भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा बोले- डीएमके ने तमिलनाडु के सांस्कृतिक मूल्यों को कुचलने की कोशिश की

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बुधवार को कहा कि डीएमके के राज में कोरोना के नाम पर वीकेंड पर लोगों को मंदिर जाने की अनुमति नहीं थी। डीएमके ने तमिलनाडु के सांस्कृतिक मूल्यों को कुचलने की कोशिश की।

Krishna Bihari SinghWed, 24 Nov 2021 04:36 PM (IST)
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि डीएमके ने तमिलनाडु के सांस्कृतिक मूल्यों को कुचलने की कोशिश की।

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बुधवार को कहा कि डीएमके के राज में कोरोना के नाम पर वीकेंड पर लोगों को मंदिर जाने की अनुमति नहीं थी। डीएमके ने तमिलनाडु के सांस्कृतिक मूल्यों को कुचलने की कोशिश की। ये लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए एक गंभीर चुनौती है और इसका सिर्फ एक जवाब है भाजपा। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस भी सिमट कर पारिवारिक पार्टी रह गई है।

भाजपा अध्‍यक्ष ने तमिलनाडु की राज्य कार्यकारी समिति की बैठक को संबोधित किया। जेपी नड्डा ने कहा कि द्रमुक (DMK) और भ्रष्टाचार, डीएमके और वंशवाद, DMK और परिवारवाद पर्यायवाची हैं। ये एक सिक्के के दो पहलू हैं। कश्मीर से दक्षिण तक लोकतंत्र के 70 सालों में गंभीर चुनौती आई है जो राजनीतिक पार्टियां विचारधारा की बात किया करती थीं वो सिमट कर पारिवारिक पार्टी के रूप में रह गई हैं। 

भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि मौजूदा वक्‍त में यह केवल भाजपा ही है जिसके पास ही लोकतांत्रिक मानदंड हैं... जहां कोई अपनी प्रतिभा के कारण आगे बढ़ सकता है। यह एक वैचारिक आधार वाली पार्टी है। यह एक ऐसी पार्टी है जो क्षेत्रीय भावनाओं को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय भावनाओं का ख्याल रखती है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सबसे पुरानी भाषा के साथ तमिलनाडु संस्कृति का खजाना है। यह अध्यात्म से परिपूर्ण भक्ति की भूमि है। हमारा मानना है कि विचारधारा का प्रचार कार्यालय से होता है। यह एक ऐसी जगह है जहां हम चर्चा करते हैं, विचार-विमर्श करते हैं, योजना बनाते हैं और हम पार्टी को मजबूत बनाने के लिए आगे बढ़ते हैं। हमारी पार्टी ऐसी नहीं है जहां कार्यालय नेताओं के घर से चलता हो, जैसा कि अन्य पार्टियों में होता है।

समाचार एजेंसी आइएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक तमिलनाडु के बाद नड्डा विधानसभा चुनाव की तैयारियों पर विचार-मंथन करने के लिए गोवा के दो दिवसीय दौरे पर होंगे। गोवा दौरे के दौरान नड्डा प्रबुद्ध वर्ग के साथ संवाद की मुहिम के तहत डाक्टरों के एक सम्मेलन को संबोधित करेंगे। कार्यक्रम में आयुर्वेदिक, एलोपैथिक और होम्योपैथिक समेत विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लगभग 300 डाक्‍टर शामिल होंगे। उनका पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक का भी कार्यक्रम है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.