जब अमेरिकी सांसद Howdy Modi में जाएंगे तो भारतीय मूल की तुलसी क्यों नहीं? मिला यह जवाब

मुंबई, एजेंसी। अमेरिका की पहली हिंदू सांसद और अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों के लिए पहली भारतीय मूल की महिला उम्मीदवार तुलसी गबार्ड ने 'हाउडी मोदी' में ना पहुंचने को लेकर जवाब दिया। बता दें कि यह रिपोर्ट्स आ रही थी कि ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में गबार्ड भाग नहीं लेंगी। इसे लेकर उनपर सवाल उठने लगे कि जब अमेरिका के अन्य 50 से ज्यादा सांसद मोदी के कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं तो भारतीय मूल की सांसद क्यों इसमें भाग नहीं ले रही। हालांकि अब उन्होंने इसपर जवाब दिया। 

तुलसी गबार्ड ने सामने आ रही इन रिपोर्टों पर स्पष्टीकरण देने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। उन्होंने कहा कि वह पहले से निर्धारित राष्ट्रपति अभियान-संबंधी कार्यक्रमों के कारण 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पा रही।तुलसी गबार्ड ने पत्रकार राणा अय्यूब की एक मीडिया रिपोर्ट को रीट्वीट करते हुए कहा कि इस आर्टिकल में छपी खबर गलत है। बता दें कि इसमें कहा गया था कि हाउडी मोदी कार्यक्रम में तुलसी गबार्ड ने भाग लेने से मना कर दिया है।

Tulsi Gabbard refuses invitation to attend Howdy Modi event in Houston..What a turnaround. Where does this leave her Indian fanboys https://t.co/c8O5x7XSSu" rel="nofollow

तुलसी ने लिखा, 'इस आर्टिकल में छपी खबर गलत है, मैं ह्यूस्टन में होने वाले कार्यक्रम में इसलिए शामिल नहीं हो पाऊंगी क्योंकि मेरे राष्ट्रपति चुनाव से संबंधित कई अभियान पहले से ही तय हैं'। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि मैं अमेरिका दौरे पर पीएम मोदी से मिलने की उम्मीद कर रही हूं। इस दौरान मैं दुनिया के सबसे पुराने और दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के बीच मजबूत साझेदारी और संवाद को बनाए रखने के महत्व पर चर्चा करना चाहती हूं'

This article is misinformed. I’m not attending the Houston event due to previously scheduled presidential campaign events. However I'm hoping to meet PM Modi on his visit to discuss the importance of maintaining the strong partnership of the world's oldest & largest democracies.

इस कार्यक्रम की बड़ी बात यह है कि इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी ह्यूस्टन में होने जा रहे हाउडी मोदी मेगा कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ शामिल होंगे और यह पहली बार होगा जब कोई अमेरिकी राष्ट्रपति और भारतीय प्रधानमंत्री एक संयुक्त कार्यक्रम को एक साथ संबोधित करेंगे। नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के 50,000 से अधिक भारतीय-अमेरिकियों को 'हाउडी मोदी' में संबोधित करेंगे। यह आयोजन ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में आयोजित किया जाएगा।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.