शीतकालीन सत्र 2021: निलंबन वापसी पर बोले सभापति- बिना माफी मांगे संभव नहीं, कल गांधी प्रतिमा के समक्ष धरना देगा विपक्ष

Parliament Winter Session 2021 राज्यसभा से विपक्षी दलों के सांसदों के निलंबन ने सरकार और विपक्ष के बीच फिर से दरार पैदा कर दी है। अनुशासनहीनता के आरोप में कांग्रेस टीएमसी और शिवसेना के 12 सांसदों को पूरे सत्र के लिए राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया है।

Manish PandeyTue, 30 Nov 2021 08:33 AM (IST)
राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने निलंबन रद करने की मांग को खारिज कर दिया।

नई दिल्ली, एजेंसी। संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन विपक्ष के 12 सदस्यों क निलंबन का मुद्दा दोनों सदनों में गरमाया रहा। राज्यसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने सांसदों के निलंबन का मुद्दा उठाया। उन्होंने इस कार्रवाई को नियमों के खिलाफ बताते हुए निलंबन वापस लेने का अनुरोध किया, जिसे राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने खारिज कर दिया। 12 निलंबित विपक्षी सांसद राज्यसभा के सभापति को अपने निलंबन को निरस्त करने के लिए पत्र लिखेंगे। सभी निलंबित सांसद कल संसद में गांधी प्रतिमा के समक्ष धरना देंगे। मानसून सत्र में इन सांसदों ने अशोभनीय आचरण किया था। सदन के अंदर तोड़फोड़, आसन पर पेपर फेंकने, टेबल पर चढ़कर डांस करने और मार्शल के साथ अभद्रता के आरोप थे।

Parliament Winter Session 2021 Live Updates

लोकसभा राज्यसभा कल तक के लिए स्थगित

शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन 12 सांसदों के निलंबन के मुद्दे पर विपक्ष के भारी हंगामे के चलते लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही को बुधवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

कार्रवाई आवश्यक थी: गोयल

12 सांसदों के निलंबन पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पिछले सत्र में विपक्ष की मंशा सत्र को ना चलने देने की थी। अध्यक्ष का अपमान किया गया, पेपर फेंके गए। लेडी मार्शल को चोट लगी। इसे देखते हुए आवश्यक था कि ये कार्रवाई की जाए। सदस्य को माफी मांगनी चाहिए।

क्रिप्टो करेंसी पर बिल लाने की तैयारी में सरकार

राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान क्रिप्टोकरेंसी पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह एक जोखिम भरा क्षेत्र है और पूर्ण नियामक ढांचे में नहीं है। इसके विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगाने पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। आरबीआई और सेबी के माध्यम से जागरूकता पैदा करने के लिए कदम उठाए गए हैं। सरकार जल्द ही एक विधेयक पेश करेगी।

बिना माफी निलंबन वापस नहीं

मल्लिकार्जुन खड़गे के नेतृत्व में विपक्षी दल के आठ नेताओं ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू से मुलाकात की और उनसे 12 सांसदों के निलंबन को रद्द करने पर फिर से विचार करने का अनुरोध किया। सभापति नायडू ने उनसे कहा कि सदन के निलंबित सदस्यों से माफी मांगे बिना यह संभव नहीं है: सूत्र

एनआरसी तैयार करने का कोई निर्णय नहीं

गृह मंत्रालय ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि अब तक, सरकार ने राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर (NRIC) तैयार करने का कोई निर्णय नहीं लिया है।

भारत में ओमिक्रोन का कोई मामला नहीं

राज्यसभा में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. मनसुख मंडाविया ने बताया कि भारत में अब तक कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट का कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है।

निलंबन पर विपक्षी की एक और बैठक

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के कार्यालय में 12 राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी नेता एक और बैठक कर रहे हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा जिन 12 सदस्यों को निलंबित किया गया उन्हें वापस लेने के लिए आज हम अध्यक्ष महोदय से मिले और उनसे आग्रह किया गया। पिछले सत्र में जो घटना हुई थी फिर उसे उठाकर फिर से सदस्यों को निलंबित करना गैरक़ानूनी है और नियमों के खिलाफ है।

संसद परिसर में विपक्ष का प्रदर्शन

12 सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी नेता संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू द्वारा 12 विपक्षी सांसदों के निलंबन को रद्द करने को खारिज करने के बाद विपक्षी सांसदों ने लोकसभा और राज्यसभा से वाकआउट किया है।

निलंबन को रद्द करने के अनुरोध को खारिज

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने 12 सांसदों के निलंबन को रद्द करने के अनुरोध को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि राज्य के सभापति को कार्रवाई करने का अधिकार है और सदन भी कार्रवाई कर सकता है। नायडू ने कहा कि पिछले मानसून सत्र का कड़वा अनुभव आज भी हममें से अधिकांश लोगों को परेशान करता है।

लोकसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित

राज्यसबा के सदस्यों के निलंबन पर कांग्रेस, DMK और नेशनल कांफ्रेंस के वाक आउट के बाद लोकसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित किया गया।

पीएम मोदी किसानों और कृषि के प्रति प्रतिबद्ध

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सारा देश इस बात का साक्षी है कि प्रधानमंत्री मोदी किसानों के प्रति और कृषि के प्रति प्रतिबद्ध हैं और रहेंगे। उनके 7 साल के कार्यकाल में जो ऐतिहासिक काम कृषि क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए हुए हैं, वे पहले कभी भी कांग्रेस सरकार में नहीं हुए।

मजबूरी में लेना पड़ा फैसला

12 सांसदों के निलंबन पर केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि कल भी हमने उनसे कहा कि आप लोग माफी मांग लीजिए, खेद व्यक्त कीजिए। लेकिन उन्होंने इसे खारिज कर दिया, साफ इनकार किया। इसलिए मज़बूरी में हमें ये फैसला लेना पड़ा। उन्हें सदन में माफी मांगनी चाहिए।

