Asian Weightlifting Championships: मीराबाई चानू ने बनाया विश्व रिकॉर्ड, कांस्य जीत हासिल किया ओलंपिक टिकट

पूर्व विश्व चैंपियन भारतीय भारोत्तोलक मीराबाई चानू

मीराबाई चानू ने शनिवार को एशियन चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करते हुए क्लीन एंड जर्क में 49 किग्रा में विश्व रिकॉर्ड बनाया और साथ ही कांस्य पदक अपने नाम किया। टोक्यो ओलंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर लिया।

Viplove KumarSat, 17 Apr 2021 11:47 PM (IST)

ताशकंद, पीटीआइ। पूर्व विश्व चैंपियन भारतीय भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने शनिवार को एशियन चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करते हुए क्लीन एंड जर्क में 49 किग्रा में विश्व रिकॉर्ड बनाया और साथ ही कांस्य पदक अपने नाम किया। इसके अलावा उन्होंने टोक्यो ओलंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर लिया। चानू ने अपना राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बेहतर किया।

26 साल की चानू ने स्नैच में 86 किग्रा का भार उठाया और क्लीन एंड जर्क में 119 किग्रा का भार उठा विश्व रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने कुल 205 किग्रा का भार उठाते हुए कांस्य पदक हासिल किया। इससे पहले क्लीन एंड जर्क में विश्व रिकॉर्ड 118 किग्रा का था।

49 किग्रा में मीराबाई चानू का सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर 203 किग्रा (88+115 किग्रा) का था जो उन्होंने पिछले साल फरवरी में राष्ट्रीय चैंपियनशिप में बनाया था। इस भार वर्ग में स्पर्धा का स्वर्ण चीन की होउ झिहुई के नाम रहा जिन्होंने स्नैच में विश्व रिकॉर्ड बनाया और कुल 213 किग्रा (96+117 किग्रा) का भार उठा सोने का तमगा हासिल किया। वहीं, उनकी हमवतन जियांग हुईहुआ ने कुल 207 किग्रा (89+118 किग्रा) का भार उठा रजत पदक अपने नाम किया।

चोटिल बजरंग फाइनल से हटे, रवि को स्वर्ण

कजाखस्तान के अलमाटी में चल रही एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में 65 किग्रा में भारत के स्टार पहलवान बजरंग पूनिया चोटिल होने के कारण फाइनल मुकाबले से हट गए जबकि रवि दहिया ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया। बजरंग को सेमीफाइनल मुकाबले में कंधे में चोट लग गई थी जिसके बाद उन्होंने स्वर्ण पदक मुकाबला नहीं लड़ा। उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। वहीं, नरसिंह यादव, करण और सत्यव्रत कादियान ने कांस्य पदक जीते।

शनिवार को 65 किग्रा में बजरंग ने कोरिया के ज्योंग को 3-0 से और सेमीफाइनल में मंगोलिया के शरमंधाक को 7-0 से चित करते हुए जीत हासिल की। फाइनल नहीं लड़ने के कारण बजरंग के विरोधी जापानी पहलवान आटोगुरा को इसका फायदा मिला, उन्हें वॉकओवर में विजेता घोषित कर दिया गया।

बजरंग के हिस्से में रजत पदक आया। वहीं, 57 किग्रा में रवि ने पहले मैच में उज्बेकिस्तान के सेफरोव को 9-2 से, सेमीफाइनल में पेले के अबु रहमान को 11-0 और फाइनल में इरान के सरलक को 9-4 से हराते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। इनके अलावा 70 किग्रा में करण, 79 किग्रा में नरसिंह और 97 किग्रा में सत्यव्रत कादियान ने कांस्य पदक जीते। रविवार को प्रतियोगिता के अंतिम दिन भारत के पांच पहलवान अपना दम दिखाएंगे।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.