भूपेश बघेल ने ममता बनर्जी पर साधा न‍िशाना, 2024 में प्रधानमंत्री पद के उम्‍मीदवार को लेकर कही यह बात

2024 लोकसभा चुनाव में विपक्ष की कमान को लेकर कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस में मची घमासान मचा है। ममता बनर्जी के अब कोई यूपीए नहीं वाले बयान के कुछ दिनों बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी पर हमला क‍िया।

Arun Kumar SinghSun, 05 Dec 2021 06:49 PM (IST)
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी पर हमला क‍िया

नयी दिल्ली, प्रेट्र। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए रविवार को कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री को स्पष्ट करना चाहिए कि वह अपनी पार्टी को भाजपा से लड़कर मुख्य विपक्षी दल बनाना चाहती हैं या फिर विपक्ष से लड़कर यह करना चाहती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस विपक्ष का मुख्य स्तंभ है और उसके बगैर भाजपा के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर कोई मोर्चा संभव नहीं है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेश बघेल ने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) में शामिल दल और इस गठबंधन की प्रमुख सोनिया गांधी मिलकर तय करेंगे कि अगले लोकसभा चुनाव में विपक्ष का चेहरा कौन होगा।

कई राज्‍यों में भाजपा और कांग्रेस की सीधी लड़ाई

उन्होंने यह टिप्पणी उस वक्त की है जब पिछले दिनों ममता बनर्जी और चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कांग्रेस एवं उसके शीर्ष नेतृत्व पर सवाल खड़े किए थे। ममता ने कहा था कि अब संप्रग जैसी कोई चीज नहीं है। किशोर ने कहा था कि कांग्रेस जिस विचारधारा और राजनीति का प्रतिनिधित्व करती है, वह अहम है, लेकिन उसका नेतृत्व किसी व्यक्ति का नैसर्गिक अधिकार नहीं है।

ममता और किशोर की टिप्पणियों पर बघेल ने कहा क‍ि कांग्रेस एकमात्र पार्टी है जो सब जगह है और भाजपा के साथ सीधी लड़ाई में है। हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, हरियाणा, उत्तराखंड और कई ऐसे राज्य हैं जहां भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी लड़ाई है। उन्होंने जोर देकर कहा कि आज की तारीख में यह नहीं लगता कि भाजपा के खिलाफ कांग्रेस के बिना कोई राष्ट्रीय मोर्चा बन सकता है। यह पूछे जाने पर कि क्या आगे कांग्रेस ही विपक्षी गठबंधन का मुख्य स्तंभ होगी, उन्होंने कहा क‍ि वह तो है ही। कश्मीर से लेकर केरल तक की बात करें तो हर जगह कांग्रेस का अस्तित्व है। हर जगह दूसरे विपक्षी दलों का अस्तित्व कहां है।

प्रशांत किशोर पर साधा न‍िशाना

किशोर पर निशाना साधते हुए बघेल ने कहा क‍ि प्रशांत किशोर पैसे के लिए काम करते हैं। वह एक पेशेवर आदमी हैं। प्रशांत किशोर अब बताएं कि किसके लिए काम कर रहे हैं? क्या वह किसी राजनीतिक दल के साथ जुड़े हैं कि वह ऐसी टिप्पणी करेंगे? क्या भाजपा के लिए काम कर रहे हैं या ममता बनर्जी के लिए काम कर रहे हैं? उन्हें स्पष्ट करना चाहिए। उन्होंने कहा क‍ि ममता बनर्जी जी से भी यह कहना चाहता हूं कि आप मुख्य विपक्षी दल बनना चाहती हैं, बहुत अच्छी बात है। आप यदि कोई योजना बनाकर और सपना पालकर आगे बढ़ना चाहती हैं तो सब स्वागत करेंगे। लेकिन सवाल यह है कि आप सत्ता पक्ष से लड़कर मुख्य विपक्षी दल बनना चाहती हैं या फिर जो विपक्ष में है उससे लड़कर मुख्य विपक्षी दल बनना चाहती हैं?

चुनावी राज्‍यों में भाजपा की मदद कर रही है तृणमूल कांग्रेस

बघेल ने सवाल किया क‍ि मोदी जी और शाह जी (प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री) लगातार 'कांग्रेस मुक्त भारत' की बात कर रहे थे। वो तो नहीं कर पाए। अब क्या यह काम प्रशांत किशोर ने अपने हाथ में ले लिया है? इस प्रश्न पर कि क्या उन्हें यह लगता है कि भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच कोई अंदरूनी सहमति है, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा क‍ि उन्हें (ममता) ही स्पष्ट करना चाहिए। शरद पवार जी से मिलने के बाद कहती हैं कि संप्रग जैसी कोई चीज नहीं है। लेकिन प्रधानमंत्री से मिलकर निकलीं तो कोई बात सामने क्यों नहीं आई? बताएं कि प्रधानमंत्री से क्या बात हुई? उन्होंने सिर्फ कांग्रेस पर निशाना साधा, आखिर क्या बात है? उनके मुताबिक, तृणमूल कांग्रेस चुनावी राज्यों में कहीं न कहीं भाजपा की मदद कर रही है।

सभी मिलकर तय करेंगे कौन होगा व‍िपक्ष का चेहरा

बघेल ने कहा क‍ि लगता है कि वो उन राज्यों में भाजपा की मदद करने जा रहे हैं, जहां चुनाव हैं। गोवा में उनका कुछ नहीं है, लेकिन वहां लड़ना चाहते हैं। इसका मतलब है कि वो कांग्रेस का वोट काटना चाहते हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या अगले लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी विपक्ष का चेहरा होंगे, उन्होंने कहा क‍ि संप्रग में कई दल हैं। इसकी प्रमुख सोनिया गांधी जी हैं। सब मिलकर तय करेंगे। उनका यह भी कहना था क‍ि पूरे देश में राहुल जी अकेले नेता हैं जो भाजपा और केंद्र सरकार पर आक्रमण करते हैं...उनको लेकर भाजपा में घबराहाट है। इसलिए हो सकता है कि भाजपा के लोग इनके (तृणमूल कांग्रेस) माध्यम से हमला करा रहे हों। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ पर्यवेक्षक बघेल ने यह दावा भी किया कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार तय है।

उन्होंने कहा क‍ि योगी (उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री) से सारे लोग नाराज हैं। सरकारी गुंडागर्दी के अलावा, उपलब्धि के नाम पर उनके पास कुछ नहीं है। इसलिए मैं कह रहा हूं कि योगी जा रहे हैं। बघेल ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा क‍ि बसपा तो कहीं नहीं है। मायावती जी कहीं नहीं निकलीं। अखिलेश जी तो चुनाव नजदीक आने पर निकले हैं। प्रियंका जी हर जगह गई हैं। हमारी कोशिश है कि हम मेहनत करें और अच्छा प्रदर्शन करें। यह पूछे जाने पर कि क्या प्रियंका गांधी को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किया जाएगा, उन्होंने कहा क‍ि यह पार्टी अलाकमान को तय करना है। उत्तर प्रदेश में तो नेतृत्व प्रियंका जी का ही है। उन्हीं के नेतृत्व में हम काम कर रहे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.