राज्यों की सलाह से बनेगी राष्ट्रीय कपड़ा नीति; संसद में स्मृति इरानी ने कहा, नए बाजारों की हुई पहचान

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति इरानी (Smriti Irani) ने कहा है कि सरकार राज्यों के सलाह मशविरे के साथ राष्ट्रीय कपड़ा नीति तैयार कर रही है। इसके तहत घरेलू मैन्यूफैक्चरर के साथ साथ टेक्सटाइल निर्यात को बढ़ाने के उपाय किये जाएंगे।

राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में इरानी ने कहा राष्ट्रीय कपड़ा नीति पर अभी राज्यों के साथ विचार विमर्श चल रहा है। एक पूरक प्रश्न के जवाब में केंद्रीय कपड़ा मंत्री ने कहा कि टेक्सटाइल निर्यात को बढ़ाने की दिशा में मौजूदा बाजारों के साथ साथ 12 नए बाजारों की पहचान भी की गई है।

इरानी ने कहा कि सरकार इस बात के प्रयास भी कर रही है कि छोटे निर्यातक सरकार की मदद से मझोली कंपनियों में तब्दील हो सकें।

अब तक 1868 आवेदन मिल चुके

कपड़ा मंत्री ने सदन को बताया कि छह हजार करोड़ रुपये के राहत पैकेज के ऐलान के बाद एटीयूएफएस स्कीम के तहत अब तक 1868 आवेदन मिल चुके हैं। इनमें 13612 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है। एक लिखित जवाब में इरानी ने कहा कि स्पेशल पैकेज के तहत अपेरल का निर्यात अक्टूबर 2016 से अगस्त 2019 के दौरान 327895 करोड़ रुपये का रहा।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.