Monsoon Session Updates: विपक्ष के हंगामे केे कारण आज भी बाधित रहा संसद, राज्यसभा में पारित हो सका एक विधेयक

Monsoon Session Updates पेगासस मुद्दे पर आज भी संसद सत्र के दिनभर बाधित रहने के ही आसार हैं। पेगासस मुद्दे पर संसद में आज विपक्षी दलों का हंगामा जारी है। विपक्षी सांसदों ने लोकसभा में लगाया खेला होबे का नारा।

Shashank PandeyWed, 28 Jul 2021 08:38 AM (IST)
संसद में पेगासस मुद्दे पर विपक्षी सांसदों का हंगामा।(फोटो: एएनआइ)

नई दिल्ली, एजेंसियां। संसद के मानसून सत्र का बुधवार को सातवां दिन भी आधे से अधिक विपक्ष के हंगामे की भेंट चढ़ चुका है। बार-बार पेगासस मुद्दे पर हंगामे के के कारण संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही को  स्थगित करना पड़ रहा है। इस बीच राज्यसभा में जुवेनाइल जस्टिस (Care and Protection of Children) संशोधन विधेयक 2021 पारित किया गया और सदन को 29 जुलाई सुबह 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया। लोकसभा भी कल तक के लिए स्थगित कर दी गई।

इससे पहले दोनों सदनों को 3 बजे फिर 4 बजे दोपहर दो बजे तक स्थगित किया गया था। आज की कार्यवाही शुरू होते ही हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्यवाही को 12 बजे तक स्थगित करना पड़ा था। आज लोकसभा में विपक्षी सांसदों ने पेगासस मुद्दे पर नारेबाजी भी की।

पेगासस जासूसी प्रकरण की जांच कराए जाने की मांग को लेकर विपक्ष ने अब तक सदन कार्यवाही नहीं चलने दी है। इसके अलावा विपक्ष तीन कृषि कानूनों और महंगाई के मुद्दों पर भी आंदोलित है। 19 जुलाई से शुरू हुए मानसून सत्र में अब तक एक भी दिन संसद की कार्यवाही ठीक से नहीं चल पाई है। संसद में हर दिन विपक्षी दलों ने हंगामा कर कार्यवाही को बाधित किया है।

LIVE Monsoon Session Updates:

भाजपा का शशि थरूर पर निशाना

शशि थरूर के खिलाफ विशेषाधिकार प्रस्ताव पेश करने पर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि कांग्रेस संसद को चलने नहीं दे रही है। अगर संसद नहीं चल रही है तो आप स्थायी समिति में (पेगासस पर) ऐसी चर्चा क्यों चाहते हैं, जो संसद का विस्तार हो? उन्होंने कहा कि स्थायी समिति के अध्यक्ष अध्यक्ष की शक्तियों के तहत काम करते हैं और अनुच्छेद 94 और अनुच्छेद 96 कहते हैं कि अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जा सकता है। इसलिए हमने लिखा है कि हम इन नियमों के तहत अध्यक्ष को हटाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि आईटी पर संसदीय स्थायी समिति के 30 में से 17 सदस्यों ने (अध्यक्ष को) लिखा है कि हमें अब उन पर (शशि थरूर) भरोसा नहीं है। स्थायी समिति के अध्यक्ष को हटाने का कोई प्रावधान नहीं है।

पेगासस पर राहुल गांधी ने सरकार से पूछे सवाल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि हम सिर्फ एक सवाल पूछना चाहते हैं। क्या भारत सरकार ने पेगासस को खरीदा है? हां या नहीं। क्या सरकार ने अपने ही लोगों के खिलाफ पेगासस हथियार का इस्तेमाल किया? हमें सरकार द्वारा स्पष्ट रूप से कहा गया है कि सदन में पेगासस पर कोई चर्चा नहीं होगी।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि हमारे लिए पेगासस, राष्ट्रवाद और देशद्रोह से जुड़ा मामला है। इस हथियार का इस्तेमाल लोकतंत्र के खिलाफ किया गया है। मेरे लिए, यह गोपनीयता की बात नहीं है। मैं इसे एक राष्ट्रविरोधी कृत्य के रूप में देखता हूं। नरेंद्र मोदी और अमित शाह जी ने भारत के लोकतंत्र की आत्मा पर हमला किया है। हम सिर्फ एक सवाल पूछना चाहते हैं। क्या भारत सरकार ने Pegasus को खरीद लिया है? हां या नहीं। क्या सरकार ने अपने ही लोगों के खिलाफ पेगासस हथियार का इस्तेमाल किया? हमें सरकार द्वारा स्पष्ट रूप से कहा गया है कि सदन में पेगासस पर कोई चर्चा नहीं होगी।

राहुल गांधी ने कहा कि हम नरेंद्र मोदी और अमित शाह से जानना चाहते हैं - आपने भारत के लोकतांत्रिक संस्थानों के खिलाफ इस हथियार (पेगासस स्पाइवेयर) का इस्तेमाल क्यों किया?

