कर्नाटक में अश्‍लील वीडियो से सीएम येदियुरप्‍पा की मुश्किलें बढ़ीं, मंत्री रमेश जरकीहोली ने दिया इस्‍तीफा

मंत्री रमेश जरकीहोली के स्कैंडल में शामिल होने के मामले की जांच की जाए

कर्नाटक के मंत्री रमेश जरकीहोली ने अश्‍लील टेप पर बढ़ते हंगामे के बीच अपना इस्‍तीफा मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा को सौंप दिया है। जरकीहोली ने इस वीडियो को फर्जी बताया था लेकिन विपक्ष इसे मुद्दा बनाकर सरकार घेरने में जुट गया है।

TilakrajWed, 03 Mar 2021 08:13 AM (IST)

हुबली, एएनआइ। कर्नाटक के मंत्री रमेश जरकीहोली ने अश्‍लील टेप पर बढ़ते हंगामे के बीच अपना इस्‍तीफा मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा को सौंप दिया है। मुख्‍यमंत्री ने उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार कर इसे राज्‍यपाल को भिजवा दिया है। हालांकि, इससे पहले केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा था कि वीडियो की वास्‍तविकता को परखने के बाद ही पार्टी कोई निर्णय लेगी। वहीं, जरकीहोली ने इस वीडियो को फर्जी बताया था, लेकिन विपक्ष इसे मुद्दा बनाकर सरकार घेरने में जुट गया है। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

वीडियो की जांच से सामने आएगा सच

रमेश जरकीहोली के मामले में कर्नाटक के उपमुख्‍यमंत्री अश्‍वथ नारायण ने कहा कि हमने ऐसे वीडियो के पीछे आमतौर पर कपट, बदले की भावना, हनीट्रैप, ब्‍लैकमेलिंग जैसे मकसद देखे हैं। पूरी जांच के बाद ही इस वीडियो का सच सामने आएगा। वहीं, कर्नाटक के गृहमंत्री बासवराज बोम्मई ने कहा कि इस मामले में कानून के अनुसार जांच की जा रही है। उनके खिलाफ क्‍या कार्रवाई करनी है ये हमारी पार्टी फैसला करेगी।

सामाजिक कार्यकर्ता ने दर्ज कराई शिकायत

बता दें कि कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के नेता और जल संसाधन मंत्री रमेश जरकीहोली पर एक वीडियो को आधार बनाकर गंभीर आरोप लगाए गए हैं। बेंगलुरु में सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने एक शिकायत दर्ज कराई है। उन्‍होंने बताया, 'मैंने पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई। इस शिकायत में यह मांग की गई है कि मंत्री रमेश जरकीहोली के स्कैंडल में शामिल होने के मामले की जांच की जाए।

'दोषी पाया गया तो छोड़ दूंगा राजनीति'

हालांकि, रमेश जरकीहोली ने साफ कर दिया है कि इस स्‍कैंडल से उनका कोई लेनादेना नहीं है। वायरल वीडियो फर्जी है। उन्‍होंने तो यहां तक कह दिया कि अगर आरोप सही पाए जाते हैं, तो वह राजनीति से संन्‍यास ले लेंगे। उन्‍होंने कहा, 'देखिए, मैं वीडियो में नजर आ रही महिला और यहां तक कि शिकायतकर्ता को भी नहीं जानता हूं। मैं मैसूर में था। मैं हाईकमान से मुलाकात करूंगा और इस पूरे मामले में अपना स्‍पष्‍टीकरण दूंगा। यदि ये आरोप सिद्ध होते हैं, विधायक का पद और राजनीति दोनों ही छोड़ दूंगा।'

केंद्र तक पहुंचा मामला

ये मामला केंद्र तक पहुंच गया है। केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, 'मैंने मीडिया के जरिए राज्यमंत्री रमेश जरकीहोली का वीडियो देखा है। इस पूरे मुद्दे पर मैं मुख्यमंत्री और पार्टी चीफ से बात करूंगा। हम सीडी की सत्‍यता को भी जानने की कोशिश करेंगे, इसके बाद तथ्यों के आधार पर कार्रवाई होगी। अभी कार्रवाही का कोई निर्णय नहीं लिया गया है।'

अभी इस मामले में ज्‍यादा कुछ कह पाना संभव नहीं- डीसीपी

बेंगलुरु सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट कमिश्नर ऑफ पुलिस (DCP) अनुचेथ ने बताया, 'हमने रमेश जरकीहोली के खिलाफ दिनेश कल्लहल्ली द्वारा दर्ज शिकायत को दर्ज किया है। हम उसी के अनुसार जांच करेंगे। अभी इस मामले में ज्‍यादा कुछ कह पाना संभव नहीं है।' इस बीच कांग्रेस पार्टी हमलावर हो गई है।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.