद्धिस्ट सर्किट आदि प्रमुख हैं। इन परिपथों के सभी पर्यटक स्थलों के उच्चीकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है। प्रदेश के पर्यटन विभाग की तरफ से केंद्रीय, राज्य एवं जनपद स्तरीय विभिन्न योजनाओं के माध्यम से प्रदेश के पर्यटन स्थलों का नवीनीकरण एवं सौन्दर्यीकरण किया जा रहा है।

राज्य सरकार के विभिन्न पर्व, महोत्सवों एवं मेलों आदि के आयोजन एवं व्यापक प्रचार-प्रसार से पर्यटकों के लिए नये आकर्षण उपलब्ध हुए हैं। इनके साथ वन्यजीव आदि से जुड़े अनेक स्थान भी प्रदेश में हैं। राज्य में धाॢमक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक स्थलों के साथ-साथ प्राकृतिक सौन्दर्य के भी अनेक स्थान हैं। वन्यजीव आदि से जुड़े अनेक स्थान भी प्रदेश में हैं। विविधतापूर्ण पर्यटन आकर्षण से समृद्ध होने तथा पर्यटकों को उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं के फलस्वरूप उत्तर प्रदेश, देश-विदेश में महत्वपूर्ण पर्यटन केंद्र के रूप में अपनी विशिष्ट पहचान बना रहा है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.