top menutop menutop menu

Jammu And Kashmir: पांच वर्ष में सबसे विकसित प्रदेश बनेगा जम्मू-कश्मीर: किरण रिजिजू

जम्मू, जेएनएन। Union Minister In Jammu And Kashmir. केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर आने वाले दिनों में एक बहुत बड़ा स्पोटर्स पॉवरहाउस बनकर उभरेगा। पूर्व सरकारों ने केवल राजनीति की है। अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जम्मू-कश्मीर को पांच वर्षों में देश का सबसे विकसित प्रदेश बनने से कोई भी नहीं रोक सकेगा। यह बात केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने जम्मू के भगवती नगर में मल्टीपपर्ज इंडोर स्पोटर्स हॉल के उद्घाटन के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि पिछले चार वर्षो में केंद्र सरकार ने जितनी तवज्जो जम्मू कश्मीर को दी है, उतनी किसी अन्य राज्य को नहीं दी। आने वाले पांच महीनों में कई सारे इंडोर और आउटडोर स्टेडियम लोगों को समर्पित होंगे। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर देश के लिए महत्वपूर्ण है। यहां के लोगों को इसका एहसास होना जरूरी है। यहां के विकास में अनुच्छेद 370 बहुत बड़ी बाधा था। जबसे हटाया है तब से विकास की गति तीन-चार गुणा बढ़ी है।

2028 ओलंपिक में भारत शीर्ष दस देशों में होगा

केंद्रीय मंत्री रिजिजू ने कहा कि खेल मंत्रालय ने देश के खिलाड़ियों के लिए एक लक्ष्य रखा है। ओलंपिक में भारत का आज तक अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी को मद्देनजर रखते हुए ओलंपिक टॉस्क फोर्स बनाई है। कुछ कदम ऐसे उठाए जा रहे हैं जिससे आठ वर्षो में खेल की दुनिया में भारत विश्व में बहुत बड़ी ताकत बनकर उभरेगा। तय लक्ष्य के अनुसार, भारत 2028 में लॉस एंजिल्स में होने वाली ओलंपिक खेलों में शीर्ष दस देशों में स्थान बनाएगा।

फरवरी में कश्मीर में होंगे विंटर गेम्स

रिजिजू ने कहा कि मैं ट्विटर पर बड़ा सक्रिय हूं। अगर कोई भी वयोवृद्ध खिलाड़ी बीमार होता है तो उसके इलाज के लिए वित्तीय सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। इसके अलावा उन्होंने कहा कि विंटर स्पोटर्स भारत के लिए एक नया है। कश्मीर और पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम में ¨वटर गेम्स हो सकते हैं। ऐसे में फरवरी के अंत में कश्मीर में देश के विंटर गेम्स होंगे। इस संबंध में खेल सचिव से बात हो चुकी है।

70 वर्षों से रुके विकास कार्यों ने छह माह में पकड़ी रफ्तार: शेखावत

जम्मू संभाग के कठुआ जिला के महिला डिग्री कॉलेज के ऑडिटोरियम में केंद्रीय पशुपालन मंत्री प्रताप चंद सारंगी ने कहा कि कश्मीर के कारण लोगों ने काफी दुख झेले हैं, उन दुखों का मोदी की मजबूत सरकार ने बड़े फैसले लेकर निवारण कर दिया। वहीं, नगरोटा में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद 70 वर्षो से रुके हुए विकास कार्यों ने रफ्तार पकड़ी है। मोदी सरकार के इस मजबूत फैसले से जैसी परिस्थतियां बदली तो यहां की व्यवस्था में भी परिवर्तन आया गया है।

कालाकोट पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजय शामराव धोत्रे

केंद्रीय मानव संसाधन विकास, सूचना तकनीकी राज्यमंत्री संजय शामराव धोत्रे ने सीमावर्ती जिला राजौरी के कालाकोट कस्बा का दौरा किया। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के विकास के साथ-साथ कालाकोट का भी पूर्ण रूप से विकास किया जाएगा। उन्होंने कालाकोट में केंद्रीय विद्यालय खोलने की बात भी कही।