- संसद में शिवसेना सांसद संजय राउत ने पेगासस जासूसी मुद्दे पर कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा और कृषि कानूनों के मुद्दों पर पूरा विपक्ष एकजुट है और रहेगा।

देश की पहली डिजिटल जनगणना होगी

राज्य सभा में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि आगामी जनगणना पहली डिजिटल जनगणना होगी और इसमें स्व-गणना का प्रावधान है। डेटा संग्रह के लिए एक मोबाइल ऐप और विभिन्न संबंधित गतिविधियों के प्रबंधन और निगरानी के लिए एक जनगणना पोर्टल विकसित किया गया है।

रोहिंग्या राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा- नित्यानंद राय

राज्यसभा में यह पूछे जाने पर कि क्या सरकार रोहिंग्याओं के पुनर्वास को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा मानती है। इस पर गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने एक लिखित जवाब में कहा है कि अवैध प्रवासी (रोहिंग्या सहित) राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करते हैं। कुछ रोहिंग्या प्रवासियों के अवैध गतिविधियों में लिप्त होने की खबरें हैं।

- गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राज्यसभा में लिखित जवाब में बताया कि लक्षद्वीप के केंद्र शासित प्रदेश के लिए पूर्ण राज्य का ऐसा कोई प्रस्ताव विचाराधीन नहीं है। यह पूछे जाने पर कि क्या सरकार ने केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप को पूर्ण राज्य का दर्जा देने पर विचार किया है।

राज्य सभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि 30 जून को, सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को COVID के कारण मरने वाले व्यक्तियों के परिवारों को अनुग्रह भुगतान के लिए दिशानिर्देशों की सिफारिश करने का निर्देश दिया था। मामला सभी हितधारकों के परामर्श से है।

गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि जम्मू-कश्मीर में सामान्य स्थिति बहाल होने के बाद जम्मू-कश्मीर को उचित समय पर राज्य का दर्जा दिया जाएगा।

- केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा है कि कांग्रेस और टीएमसी सांसदों ने आज संसद को चलने नहीं देने की कोशिश की। वे अपना विरोध दर्ज करा सकते हैं लेकिन उसकी भी एक सीमा होती है। उन्होंने स्पीकर, मंत्रियों और यहां तक ​​कि मीडिया गैलरी पर भी कागज फेंके और तख्तियां दिखाईं। विपक्ष चर्चाओं से क्यों भाग रहा है? उन्होंने कहा कि विपक्ष इस तरह के आपत्तिजनक कृत्यों में क्यों शामिल है? क्या विपक्ष के पास चर्चा के लिए पर्याप्त मुद्दे नहीं हैं? क्या विपक्ष दुनिया भर में भारत को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है? हम इस तरह के कृत्यों की कड़ी निंदा करते हैं।

- 'पेगासस प्रोजेक्ट' रिपोर्ट पर चर्चा की मांग को लेकर विपक्षी सांसदों के हंगामे के बाद राज्यसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर गई है।  इसके साथ ही पेगासस मुद्दे पर लोकसभा में भी विपक्षी सांसदों के हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है।

- इससे पहले पेगासस मुद्दे पर लोकसभा में विपक्षी सांसदों की नारेबाजी के बाद सदन की कार्यवाही 12.30 बजे तक स्थगित कर दी गई।

- विपक्षी सांसदों ने लोकसभा में लगाया 'खेला होबे' का नारा, 'पेगासस प्रोजेक्ट' रिपोर्ट पर चर्चा की मांग।

- केंद्रीय मंत्री मुख़्तार अब्बास नक़वी ने संसद की कार्यवाही नहीं चल पाने पर कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस से अपना घर संभल नहीं रहा। आज भी अधिकांश विपक्ष के लोग चाहते हैं कि संसद चले, वाद-विवाद और चर्चा होनी चाहिए। लेकिन कांग्रेस अपने नकारात्मक फैसलों को विपक्ष पर थोपकर विपक्ष की अन्य पार्टियों की सकारात्मक सोच को भी बंधक बनाना चाहती है।

- राज्यसभा की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित कर दी गई है।

- कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने संसद में विपक्षी नेताओं की बैठक के बाद कहा है कि हम महंगाई, पेगासस और किसानों के मुद्दों पर समझौता नहीं करना चाहते। हम सदन में चर्चा चाहते हैं। विपक्षी नेताओं की बैठक में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि सरकार यह कहकर विपक्ष को बदनाम कर रही है कि हम संसद को चलने नहीं दे रहे हैं जबकि हम देश के नागरिकों, किसानों और सुरक्षा से जुड़े मामलों को उठा रहे हैं। विपक्षी नेताओं ने उनका समर्थन किया है।

बता दें, संसद की आज की कार्यवाही शुरू होने से पहले विपक्षी दलों के नेताओं की एक बैठक हुई, जिसमें कई मुद्दों पर चर्चा की गई है।

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने संसद में पीएम कार्यालय में एक बैठक की है।

 - संसद की आज की कार्यवाही शुरू होने से पहले आज विपक्षी दलों के नेताओं की एक बैठक हुई है। विपक्षी दलों के नेताओं ने दोनों सदनों में कई मुद्दों पर भविष्य की कार्रवाई के लिए संसद में बैठक की। बैठक में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी मौजूद हैं।

- भाकपा (मार्क्सवादी) सांसद एलाराम करीम ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत कामकाज स्थगित करने का नोटिस दिया है और 'पेगासस प्रोजेक्ट' रिपोर्ट पर चर्चा की मांग की है।

आज संसद में फिर हंगामे के आसार

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे दोनों सदनों में भविष्य की कार्रवाई के लिए संसद में सभी समान विचारधारा वाले विपक्षी दलों की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी बैठक में शामिल होंगे। इसके अलावा कांग्रेस सांसद राहुल गांधी समेत विपक्षी नेता 'पेगासस प्रोजेक्ट' रिपोर्ट पर चर्चा के लिए आज लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस देंगे।

- कांग्रेस सांसद शशि थरूर के नेतृत्व वाले सूचना प्रौद्योगिकी संसदीय पैनल ने सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय और गृह मंत्रालय के अधिकारियों को कथित पेगासस जासूसी मुद्दे पर आज संसद में पेश होने के लिए तलब किया है।

- कांग्रेस सांसद रिपुन बोरा ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत व्यावसायिक नोटिस को निलंबित कर दिया, असम-मिजोरम सीमा संघर्ष पर चर्चा की मांग की, जिसमें 6 असम पुलिस कर्मियों के जीवन का दावा किया गया था।

आज संसद में पेगासस मुद्दे पर कार्यस्थगन नोटिस देगा विपक्ष

विपक्षी पार्टियों ने मंगलवार को केंद्र सरकार से कहा कि संसद में जारी गतिरोध खत्म करने के लिए वह सर्वदलीय बैठक बुलाए। हालांकि, उन्होंने पेगासस जासूसी मामले पर चर्चा कराने और सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में इसकी जांच कराने की मांग भी दोहराई। सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी और विपक्ष के कई अन्य नेता पेगासस मुद्दे पर बुधवार को लोकसभा में कार्यस्थगन का नोटिस देंगे। इसी तरह राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अन्य नेता भी कार्यस्थगन का नोटिस देंगे। यह फैसला मंगलवार को विपक्षी नेताओं की बैठक में लिया गया।

बैठक में कौन-कौन रहा शामिल ?

इस बैठक में कांग्रेस के राहुल गांधी और अधीर रंजन चौधरी, द्रमुक के टीआर बालू और कनीमोरी, राकांपा की सुप्रिया सुले, शिवसेना के अरविंद सावंत और नेशनल कांफ्रेंस के हसनैन मसूदी ने भाग लिया। इसके अलावा बसपा, केरल कांग्रेस, माकपा, आरएसपी और आइयूएमएल के प्रतिनिधियों ने भी बैठक में भाग लिया। इस बीच, सात विपक्षी पार्टियों- राकांपा, बसपा, आरएलपी, अकाली दल, नेशनल कांफ्रेंस, भाकपा और माकपा के नेताओं ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द को पत्र लिखकर अनुरोध किया कि वे संसद में किसानों के मुद्दे और पेगासस फोन टैपिंग पर चर्चा कराने के लिए दखल दें।

बुधवार(28 जुलाई) को संसद का कार्यक्रम

लोकसभा

विचार और पारित करने के लिए विधेयक

-दि इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (संशोधन)

विधेयक, 2021

- परिचय, विचार और पारित करने के लिए विनियोग विधेयक

राज्य सभा

विचार और पारित करने के लिए विधेयक

-किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) संशोधन विधेयक, 2021

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.