शशि थरूर ने महिला सांसदों के साथ शेयर की सेल्फी, कैप्शन देख भड़के लोग, बाद में मांगी माफी

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि आप संसद और राजनीति में उनके योगदान को आकर्षण की वस्तु बनाकर नीचा दिखा रहे हैं। संसद में महिलाओं को आपत्तिजनक बनाना बंद करें।

Dhyanendra Singh ChauhanMon, 29 Nov 2021 04:11 PM (IST)
इंटरनेट मीडिया में लोग तरह-तरह के कमेंट कर थरूर को कर रहे ट्रोल

नई दिल्ली, पीटीआइ। कांग्रेस सांसद शशि थरूर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार उनकी एक सेल्फी चर्चा का विषय बनी है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने सोमवार को ट्विटर पर छह महिला सांसदों के साथ एक सेल्फी पोस्ट की है। उन्होंने सेल्फी के साथ कैप्शन में लिखा, 'कौन कहता है कि लोकसभा काम करने के लिए एक आकर्षक जगह नहीं है। आज सुबह मेरे छह साथी सांसदों के साथ।' शशि थरूर की इस सेल्फी के कैप्शन को लेकर इंटरनेट मीडिया में लोग तरह-तरह के कमेंट कर उन्हें ट्रोल कर रहे हैं।

दरअसल, कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर बारामती की सांसद सुप्रिया सुले, पटियाला की सांसद परनीत कौर, दक्षिण चेन्नई की सांसद थमिजाची थंगापांडियन, जादवपुर की सांसद मिमी चक्रवर्ती, बशीरहाट की सांसद नुसरत जहां और करूर से सांसद एस जोथिमनी के साथ एक तस्वीर पोस्ट की है। इसी तस्वीर पर इंटरनेट मीडिया में हंगामा मचा हुआ है। 

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए ट्वीट किया कि आप संसद और राजनीति में उनके योगदान को आकर्षण की वस्तु बनाकर नीचा दिखा रहे हैं। संसद में महिलाओं को आपत्तिजनक बनाना बंद करें।

सुप्रीम कोर्ट की वकील करुणा नंदी ने ट्वीट किया 'शशि थरूर ने चुने गए राजनेताओं को उनके लुक तक सीमित करने की कोशिश की और खुद को केंद्र में दिखाया है।

थरूर की इस पोस्ट पर टिप्पणी करते हुए एक ट्विटर यूजर ने कहा कि लोकसभा में महिलाएं आपके कार्यक्षेत्र को आकर्षक बनाने के लिए सजावटी सामान नहीं हैं। वे सांसद हैं।

विवाद बढ़ता देख थरूर ने माफी मांग ली है। उन्होंने कहा कि सेल्फी (महिला सांसदों की पहल पर ली गई) का मकसद हास्य था और उन्होंने ही मुझे उसी भावना से ट्वीट करने के लिए कहा था, मुझे खेद है कि कुछ लोगों को बुरा लगा, लेकिन मुझे इस सौहार्द्रपूर्ण माहौल में काम करना पसंद हैं, बस इतना ही है।

हालांकि, टीएमसी सांसद मौहुआ मोइत्रा ने थरूर का बचाव किया और ट्वीट किया कि आश्चर्य की बात नहीं है कि एक गैर-आकर्षक सरकार के कृषि अधिनियम को निरस्त करने पर चर्चा की अनुमति नहीं देने के फैसले से ध्यान हटाने के लिए एक गैर-मुद्दे पर शशि थरूर पर हमला करने वाले ट्रोल का एक समूह है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.