कोरोना की दूसरी लहर से मुकाबले के लिए 12 विपक्षी नेताओं ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

विपक्षी नेताओं ने पीएम नरेंद्र मोदी को एक संयुक्त पत्र लिखकर कोरोना से मुकाबला करने के उपायों का सुझाव दिया

12 विपक्षी दलों के नेताओं ने पीएम नरेंद्र मोदी को एक संयुक्त पत्र लिखकर कोरोना से मुकाबला करने के उपायों का सुझाव दिया। इसमें फ्री सामूहिक टीकाकरण की मांग करते हुए सेंट्रल विस्टा परियोजना को निलंबित करने की मांग की गई है।

Arun Kumar SinghWed, 12 May 2021 07:33 PM (IST)

नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। महामारी का कहर रोकने में सरकार की खामियों की ओर इशारा करते हुए 12 बड़े विपक्षी दलों के नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कोरोना की रोकथाम के लिए तत्काल बड़े कदम उठाने की मांग की है। इन नेताओं ने सभी नागरिकों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगाने के लिए देश और दुनिया से टीके का केंद्रीयकृत प्रबंध करने के लिए कहा है।

साथ ही सेंट्रल विस्टा परियोजना का निर्माण रोक कर इस राशि का इस्तेमाल आक्सीजन और वैक्सीन खरीदने में करने की मांग भी की है। प्रधानमंत्री को भेजे गए इस संयुक्त पत्र में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व पीएम व जद (एस) नेता एचडी देवेगौडा, राकांपा प्रमुख शरद पवार और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख व बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के हस्ताक्षर हैं।

सभी 12 दलों के नेताओं ने सेंट्रल विस्टा का काम रोकने और नए कृषि कानून रद करने की भी मांग की

इनके अलावा शिवसेना प्रमुख व महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, तमिलनाडु के सीएम व द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन, झामुमो नेता व झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, राजद नेता तेजस्वी यादव, नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला, भाकपा महासचिव डी.राजा और माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने भी इस पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

विपक्षी नेताओं ने प्रधानमंत्री से युद्धस्तर पर जिन कदमों को उठाने के लिए कहा है उसमें केंद्र सरकार द्वारा देश-विदेश से वैक्सीन ती खरीद करने की बात कही है। दूसरा देश भर में सभी नागरिकों का तत्काल मुफ्त और संपूर्ण टीकाकरण शुरू किया जाए।

देश में वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के लिए अनिवार्य लाइसेसिंग व्यवस्था खत्म करने, बजट में वैक्सीन के लिए आवंटित 35,000 करोड़ खर्च करने, सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का काम रोक उसकी रकम खर्च करने के साथ ही पीएम केयर्स में जमा सारी राशि तत्काल जारी कर आक्सीजन, वैक्सीन और मेडिकल उपकरण खरीदने की मांग की है। बेरोजगार हुए लोगों को 6000 रुपये महीने और जरूरतमंदों को मुफ्त अनाज देने की मांग भी की गई है। इन कदमों के साथ विपक्षी नेताओं ने प्रधानमंत्री से तीनों कृषि कानूनों को रद करने की मांग भी की है। विपक्षी नेताओं ने अपने इन सुझावों पर पीएम से जवाब की अपेक्षा की है।

 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.