Maharashtra Govt Formation: महाराष्‍ट्र में लगा राष्‍ट्रपति शासन, मिली मंजूरी

मुंबई, एजेंसी/ब्‍यूरो। Maharashtra Government Formation Live Updates: महाराष्ट्र में सोमवार को दिनभर चली सियासी उठापटक के बावजूद सरकार गठन बनती नहीं दिख रही है। आज मंगलवार को यह फैसला हो सकता है कि राज्‍य में किसी की सरकार बनेगी या राष्‍ट्रपति शासन लागू होगा। समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, भगत सिंह कोश्‍यारी ने राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन की सिफारिश कर दी है। न्‍यूज एजेंसी पीटीआइ ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि केंद्रीय कैबिनेट ने भी राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन की सिफारिश की है। वहीं शिवसेना ने राष्‍ट्रपति शासन की स्थिति में सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया है। एएनआइ ने सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट दी है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राष्‍ट्रपति शासन की स्थिति में मामले को चुनौती देने के मसले पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल से बात की है। 

Maharashtra Government Formation Live Updates...

- महाराष्‍ट्र में लगा राष्‍ट्रपति शासन, राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से मंजूरी मिली।

- मुंबई में एनसीपी प्रमुख शरद पवार से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल और केसी वेणुगोपाल।  

- शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके राज्‍यपाल (Maharashtra Governor) फैसले को चुनौती दी है कि सरकार बनाने के लिए उसे पर्याप्‍त समय नहीं दिया गया। वकील सुनील फर्नांडीज (Sunil Fernandez) ने शिवसेना की ओर से यह याचिका दाखिल की। 

- राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी के ट‍ि्वटर हैंडलर पर राष्‍ट्रपति को सौंपी गई उस रिपोर्ट का एक हिस्‍सा शेयर किया है जिसमें उन्‍होंने संविधान के अनुरूप राज्‍य में किसी भी पार्टी की सरकार नहीं बनने का हवाला देते हुए राष्‍ट्रपति शासन की सिफारिश की है। 

- समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी इस बात से मुतमइन हैं कि महाराष्‍ट्र में संविधान के अनुरूप सरकार नहीं बन सकती है। इसे देखते हुए उन्‍होंने संविधान के अनुच्छेद 356 (राष्ट्रपति शासन) के प्रावधानों के अनुसार रिपोर्ट भेजी है।

- समाचार एजेंसी पीटीआइ ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि केंद्रीय कैबिनेट ने भी महाराष्‍ट्र में राष्‍ट्रपति शासन की सिफारिश कर दी है। हालांकि, राज्‍यपाल ने राकांपा को सरकार बनाने के लिए समर्थन पत्र देने के लिए रात साढ़े आठ बजे तक का समय दिया है। लेकिन यदि रात साढ़े आठ बजे तक राकांपा बहुमत का आंकड़ा नहीं जुटा पाती है तो राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन तय माना जा रहा है। 

- एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि राकांपा की बैठक हुई है जिसमें सभी 54 विधायक मौजूद थे। बैठक में फैसला लिया गया है कि राज्य में अनिश्चितता को देखते हुए शरद पवार जी ही वैकल्पिक सरकार पर निर्णय देंगे। शरद पवार के नेतृत्व में एक समिति गठित होगी। 

- मलिक ने यह भी बताया कि राज्‍यपाल ने उन्‍हें आज साढ़े आठ बजे तक का समय दिया है। वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे और केसी वेणुगोपाल की पवार साहब के साथ शाम पांच बजे बैठक होगी। इसमें आपसी बातचीत के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। मलिक Nawab Malik ने यह भी कहा कि पार्टी का मानना है कि बिना तीन दलों कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के मिले कोई वैकल्‍प‍िक सरकार नहीं बन पाएगी। यदि तीनों पार्टियां साथ आती है तो एक स्‍थाई सरकार बनाई जा सकती है। 

- समाचार एजेंसी एएनआइ ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी ने महाराष्‍ट्र में राष्‍ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश कर दी है। इस बीच केंद्रीय कैबिनेट की बैठक भी खत्‍म हो गई है। माना जा रहा है कि इसमें राज्‍य को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है। 

- समाचार एजेंसी एएनआइ ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि राज्‍यपाल यदि राष्‍ट्रपति शासन लगाते हैं तो शिवसेना सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा सकती है। उद्धव ठाकरे ने इस मसले पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्‍बल और अहमद पटेल से बात की है। 

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्राजील में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के लिए आज दोपहर को रवाना होने से ठीक पहले एक कैबिनेट बैठक बुलाई है। माना जा रहा है कि यह बैठक महाराष्ट्र के राजनीति को लेकर हो रही है। 

- एआइएमआइएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि हम न तो भाजपा की अगुवाई वाली सरकार का समर्थन करेंगे और ना ही शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार का। मैं खुश हूं कि यदि कांग्रेस और राकांपा शिवसेना का समर्थन कर रही है तो लोगों को पता चल जाएगा कि कौन किसके वोट काट रहा है और कौन किससे टकरा रहा है।

