संसद टीवी संसदीय व्यवस्था में एक और अहम अध्याय : पीएम मोदी

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बुधवार को संसद टीवी का उद्घाटन किया। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज का दिन हमारी संसदीय व्यवस्था में एक और महत्वपूर्ण अध्याय जोड़ रहा है।

Arun Kumar SinghWed, 15 Sep 2021 06:40 PM (IST)
संसद टीवी के उद्घाटन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली, प्रेट्र। उपराष्ट्रपति एवं राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बुधवार को संयुक्त रूप से 'संसद टीवी' की शुरुआत की। यह चैनल लोकसभा टीवी और राज्यसभा टीवी को मिलाकर बनाया गया है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज का दिन भारतीय संसदीय व्यवस्था में एक और महत्वपूर्ण अध्याय जोड़ रहा है। उन्होंने कहा कि आज देश को संसद टीवी के रूप में संचार और संवाद का एक ऐसा माध्यम मिल रहा है, जो देश के लोकतंत्र और जनप्रतिनिधियों की नई आवाज के रूप में काम करेगा।

नायडू, बिरला और पीएम ने किया नए चैनल का शुभारंभ

पीएम ने कहा कि तेजी से बदलते समय में मीडिया और टीवी चैनलों की भूमिका भी बहुत तेजी से बदल रही है। 21वीं सदी तो विशेष रूप से संचार और संवाद के जरिये क्रांति ला रही है।उन्होंने कहा कि ऐसे में स्वाभाविक हो जाता है कि संसद से जुड़े चैनल भी इन आधुनिक व्यवस्थाओं के हिसाब से खुद को बदलें। मुझे खुशी है कि संसद टीवी के तौर पर आज एक नई शुरुआत हो रही है। अपने नए अवतार में यह सोशल मीडिया और ओटीटी प्लेटफार्म पर भी रहेगा। इसका अपना एक एप भी होगा।

भारत के लिए लोकतंत्र केवल एक व्यवस्था नहीं है बल्कि एक विचार

अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस का उल्लेख करते हुए पीएम ने कहा कि जब लोकतंत्र की बात होती है तो भारत की जिम्मेदारी कहीं ज्यादा बढ़ जाती है क्योंकि भारत लोकतंत्र का जनक है। उन्होंने कहा कि भारत के लिए लोकतंत्र केवल एक व्यवस्था नहीं है बल्कि एक विचार है। भारत में लोकतंत्र सिर्फ संवैधानिक ढांचा ही नहीं है बल्कि एक भावना है। भारत में लोकतंत्र संविधान की धाराओं का संग्रह ही नहीं है यह तो हमारी जीवनधारा है। इसलिए अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस के दिन संसद टीवी की लांचिंग होना अपने आप में बहुत प्रासंगिक हो जाता है।

ज्ञात हो कि छह सदस्यीय समिति ने राज्यसभा टीवी और लोकसभा टीवी का विलय कर संसद टीवी बनाने की सिफारिश की थी। संसद सत्र के दौरान संसद टीवी के दो प्लेटफार्म उपलब्ध रहेंगे, जिनमें से एक पर राज्यसभा और दूसरे पर लोकसभा की कार्यवाही का सीधा प्रसारण होगा। संसद सत्र नहीं चलने पर संसद टीवी एक ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध होगा।

संसद टीवी के सीईओ सेवानिवृत्त अधिकारी रवि कपूर हैं। उनकी नियुक्ति मार्च, 2021 में एक साल के लिए की गई है। समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार कांग्रेस नेता कर्ण सिंह, अर्थशास्त्री विवेक देबरॉय, नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत और अधिवक्ता हेमंत बत्रा नए चैनल पर अलग-अलग शो की मेजबानी करेंगे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.