गृह मंत्री अमित शाह से मिले भाजयुमो के नए अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या, बेंगलुरू में NIA के स्थायी विभाग की मांग

गृह मंत्री अमित शाह से मिले तेजस्वी सूर्या।
Publish Date:Sun, 27 Sep 2020 01:25 PM (IST) Author: Shashank Pandey

नई दिल्ली, एएनआइ। भारतीय जनता युवा मोर्चा(भाजयुमो) के नव नियुक्त अध्यक्ष और भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या(Tejasvi Surya) ने आज दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह(Amit Shah) से मुलाकात की। इस दौरान तेजस्वी ने गृह मंत्री ने आग्रह किया कि वह बेंगलुरू में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) के स्थायी विभाग की स्थापना करें। उन्होंने कहा कि बेंगलुरू फिलहाल आतंकी गतिविधियों का केंद्र बन गया है। ऐसे में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) के स्थायी विभाग की स्थापना करना आवश्यक कदम है।

तेजस्वी सूर्या ने गृह मंत्री अमित शाह से उनके घर पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह को एक पत्र सौंपा, जिसमें बेंगलुरू में आतंकी गतिविधियों को लेकर बात कही गई। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु शहर में कई एनआईए गिरफ्तार और पर्दाफाश स्लीपर सेल के माध्यम से, आतंकवादी गतिविधियों का केंद्र बन गया है। तेजस्वी ने कहा कि मैंने गृह मंत्री अमित शाह जी से आग्रह किया कि वे बेंगलुरू में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के स्थायी विभाग की स्थापना करें। उन्होंने आश्वासन दिया कि इसे जल्द स्थापित किया जाएगा।

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने शनिवार को संगठन में बड़ा फेरबदल करते हुए पार्टी पदाधिकारियों के नामों का ऐलान किया। जिन लोगों को पार्टी में आगे बढ़ाया गया है उनमें से एक कर्नाटक से सांसद तेजस्वी सूर्या हैं। तेजस्वी सूर्या को पूनम महाजन की जगह यूवा मोर्चा का अध्यक्ष बनाया गया है।

दक्षिण समेत 12 राज्यों के लोग IS में शामिल

केंद्र सरकार ने राज्यसभा में बताया कि आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) के विभिन्न संगठनों ने हाल के सालों में देश के 12 राज्यों में अपना आधार बना लिया है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी.किशन रेड्डी ने बताया है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, केरल, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु आदि में सुन्नी जेहादियों के इस संगठन के लोगों की मौजूदगी का पता चला है।

एनआइए की जांच में पता चला है कि इस्लामिक स्टेट केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और जम्मू व कश्मीर में अधिक सक्रिय हो गया है।  

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.