Winter Session 2021: भाजपा ने अपने सांसदों से कहा, संसद में मौजूद रहें और पूरी तैयारी करके आएं

राजग बैठक में घटक दलों के सदन के नेताओं ने हिस्सा लिया जिनमें जदयू के राजीव रंजन सिंह अपना दल (एस) की अनुप्रिया पटेल एनपीपी की अगाथा संगमा अन्नाद्रमुक के ए. नवनीथकृष्णन और आरएलजेपी के नेता पशुपति पारस शामिल रहे।

Dhyanendra Singh ChauhanSun, 28 Nov 2021 10:27 PM (IST)
राजग की बैठक में घटक दलों ने बेहतर समन्वय पर दिया जोर

नई दिल्ली, प्रेट्र। भाजपा ने संसद के शीत सत्र की रणनीति बनाने के लिए रविवार को बुलाई गई अपने संसदीय दल की बैठक में सांसदों से अधिक से अधिक उपस्थिति सुनिश्चित करने और विपक्ष को जवाब देने के लिए उनसे पूरी तैयारी करके आने के लिए कहा। सूत्रों ने यह जानकारी दी।

रविवार को ही हुई राजग की बैठक में भी सहयोगी दलों ने सत्तारूढ़ गठबंधन के सभी घटक दलों के बीच बेहतर समन्वय की जरूरत और ज्यादा से ज्यादा उपस्थिति पर जोर दिया। बैठक में कुछ घटक दलों ने तीनों कृषि कानूनों को रद करने के फैसले के लिए सरकार को धन्यवाद दिया।

इन बैठकों में अक्सर मौजूद रहने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इनमें से किसी बैठक में हिस्सा नहीं लिया। भाजपा संसदीय दल की बैठक की अध्यक्षता पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने की और इसमें लोकसभा में उपनेता राजनाथ सिंह, राज्यसभा में नेता पीयूष गोयल और संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने भी हिस्सा लिया। केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, भूपेंद्र यादव और मुख्तार अब्बास नकवी भी बैठक में उपस्थित थे।

राजग घटक दलों से ये नेता रहे मौजूद

राजग बैठक में घटक दलों के सदन के नेताओं ने हिस्सा लिया जिनमें जदयू के राजीव रंजन सिंह, अपना दल (एस) की अनुप्रिया पटेल, एनपीपी की अगाथा संगमा, अन्नाद्रमुक के ए. नवनीथकृष्णन और आरएलजेपी के नेता पशुपति पारस शामिल रहे।

अनुप्रिया पटेल ने यूपी में अध्यापकों की 69 हजार रिक्तियों का मुद्दा उठाया

दोनों बैठकों के दौरान जोशी ने सरकार के विधायी कार्यो और विपक्ष द्वारा उठाए जा सकने वाले मुद्दों के बारे में सचेतकों को जानकारी दी। अपना दल (एस) की नेता और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने उत्तर प्रदेश में अध्यापकों की 69 हजार रिक्तियों का मुद्दा उठाया और अनुरोध किया कि उत्तर प्रदेश सरकार पिछले वर्ग के अभ्यर्थियों की भर्ती के लिए ओबीसी कमीशन द्वारा जारी दिशानिर्देशों का पालन करे। उन्होंने कृषि कानूनों को रद करने का फैसले लेने के लिए सरकार को धन्यवाद भी दिया।

सत्र के दौरान दोनों सदनों में सभी भाजपा सांसदों की अधिक से अधिक उपस्थिति की जरूरत पर जोर देते हुए नड्डा ने कहा कि महत्वपूर्ण मुद्दों पर किसी भी सदन में विपक्ष को हावी नहीं होने देने के लिए उपस्थिति अहम है। पार्टी सांसदों को सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर पूरी तैयारी से आना होगा जिन्हें विपक्ष उठा सकता है। उन्होंने पार्टी सांसदों से मोदी सरकार द्वारा किए अच्छे कामों खासकर कोरोना काल में किए गए कामों का बखान करने के लिए भी कहा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.