Maharashtra: सीएम पद के लिए लड़ने-मरने के लिए तैयार राउत, लेकिन कहा- धमकी नहीं बर्दाश्त

मुंबई, आइएएनएस। शिवसेना सांसद संजय राउत गुरुवार को अपनी पुरानी गठबंधन की साथी भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के खिलाफ आक्रामक रुख अपनाते हुए दिखे। राउत ने भाजपा से कहा कि वह उसे डराए या धमकाए नहीं और शिवसेना को अपना राजनीतिक रास्ता चुनने दें। राउत ने साथ ही कहा कि हम लड़ने और मरने के लिए तैयार हैं, लेकिन धमकी को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

राउत ने मीडिया के सामने कड़े शब्दों में कहा कि, हम लड़ने और मरने के लिए तैयार हैं, लेकिन धमकी या जबरदस्ती की रणनीति को बर्दाश्त नहीं करेंगे। वह भाजपा अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की पिछले लोकसभा चुनाव से पहले शक्ति-साझा फार्मूले पर शिवसेना के साथ बंद दरवाजों के पीछे की टिप्पणियों का जिक्र कर रहे है।

राउत ने आगे कहा कि मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बोलते सुना है कि देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र में अगले मुख्यमंत्री होंगे।ऐसा तो ​​शिवसेना ने भी कहा है कि सीएम उसका होगा।' शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा कि एक साझेदारी के अनुसार शिवसेना को मुख्यमंत्री के पद सहित सरकार में 50:50 की हिस्सेदारी मिलेगी। हालांकि, शाह और फडणवीस द्वारा इसे खारिज कर दिया गया है। वह उद्धव ठाकरे को झूठा करार दे रहे हैं।

राउत ने अमित शाह से मांग की कि बंद दरवाजे के पीछे हुए फैसलों की आपने प्रधानमंत्री मोदी को जानकारी क्यों नहीं दी? समझ से इनकार करने से पहले चुनाव परिणाम आने तक आप चुप क्यों रहे ? जिसे वे महज एक कमर कहते हैं, वह हमारे लिए एक दिव्य मंदिर है क्योंकि यही वह स्थान था जहाँ स्वर्गीय बाल ठाकरे मिलते थे और हर चीज पर सबको सलाह देते थे।

राउत ने घोषणा की कि कहा कि भाजपा हमेशा सार्वजनिक निर्णय लेने की बात करती है कि वे बंद दरवाजों के पीछे नहीं पहुंचे, लेकिन अगर उन्होंने अपने शब्दों और वादों को रखा होता तो मामला कभी भी खुलकर सामने नहीं आता।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.