- भाजपा नेता आशीष शेलार ने मुंबई के लीलावती अस्‍पताल में शिवसेना नेता संजय राउत से मुलाकात की। 

- कांग्रेस नेता एवं महाराष्‍ट्र प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे ने समाचार एजेंसी एएनआइ से बातचीत में कहा कि एनसीपी प्रमुख से बातचीत जारी है। हम एकदूसरे से बातचीत करके ही कोई फैसला लेंगे। इस बीच कुछ मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया है कि कांग्रेस नेता अहमद पटेल, मल्लिकार्जुन खड़गे और केसी वेणुगोपाल दोपहर बाद मुंबई रवाना होंगे। 

- शिवसेना नेता मनोहर जोशी ने कहा है कि सरकार उनकी पार्टी की ही बनेगी। हालांकि, उन्‍होंने यह भी कहा कि कांग्रेस का क्‍या रुख होगा उन्‍हें इसकी जानकारी नहीं है। इसी बीच कांग्रेस की कोर कमेटी की बैठक जारी है। इसमें आज कोई फैसला लिया जा सकता है।  

- यह पूछे जाने पर कि क्‍या आज कांग्रेस और एनसीपी के बीच कोई बैठक पूर्व निर्धारित है। राकांपा प्रमुख शरद पवार ने जवाब दिया कि नहीं... मुझे इस बात की कोई जानकारी नहीं है। 

- शिवसेना अध्‍यक्ष उद्धव ठाकरे ने लीलावती अस्‍पताल जाकर पार्टी नेता संजय राउत का हाल चाल जाना। इससे पहले NCP प्रमुख शरद पवार शिवसेना नेता संजय राउत से मिलने लीलावती अस्‍पताल पहुंचे थे। राउत सोमवार को सीने में दर्द की शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था। 

- राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने केंद्रीय मंत्री एवं शिवसेना सांसद अरविंद सावंत का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। प्रधानमंत्री मोदी की सलाह के बाद इसे स्वीकार किया गया। राष्ट्रपति की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को उनके मौजूदा प्रभार के अलावा भारी उद्योग एवं लोक उद्यम मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार सौंपा जाए।

- यह पूछे जाने पर कि क्‍या कांग्रेस की ओर से देरी हो रही है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा कि मैं कांग्रेस से बात करूंगा। 

- राकांपा नेता अजित पवार ने कहा कि सरकार के गठन में हमारी ओर से कोई देरी नहीं है। अभी तक कांग्रेस की ओर से हमें समर्थन पत्र नहीं मिला है। कल भी हम कांग्रेस के फैसले का इंतजार करते रहे। हम अकेले  नहीं निर्णय ले सकते हैं। चूंकि हम साथ चुनाव लड़े थे इसलिए एकसाथ फैसला भी लेना चाहिए। 

- महाराष्‍ट्र में जारी सियासी उठापटक के बीच शिवसेना नेता ने ट्वीट कर कहा- कोशिश करने वालों की हार नहीं होती। 

- महाराष्‍ट्र कांग्रेस के नेता कगदा चंद पदवी ने कहा कि सरकार बनाने की कोशिशें जारी है। नतीजा सकारात्‍मक आएगा। मैं समझता हूं कि शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी मिलकर सरकार बना लेंगी। मुख्‍यमंत्री शिवसेना का ही होगा। 

बैकफुट पर शिवसेना 

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कल सोनिया गांधी और शरद पवार से समर्थन मांगा। यही नहीं उन्‍होंने खुद एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात की। वह पवार से मिलने के लिए एक पंच सितारा होटल तक गए। इस बीच पवार ने कहा कि उद्धव ने अभी खुद ही जवाब नहीं दिया है फ‍िर हम आगे कैसे बढ़ सकते हैं। देर शाम राज्यपाल से मिलने के बाद आदित्य ठाकरे बोले कि हमने राज्यपाल से और वक्त मांगा था। वहीं, राज्यपाल ने बयान जारी कर कह दिया कि शिवसेना समर्थन पत्र जमा ही नहीं कर सकी। 

ऐन मौके पर नहीं आया कांग्रेस राकांपा का फैसला 

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सोमवार को दो बार पार्टी नेताओं के साथ बैठक की। देर शाम खबर आई कांग्रेस शिवसेना को बाहर से समर्थन दे सकती है लेकिन महाराष्ट्र प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे ने साफ कर दिया कि एनसीपी के साथ चर्चा बाकी है इसलिए फैसला नहीं हो पाया है। वहीं जल्‍दबाजी में केंद्र में भारी उद्योग मंत्री एवं शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने सोमवार को एनडीए गठबंधन सरकार से इस्तीफा दे दिया। कुल मिलाकर शिवसेना बैकफुट पर है। उसके सरकार बनाने का सपना टूटता दिख रहा है, वहीं भाजपा से भी उसकी राहें अलग हो गई हैं। 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.