दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

कोरोना संक्रमण के चलते अब बंगाल में पीएम मोदी की नहीं होगी बड़ी रैली, सिर्फ 500 लोग ही होंगे शामिल

भाजपा ने बंगाल चुनाव में अपनी रैलियों को किया सीमित, मोदी की अब एक ही दिन होगी रैली।

मोदी की बंगाल में 23 अप्रैल को मालदा मुर्शिदाबाद सिवली और दक्षिण कोलकाता में चार रैलियां होनी हैं। मगर पीएम अब किसी एक स्थान से ही संबोधन करेंगे जिसका अन्य रैली स्थलों पर वर्चुअल प्रसारण होगा। पीएम के 22 अप्रैल के कार्यक्रम रद हुए।

Bhupendra SinghTue, 20 Apr 2021 02:02 AM (IST)

जागरण टीम, नई दिल्ली। बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच भारतीय जनता पार्टी ने बंगाल में अपनी चुनावी रैलियों को सीमित रखने का फैसला किया है। पार्टी की तरफ से बंगाल में अब कोई भी बड़ी रैली नहीं होगी और प्रधानमंत्री व अन्य नेताओं की रैलियों में अधिकतम 500 लोग ही जुट सकेंगे।

बिहार की तर्ज पर वर्चुअल तरीके से अधिक से अधिक लोगों से जुड़ने की तैयारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब शेष बचे चरणों में एक ही दिन रैली करेंगे और बिहार चुनाव की तर्ज पर पीएम की रैलियां वर्चुअल तरीके से होंगी। कोरोना से लोगों को सुरक्षित रखने के लिए भाजपा बंगाल में छह करोड़ मास्क और सैनिटाइगर का वितरण भी करेगी।

भाजपा ने अपनी सभी राज्य ईकाइयों को कोरोना हेल्प डेस्क बनाने का दिया निर्देश

इसके अलावा केंद्रीय नेतृत्व की ओर से बंगाल भाजपा को कोरोना हेल्प डेस्क बनाने की निर्देश भी दिया गया है। इन हेल्प डेस्क से लोगों को अस्पतालों में बेड और दवाई दिलाने में मदद की जाएगी। इसके अलावा लोगों इम्यूनिटी किट भी बांटी जाएंगी। दरअसल भाजपा ने अपना सभी राज्य ईकाइयों को कोरोना हेल्प डेस्क बनाने का निर्देश जारी किया है।

भाजपा ने कहा- संवैधानिक और लोकतांत्रिक दायित्वों को पूरा किया जाना जरूरी

भाजपा ने कहा कि इस कठिन वक्त में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ना बहुत अहम है। पार्टी ने साफ किया कि अब उसकी रैलियां सभी कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करते हुए खुले स्थानों पर ही आयोजित की जाएंगी। बंगाल में जारी विधानसभा चुनाव के संदर्भ में भाजपा ने कहा कि संवैधानिक और लोकतांत्रिक दायित्वों को भी पूरा किया जाना जरूरी है।

भाजपा बंगाल में पीएम मोदी का संदेश लाखों लोगों तक डिजिटल नेटवर्क से पहुंचाएगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश ने कड़ी चुनौतियों को पार किया है और एक बार फिर करेगा। भाजपा की सूचना प्रोद्योगिकी (आइटी) विंग के प्रमुख और बंगाल में पार्टी के सह प्रभारी अमित मालवीय ने कहा कि पार्टी अपने विशाल डिजिटल नेटवर्क का इस्तेमाल करेगी और लाखों लोगों तक प्रधानमंत्री व अन्य नेताओं का संदेश इसके जरिए पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बिहार चुनाव में भी कोरोना संक्रमण के दौरान हमने सफलतापूर्वक यह काम किया था।

मोदी की बंगाल में 23 अप्रैल को चार रैलियां होनी थीं, अब होगी आखिरी एक रैली 

दूसरी तरफ, भाजपा महासचिव और बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय से निर्देश प्राप्त हुए हैं कि प्रधानमंत्री की सभाओं का स्वरूप बदला जाए। शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखा जाए। मोदी की बंगाल में 23 अप्रैल को मालदा, मुर्शिदाबाद, सिवली और दक्षिण कोलकाता में चार रैलियां होनी हैं। मगर पीएम अब किसी एक स्थान से ही संबोधन करेंगे, जिसका अन्य रैली स्थलों पर वर्चुअल प्रसारण होगा। यही उनकी बंगाल चुनाव में आखिरी रैली होगी। हर विधानसभा क्षेत्र में प्रधानमंत्री के भाषण को सुनने के लिए बड़ी-बड़ी स्क्रीन लगाई जाएंगी। इससे रैली स्थल पर कम से कम लोग पहुंचेंगे। वहीं, पीएम के 22 अप्रैल के कार्यक्रमों को रद कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ममता नहीं करेंगी बड़ी जनसभा, चुनाव प्रचार में की कटौती

वहीं, कोरोना के चलते मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी अपने चुनाव प्रचार में कटौती और बड़ी जनसभा नहीं करने की घोषणा की है। इससे पहले राहुल गांधी ने अपनी सभी रैलियां कोरोना के चलते रद कर दी थीं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.