विपक्षी दलों की राज्यसभा के सभापति से मुलाकात

राज्यसभा के 12 सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दल राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू से मिलने जा रहे हैं। इन सांसदों ने अशोभनीय आचरण के कारण मौजूदा सत्र से निलंबित कर दिया गया है।

ईंधन की बढ़ती कीमतों पर चर्चा की मांग

लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी ने आवश्यक वस्तुओं की बढ़ती कीमतों के मुद्दे पर स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है। ईंधन की बढ़ती कीमतों पर चर्चा की मांग को लेकर कांग्रेस और शिवसेना ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

शीतकालीन सत्र की रणनीति पर चर्चा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में राजनाथ सिंह, अमित शाह और नरेंद्र सिंह तोमर सहित शीर्ष मंत्रियों के साथ जारी शीतकालीन सत्र की रणनीति पर चर्चा के लिए एक बैठक की।

12 सांसदों के निलंबन पर विपक्ष की बैठक

सदन के 12 विपक्षी सदस्यों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं ने संसद में राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के कार्यालय में बैठक की। इसमें आगे की रणनीति पर चर्चा की जा रही है।

बैठक के बाद लिया जाएगा फैसला: चौधरी

लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि सत्र को बहिष्कार किए जाने को लेकर मेरे पास कोई जानकारी नहीं है। 12 सांसदों के निलंबन को लेकर बैठक है। जो भी निर्णय इस बैठक के बाद लिया जाएगा उसे हम मानेंगे।

सरकार हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार: नकवी

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि जिन भी मुद्दों पर विपक्ष बहस या चर्चा चाहता है उसके लिए सरकार तैयार है। उसके लिए नोटिस दिया जाता है। सरकार ने तो कभी कहा ही नहीं कि हम चर्चा नहीं करने देंगे।

माफी नहीं मांगेंगे: बिनाय विश्वम

सीपीआइ सांसद बिनाय विश्वम ने कहा है कि हमने आत्मानिर्भर भारत के लिए बैंक के निजीकरण के मुद्दे पर लड़ाई लड़ी... हम माफी नहीं मांगेंगे। विश्वम समेत 12 राज्यसभा सांसदों को शीतकालीन सत्र के शेष भाग के लिए अनुशासनहीनता के लिए निलंबित कर दिया गया है।

माफी मांगने का सवाल ही नहीं

विपक्ष के 12 सदस्यों के निलंबन पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा है कि भविष्य की रणनीति पर चर्चा के लिए विपक्षी दल आज बैठक कर रहे हैं। माफी मांगने का सवाल ही नहीं उठता। सांसदों को सदन के नियमों के खिलाफ निलंबित किया गया है।

लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने 'सरकार को कृषि कानूनों के विरोध में जान गंवाने वाले किसानों का रिकार्ड बनाने और उनके परिवारों को मुआवजा देने का निर्देश देने के लिए' लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है। व हीं, कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर ने 'देश भर में आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि के कारणों पर चर्चा करने के लिए और सरकार को पेट्रोल, डीजल, एलपीजी पर उत्पाद शुल्क को 2013 के स्तर तक कम करने के लिए उचित कदम उठाने का निर्देश देने के लिए' लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

किरेन रिजिजू पेश करेंगे बिल

केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश (वेतन और सेवा की शर्तें) संशोधन विधेयक, 2021 पेश करेंगे। यह विधेयक उच्च न्यायालय के न्यायाधीश (वेतन और सेवा की शर्तें) अधिनियम, 1954 और उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश (वेतन और सेवा की शर्तें) अधिनियम, 1958 में और संशोधन का प्रयास है।

समिति की जांच के बाद कार्रवाई

निलंबित सदस्यों ने बीते मानसून सत्र के आखिरी दिन सदन की गरिमा को तार-तार करते हुए कथित तौर पर धक्का-मुक्की के साथ जबर्दस्त हंगामा किया था। इसे लेकर गठित समिति ने इसकी जांच की थी, जिसकी सिफारिशों के आधार पर तैयार प्रस्ताव को सदन में मंजूरी दी गई।

सरकार और विपक्ष के बीच फिर दरार

राज्यसभा से विपक्षी दलों के 12 सांसदों के निलंबन ने सरकार और विपक्ष के बीच फिर से दरार पैदा कर दी है। सरकारी सूत्रों ने कहा है कि जिन सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई की गई है, अगर वे नियमानुसार माफी मांगते हैं तो इसपर विचार किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने सोमवार को राज्यसभा के सभापति को पत्र लिखकर सांसदों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

इन 12 सांसदों का निलंबन

सदन में अनुशासनहीनता के आरोप में राज्यसभा के 12 सांसदों को निलंबित कर दिया गया है। इसमें सीपीएम के इलामाराम करीम, कांग्रेस की फूलो देवी नेताम, छाया वर्मा, आर बोरा, राजमणि पटेल, सैयद नासिर हुसैन, अखिलेश प्रसाद सिंह, भाकपा के बिनाय विश्वम, टीएमसी की डोला सेन और शांता छेत्री और शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी और अनिल देसाई को मौजूदा सत्र के शेष भाग के लिए निलंबित कर दिया गया है।

संसद में कृषि कानून वापसी बिल पास

सोमवार को संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन लोकसभा और राज्यसभा में कृषि विधि निरसन विधेयक, 2021 को मंजूरी प्रदान कर दी गई। विपक्ष लगातार इस विधेयक पर चर्चा की मांग करते हुए भारी हंगामा कर रहा था, जिस कारण सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित करना पड़ा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.