बाबा चमलियाल की दरगाह पहुंचे केंद्रीय राज्यमंत्री

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने सांबा जिला के विजयपुर क्षेत्र थे। इस दौरान उन्होंने कई लोगों से बातचीत की। इसके अलावा उन्होंने भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे बाबा चमलियाल की दरगाह पर जाकर माथा टेका।

किरण रिजिजू ने जम्मू के भगवती नगर इलाके में इनडोर स्टेडियम का किया उद्घाटन

केंद्रीय युवा मामले और खेल राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने जम्मू के भगवती नगर इलाके में एक इनडोर स्टेडियम का उद्घाटन किया। उनका कहना है कि कॉम्प्लेक्स में साइक्लिन ट्रैक एंड योग सेंटर का निर्माण किया जाएगा।

विकास में सहायक होगा जम्मू-कश्मीर का केंद्र शासित प्रदेना बनना: कैलाश चौधरी

कृषि और किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त होना और इसे केंद्र शासित प्रदेश बनाना लोगों के हित में लिया गया फैसला है। आने वाले सालों में लोगों को इसका लाभ दिखने लगेगा। केंद्र के अधीन आने से जिस तेजी से यहां विकास गति पकड़ेगा, लोग देखकर हैरान रह जाएंगे। शहरों में ही नहीं बल्कि ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को भी बेहतर व आधुनिक सुविधाएं मिलेंगी। इस दौरान मंत्री ने राया माेड़ इलाके में जल मिशन योजना का शुभारंभ भी किया। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत ग्रामीण लोगों को पीने का स्वच्छ पानी और कंडी इलाके के किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध हो पाएगा। कार्यक्रम के बाद राज्य मंत्री ने सीमांत गांव बरोटा, नंगा, कमारे, केसो, चमलियान का दौरा कर वहां के किसानों की समस्याओं को भी सुना। मौसम के कारण उनकी फसलों को पहुंचे नुकसान की भरपाई जल्द करने का आश्वासन भी दिया।

विकास को गति देने पहुंचे हैं मंत्री

गौरतलब है कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर के दूरदराज क्षेत्रों में विश्वास बहाली के लिए एक दिन में मोदी सरकार के 14 मंत्री विकास को गति देने के लिए आए हैं। 18 को शुरू हुए कार्यक्रम 24 जनवरी तक चलेंगे। तीन दिन में केंद्र के 17 मंत्री जम्मू संभाग के दौरे कर चुके हैं। ये केंद्रीय मंत्री लोगों के बीच जाकर उन्हें केंद्र प्रायोजित योजनाओं के बारे में जागरूक कर रहे हैं।

22 जनवरी को भी मंत्रियों के दौरों की खासी सरगर्मियां रहेंगी। 11 मंत्री जम्मू-कश्मीर में होने वाले कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। एक सप्ताह की मुहिम के तहत राज्य के 60 ब्लॉकों में कार्यक्रम होने हैं।

जानें, कौन मंत्री कहांः

-किरण रिजिजू - सुचेतगढ़, जम्मू

-अनुराग ठाकुर, खौड़, जम्मू

-कृष्णपाल गुजर्र, पुंछ

-हरदीप सिंह पुरी, सुंदरबनी, राजौरी

-थावर चंद गहलोत, सूरनकोट, पुंछ

-संजय धोत्रे, कालाकोट, राजौरी

-वीके सिंह - चिनैनी, ऊधमपुर

-अर्जुन मुंडा - पौनी, रियासी

-संतोष कुमार गंगवर, रामबन

-कैलाश्स चौधरी - सांबा के सलमेरी

-प्रताप सारंगी - कठुआ

-गजेन्द्र सिंह शेखावत - हीरानगर

-मुख्तार अब्बास नकवी, श्रीनगर

जम्मू-कश्मीर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.