कोरोना काल में एनएचएआइ को हुआ 3,512 करोड़ का नुकसान, नितिन गडकरी ने लोकसभा में दी जानकारी

गडकरी ने बताया कि किसानों के प्रदर्शन के कारण कई स्थानों पर टोल प्लाजा बंद रहने से 814.13 करोड़ का नुकसान हुआ। एक अन्य प्रश्न पर उन्होंने बताया कि देश में इलेक्टि्रक वाहनों का प्रयोग तेजी से बढ़ रहा है।

Dhyanendra Singh ChauhanFri, 06 Aug 2021 01:01 AM (IST)
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी की फाइल फोटो

नई दिल्ली, प्रेट्र। कोरोना के कारण लगे प्रतिबंधों की वजह से वित्त वर्ष 2020-21 में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) को 3,512.62 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। लोकसभा में केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने यह जानकारी दी।

गडकरी ने बताया कि किसानों के प्रदर्शन के कारण कई स्थानों पर टोल प्लाजा बंद रहने से 814.13 करोड़ का नुकसान हुआ। एक अन्य प्रश्न पर उन्होंने बताया कि देश में इलेक्टि्रक वाहनों का प्रयोग तेजी से बढ़ रहा है। 2018 में मीडियम और हैवी पैसेंजर व्हीकल श्रेणी में ईवी की संख्या 124 थी, जो आज 1,356 पर पहुंच गई है।

एक प्रश्न के उत्तर में कपड़ा राज्य मंत्री दर्शना विक्रम ने राज्यसभा में बताया कि पिछले दो साल में नेशनल टेक्सटाइल कापोरेशन के अधीन कोई मिल बंद नहीं हुई है। कोरोना काल में कुछ मिलों में काम रोका गया था।

फ्लेक्स-फ्यूल वाहनों के रोल-आउट पर जोर

पिछले दिनों गडकरी ने भारतीय ऑटो बाजार में एक साल के भीतर फ्लेक्स-फ्यूल वाहनों (एफएफवी) के रोल-आउट पर जोर दिया। गडकरी ने वाहन निर्माताओं से वाहन के सभी वेरिएंट और सेगमेंट में कम से कम छह एयरबैग अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने की भी अपील की।

मंत्री ने एक ट्वीट कर कहा था कि नई दिल्ली में सियाम (सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स) के सीईओ के एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की। भारत में 100 फीसद इथेनॉल और गैसोलीन पर चलने में सक्षम फ्लेक्स-फ्यूल व्हीकल्स (एफएफवी) के एक साल के भीतर रोल-आउट की आवश्यकता पर जोर दिया गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.