विवादास्पद बयान से अपने घर में भी घिरे दिग्विजय सिंह, पाकिस्तान परस्त होने का लगा आरोप

शिवराज ने ट्वीटर पर जारी वीडियो में कहा जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। ये कांग्रेस ही थी जिसने वहां अनुच्छेद 370 लगाने का पाप किया था। प्रधानमंत्री ने इसे हटाया। अब देश में दो विधान दो निशान नहीं हैं। लेकिन कांग्रेस अब फिर पाकिस्तान की भाषा बोल रही है।

Arun Kumar SinghSat, 12 Jun 2021 07:50 PM (IST)
पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह

भोपाल, राज्य ब्यूरो। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह के चैट एप क्लब हाउस पर सत्ता में आने पर जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद- 370 को लागू करने संबंधी बयान से शनिवार को दिनभर मध्य प्रदेश की सियासत गर्म रही। भाजपा नेताओं ने इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। ट्वीटर पर भाजपा के कई नेताओं ने बयान को देश के साथ गद्दारी करार दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बयान को कांग्रेस की पाकिस्तानी मानसिकता वाला बताते हुए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से जवाब मांगा है।

अब फिर पाकिस्तान की भाषा बोल रही है कांग्रेस

शिवराज ने ट्वीटर पर जारी वीडियो में कहा, जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। ये कांग्रेस ही थी, जिसने वहां अनुच्छेद-370 लगाने का पाप किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे हटाया। अब देश में दो विधान, दो निशान नहीं हैं। लेकिन, कांग्रेस अब फिर पाकिस्तान की भाषा बोल रही है। क्या कांग्रेस फिर अलगाववाद और आतंकवाद को प्रश्रय देगी।

सिंधिया बोले- ये कांग्रेस की नीति और नीयत का सच

राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कांग्रेस आज भी पाकिस्तान का पक्ष लेने से नहीं चूकती है। कांग्रेस की नीति और नीयत का यह सच है। मुझे आश्चर्य नहीं हुआ।

विजयवर्गीय ने पूछा- क्या आलाकमान के इशारे पर दिया बयान

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि सोनिया गांधी सहित तमाम कांग्रेसी दिग्विजय के इस बयान पर मौन क्यों हैं। क्या यह बयान कांग्रेस आलाकमान के इशारे पर दिया गया है।

देश से गद्दारी है दिग्विजय का बयान : सारंग

प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा, दिग्विजय का बयान देश से गद्दारी की श्रेणी में आता है। ऐसे लोगों को देश में रहने का हक नहीं है।

उमा ने कहा-दिग्विजय की राष्ट्रभक्ति शंका के दायरे में

पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा कि दिग्विजय सिंह का बयान देश की अखंडता, एकता और संप्रभुता के खिलाफ है। ऐसे विचार दिग्विजय और कांग्रेस की राष्ट्रभक्ति को शंका के दायरे में खड़ा करते हैं।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने की एनआइए से जांच की मांग

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर दिग्जिवजय सिंह की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) से जांच कराने की मांग की है।

बैकफुट पर कांग्रेस, कहा - व्यक्तिगत बयान

दिग्विजय के इस बयान पर कांग्रेस बैकफुट पर आ गई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि यह दिग्विजय सिंह का व्यक्तिगत बयान है। पार्टी में इस संबंध में कोई बात नहीं हुई है। हालांकि, भाजपा उनके पुराने वीडियो के आधार पर झूठ फैला रही है। भाजपा नेताओं को अंग्रेजी शब्दकोश का अध्ययन कर शेल और कंसिडर का फर्क पता करना चाहिए। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री (मीडिया) केके मिश्रा ने कहा कि इस विषय पर पार्टी फोरम पर बात की जाएगी। हालांकि, दिग्विजय सिंह के बयान को तोड़-मरोड़कर दर्शाया गया है। वह अपना मत स्पष्ट कर चुके हैं। भाजपा इसे अनुचित तरीके से तूल दे रही है।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.