सीमा विवाद का समाधान निकालने को असम-मिजोरम में वार्ता आज सुबह 11 बजे, बैठक में दोनों राज्यों के दो-दो मंत्री होंगे शामिल

दोनों राज्यों के मंत्रियों और अधिकारियों की बैठक यहां के आइजल क्लब में गुरुवार सुबह 11 बजे होगी। असम के साथ सीमा विवाद का समाधान निकालने के लिए गुरुवार को आइजल में होने वाली वार्ता में असम और मिजोरम के दो-दो मंत्री भाग लेंगे।

Bhupendra SinghThu, 05 Aug 2021 02:43 AM (IST)
आइजल में हो रही बैठक में दोनों राज्यों के दो-दो मंत्री शामिल होंगे

आइजल, प्रेट्र। असम के साथ सीमा विवाद का समाधान निकालने के लिए गुरुवार को आइजल में होने वाली वार्ता में असम और मिजोरम के दो-दो मंत्री भाग लेंगे। मिजोरम के गृह विभाग के अधिकारी ने बुधवार को बताया कि इस वार्ता में मिजोरम के दो मंत्रियों समेत तीन प्रतिनिधि भाग लेंगे।

मिजोरम के प्रतिनिधिमंडल में दो मंत्री और गृह सचिव होंगे शामिल

जानकारी के अनुसार मिजोरम के प्रतिनिधिमंडल में राज्य के गृह मंत्री लालचमलियाना, भू-राजस्व और बंदोबस्त मंत्री लालरुअटकिमा और गृह विभाग के सचिव वनलालंगईहसाका शामिल होंगे।

दोनों राज्यों की बैठक आइजल क्लब में आज सुबह 11 बजे होगी

मिजोरम के मुख्य सचिव लालनुनमाविया चुआंगो ने बताया कि दोनों राज्यों के मंत्रियों और अधिकारियों की बैठक यहां के आइजल क्लब में गुरुवार सुबह 11 बजे होगी।

असम के दो मंत्री अतुल बोरा और अशोक सिंघल वार्ता में होंगे शामिल

असम के सूत्रों ने कहा कि हिमंत बिस्वा सरमा सरकार, कैबिनेट मंत्रियों अतुल बोरा और अशोक सिंघल को वार्ता में भाग लेने के लिए भेजेगी।

मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने कहा- वार्ता से समाधान निकालने में मिलेगी मदद

दोनों राज्यों के बीच जारी सीमा विवाद के चलते 26 जुलाई को खूनी संघर्ष शुरू हो गया था, जिसमें असम पुलिस के छह कíमयों और एक नागरिक की मौत हो गई थी। इस घटना में 50 से अधिक लोग घायल भी हुए थे। मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने ट्विटर पर कहा कि उन्हें यकीन है कि बैठक से दोनों राज्यों को समाधान निकालने में मदद मिलेगी।

जोरमथंगा ने कहा- सीमा समस्या के समाधान के लिए उठाए जाएंगे अहम कदम

उन्होंने ट्वीट किया कि 5 अगस्त, 2021 को असम सरकार के प्रतिनिधि वरिष्ठ मंत्री के नेतृत्व में मिजोरम सरकार के प्रतिनिधियों से मिलेंगे। मुझे यकीन है कि सीमा समस्या के समाधान के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए जाएंगे। उच्च पदस्थ सूत्रों ने कहा कि दोनों पक्षों ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के हस्तक्षेप के बाद बढ़ते तनाव को कम करने के लिए बातचीत करने का फैसला किया।

26 जुलाई के बाद से असम से कोई वाहन मिजोरम में नहीं आया

इससे पहले सोमवार को सरमा ने माइक्रोब्लागिंग साइट पर घोषणा की थी कि वह अपने दो कैबिनेट मंत्रियों को शांति के लिए आइजल भेजेंगे। सरमा की घोषणा, मिजोरम के उनके समकक्ष जोरमथांगा द्वारा इंटरनेट मीडिया पर पड़ोसी राज्य के अधिकारियों के खिलाफ दर्ज मामलों को वापस लेने का निर्देश देने की घोषणा के बाद हुई थी। इस बीच वैरेंगटे में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि 26 जुलाई के बाद से असम से कोई वाहन राज्य में नहीं आया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.