top menutop menutop menu

कुछ खास पदों पर काम कर रहे लोगों को क्वारंटाइन के दिशा-निर्देशों से छूट : केंद्रीय मंत्री

नई दिल्‍ली, एएनआइ। केंद्रीय मंत्री डी.वी. सदानंद गौड़ा का कहना है कि कुछ खास पदों पर काम कर रहे खास लोगों को क्वारंटाइन के दिशा-निर्देशों से छूट दी गई है। विपक्षी दल आरोप लगा रहे हैं कि सदानंद गौड़ा ने घरेलू हवाई यात्रा के बाद संस्थागत क्‍वारंटाइन में नहीं गए, जो नियमों के खिलाफ है। सदानंद गौड़ा सोमवार को दिल्‍ली से फ्लाइट लेकर बेंगलुरु पहुंचे हैं।

सदानंद गौड़ा ने अपने पर लग रहे आरोपों पर कहा, 'देखिए, मैं एक मंत्री हूं और फार्माक्यूटिकल मंत्रालय को संभाल रहा हूं। मेरा फर्ज़ है ये सुनिश्चित करना कि देश के हर कोने में दवाइयों की पूरी सप्लाई हो। दरअसल, कुछ खास पदों पर काम कर रहे खास लोगों को क्वारंटाइन के दिशा-निर्देशों से छूट दी गई है। जैसे अगर डॉक्टर, नर्स और जरूरी दवाओं की सप्लाई करने वालों को क्वारंटाइन कर दिया जाएगा, तो क्या हम कोरोना को रोक पाएंगे।'

दरअसल, कर्नाटक सरकार ने नियम बनाया है कि जो लोग कोरोना वायरस संक्रमण से अधिक प्रभावित राज्यों जैसें- महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, तमिलनाडु, राजस्थान और मध्य प्रदेश से आएंगे, उन्हें सात दिन के लिए संस्थागत पृथक(Institutional Quarantine) केंद्र में रहना होगा। इसका खर्च भी यात्रियों को स्‍वयं उठाना होगा। कोविड जांच रिपोर्ट में संक्रमित नहीं पाए जाने पर उन्हें अगले सात दिन के लिए घर में क्‍वारंटाइन सेंटर में रहना होगा। वहीं, लोग कम प्रभावित क्षेत्रों से आएंगे उन्हें 14 दिन घर में क्‍वारंटाइन में रहना होगा।

गौरतलब है कि लगभग दो महीने के लंबे अंतराल के बाद सोमवार से देश भर में घरेलू विमान सेवा की शुरुआत हो गई। इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से आज कुल 243 उड़ानों का संचालन किया जाना है, जिसमें से 118 आने वाली हैं वहीं 125 यहां से जाने वाली उड़ानें हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से गाइडलाइन जारी किया गया और सलाह दी गई है कि नॉवेल कोरोना वायरस के लक्षण होने पर किसी भी यात्री को एयरपोर्ट में एंट्री न दी जाए।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.