G20 सम्‍मेलन के दूसरे सेशन में शामिल होंगे पीएम मोदी, कई मुद्दों पर होगी चर्चा

पीएम मोदी आज जी20 सम्‍मेलन के दूसरे सत्र में शामिल होंगे। रोम में होने वाला आज का सत्र क्‍लाइमेट चेंज पर होगा। आज पीएम मोदी का यहां पर तीसरा दिन होगा। इससे पहले उन्‍होंने अपने संबोधन में महामारी के खिलाफ भारत के अभियान की बात की थी।

Kamal VermaPublish:Sun, 31 Oct 2021 11:20 AM (IST) Updated:Sun, 31 Oct 2021 11:20 AM (IST)
G20 सम्‍मेलन के दूसरे सेशन में शामिल होंगे पीएम मोदी, कई मुद्दों पर होगी चर्चा
G20 सम्‍मेलन के दूसरे सेशन में शामिल होंगे पीएम मोदी, कई मुद्दों पर होगी चर्चा

रोम (एएनआई)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जी-20 सम्‍मेलन के दूसरे सत्र में हिस्‍सा लेंगे। ये सत्र क्‍लाइमेट चेंज पर होगा। आज पीएम मोदी का यहां पर तीसरा दिन है। तीसरे दिन की शुरुआत में पहले प्रधानमंत्री यहां पर स्थित हिस्‍टोरिकल सेंटर जाएंगे। यहां का ऐतिहासिक त्रेवी फाउंटेन बारोक्‍यू आर्ट स्‍टाइल का अदभुत नमूना है। इस जगह को प्‍लेस आफ रोमांस के रूप में भी जानते हैं। फिल्‍म निर्माताओं के लिए भी ये जगह काफी पसंद की जाती है। 

इसके बाद पीएम मोदी स्‍पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत कर सकते हैं। इसके अलावा वो जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से भी मुलाकात कर सकते हैं। इसके अलावा पीएम मोदी सस्‍टेनेबल डेवलेपमेंट गोल के बारे में आयोजित एक सत्र में भी हिस्‍सा लेंगे। ये सेशन वर्ष 2030 एजेंडे पर आ‍धारित है। इसमें 17 टार्गेट तय किए गए हैं। इसके अलावा 244 इंडिकेटर्स भी हैं जिनको विश्‍व के देशों ने स्‍वीकार किया है। आज पीएम मोदी ग्‍लोबल समिट में भी हिस्‍सा लेंगे जो सप्‍लाई चेन को लेकर होने वाला है।  

आपको बता दें कि पीएम ने जी20 सम्‍मेलन के पहला सत्र, जो शनिवार को शुरू हुआ था, उसमें प्रधानमंत्री मोदी ने विश्‍व समुदाय के समक्ष ग्‍लोबल इकनामी और ग्‍लोबल हैल्‍थ पर अपने विचार रखे थे। इसमें उन्‍होंने वैश्विक महामारी को खत्‍म करने में भारत का योगदान का जिक्र किया साथ ही ये भी कहा कि विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन को भारत द्वारा विकसित कोविड वैक्‍सीन को मान्‍यता देनी चाहिए। 

अगले दो दिनों में दुनिया की बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था वाले देशों के प्रमुख ग्‍लोबल एजेंडा पर अपने विचार रखेंगे। यहां के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काप 26 सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने के लिए ग्‍लासगो जाएंगे। यहां पर ये समिट क्‍लाइमेट चेंज पर होना है। बता दें कि जी20 यूरोपीय यूनियन के तहत आने वाले 19 देशों का एक इंटरगवर्नमेंटल फोरम  है।  ये विश्‍व के जीडीपी का करीब 80 फीसद है और विश्‍व के कुल व्‍यापार का 75 फीसद है।