गणतंत्र दिवस पर दिखा भारत का कूटनीतिक कद, पड़ोसी देशों के संदेश में वैक्सीन डिप्लोमेसी का जिक्र

गणतंत्र दिवस पर भले ही कोई विदेशी राजकीय मेहमान राजधानी दिल्ली में हुई परेड का साक्षी न बना हो

भारत को खास तौर पर बधाई देने में पड़ोसी देशों के अलावा रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्काट मारीसन इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू जैसे नेता रहे हैं। इन सभी देशों के साथ रणनीतिक संबंध हाल के वर्षों में मजबूत हुए हैं।

Publish Date:Tue, 26 Jan 2021 08:50 PM (IST) Author: Arun kumar Singh

 नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। इस बार गणतंत्र दिवस पर भले ही कोई विदेशी राजकीय मेहमान राजधानी दिल्ली में हुई परेड का साक्षी न बना हो, लेकिन इसके बावजूद जिस तरह से विदेशी मेहमानों की तरफ से बधाई आए हैं, उससे वैश्विक स्तर पर भारत के बढ़े कूटनीतिक कद का पता चलता है। भारत को खास तौर पर बधाई देने में पड़ोसी देशों के अलावा रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन, आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्काट मारीसन, इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू जैसे नेता रहे हैं। इन सभी देशों के साथ भारत के रणनीतिक संबंध रहे हैं जो हाल के वर्षों में काफी मजबूत हुए हैं।

भारत आस्ट्रेलिया के बीच मिटी भौगोलिक दूरी 

आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मारीसन ने अपने वीडियो बधाई संदेश में इस बात पर खुशी जताई है कि भारत के गणतंत्र दिवस के दिन ही उनका देश आस्ट्रेलिया दिवस मनाता है। उन्होंने आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री अल्फ्रेड डेकीन के उस वक्तव्य को उद्धत किया जिसमें उन्होंने कहा था कि वक्त के साथ दोनों देशों के रिश्तों में भौगोलिक दूरी मिटती जाएगी। मारीसन ने हाल में दोनों देशों के मजबूत होते द्विपक्षीय रिश्तों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि सौ वर्ष बाद पूर्व प्रधानमंत्री की बात अब सही साबित हो रही है। मारीसन ने एक और बात कही जिसका व्यापक मतलब निकाला जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गणतंत्र दिवस पर बधाई देते हुए उन्होंने कहा है कि मौजूदा महामारी के बाद आस्ट्रेलिया भारत से अपने और ज्यादा दोस्तों, छात्रों का अपने यहां स्वागत करने को तैयार है। माना जा रहा है कि आस्ट्रेलिया भविष्य में भारतीयों के लिए और नरम वीजा नियम लागू कर सकता है।

भारत मेरे दिल के बेहद करीब : बोरिस जानसन

ब्रिटिश प्रधानमंत्री जानसन का वीडियो संदेश भी काफी भावनापूर्ण रहा है। उन्होंने भारतीय गणतंत्र और यहां के लोकतंत्र की भूरी-भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि मैं अपने दिल के बेहद करीब रहने वाले देश भारत को उसके गणतंत्र दिवस पर बधाई देता हूं। मेरे दोस्त नरेंद्र मोदी ने मुझे इस महत्वपूर्ण दिवस पर वहां आमंत्रित किया था और मैं उसकी तैयारी में भी था। अफसोस, हमारे साझा शत्रु कोविड ने मुझे लंदन में ही रोक रखा है। भारत और ब्रिटेन साथ-साथ मिलकर कोविड वैक्सीन का उत्पादन कर रहे हैं, ताकि मानवता के लिए दुनिया को कोविड महामारी से दूर किया जा सके। मैं भारत के हर नागरिक और ब्रिटेन में रहने वाले भारतीयों को गणतंत्र दिवस की बधाई देता हूं।

दुनिया मानती है भारत की आर्थिक और तकनीकी उपलब्धि : पुतिन

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भारतीय राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को वीडियो संदेश भेजा है। इसमें उन्होंने कहा कि भारत ने आर्थि‍क, सामाजिक, वैज्ञानिक, तकनीकी और दूसरे क्षेत्रों में जो सफलता हासिल की है उसे पूरी दुनिया स्वीकार कर रही है। आज महत्वपूर्ण क्षेत्रीय और वैश्विक एजेंडा तय करने में भारत बेहद रचनात्मक भूमिका निभा रहा है। हम भारत के साथ अपनी महत्वपूर्ण रणनीतिक साझेदारी की अहमियत समझते हैं। मुझे पूरा भरोसा है कि भविष्य में इस साझेदारी को और मजबूत बनाएंगे जो दोनों देशों के नागरिकों के हितों के साथ ही अंतरराष्ट्रीय स्थिरता और स्थायित्व के लिए जरूरी है। सनद रहे कि आज के दिन रूस ने भारत से आने वाले नागरिकों पर कोविड की वजह से जो रोक लगाई थी, वह भी हटाने का एलान किया है। वियतनाम और कुवैत के नागरिकों के आने पर लगी रोक भी हटाई गई है।

बांग्लादेश भारत के बीच विशेष रिश्ता 

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस अवसर पर जो पत्र लिखा है, उसमें कहा है कि बांग्लादेश भारत के साथ विशेष रिश्ता रखता है और दोनों देशों के बीच दोस्ती, सहयोग व भरोसा लगातार बढ़ रहा है। महामारी के संकट काल में भी दोनों देशों ने आपसी भागीदारी के दूसरे आयामों को खोला है। सनद रहे कि इस साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में हुई परेड में बांग्लादेश की एक विशेष टीम हिस्सा लिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.