कोरोना महामारी के चलते केरल में विजयन सरकार के शपथ ग्रहण में कुछ ही लोग होंगे शामिल

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन की फाइल फोटो

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) की केरल इकाई ने शनिवार को नए मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण वर्चुअल प्लेटफार्म पर आयोजित किए जाने का सुझाव दिया। आइएमए ने कोविड-19 के मामलों में अप्रत्याशित वृद्धि को देखते हुए यह सुझाव दिया।

Dhyanendra Singh ChauhanSat, 15 May 2021 10:37 PM (IST)

तिरुअनंतपुरम, प्रेट्र। केरल की नवनिर्वाचित वामपंथी मोर्चा सरकार 20 मई को शपथ ग्रहण करेगी। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि समारोह में बहुत कम ही लोग शामिल हों। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) की केरल इकाई ने शनिवार को नए मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण वर्चुअल प्लेटफार्म पर आयोजित किए जाने का सुझाव दिया। आइएमए ने कोविड-19 के मामलों में अप्रत्याशित वृद्धि को देखते हुए यह सुझाव दिया।

यह पूछे जाने पर कि क्या वर्चुअल समारोह आयोजित होगा, विजयन ने कहा, 'हमारा लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि बड़े पैमाने पर लोगों की भागीदारी नहीं हो। शपथ ग्रहण समारोह में बहुत कम लोग ही भाग लेंगे।' मीडियाकर्मियों ने विजयन से पूछा था कि समारोह में भाग लेने वाले लोगों की कुल संख्या कितनी होगी। बता दें कि मीडिया रिपोर्ट में इससे पहले दावा किया गया था कि 700 से ज्यादा लोगों को समारोह में आमंत्रित किया जा सकता है।

बता दें कि इस बार की विधानसभा में पी. विजयन मुख्यमंत्री होंगे तो उनके दामाद मोहम्मद रियास विधायक होंगे। रियास विजयन की बेटी वीणा के पति हैं। वीणा बेंगुलुर में आइटी इंटरप्रेन्योर हैं। विजयन ने धर्मादम सीट से जहां 50 हजार से अधिक वोटों से जीत हासिल की वहीं रियास ने बेपोर सीट पर 20 हजार मतों से बाजी मारी। हालांकि कुछ एक्जिट पोल में रियास के हारने की संभावना व्यक्त की गई थी

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.