Odisha: सुंदरगढ़ में भांजे ने मामा की पीट-पीटकर की हत्या, गिरफ्तार

सुंदरगढ़ में भांजे ने मामा की पीट-पीटकर हत्या की।
Publish Date:Mon, 26 Oct 2020 05:58 PM (IST) Author: Sachin Kumar Mishra

संवाद सूत्र, बिसरा (सुंदरगढ़, ओडिशा)। Murder In Sundargarh: ओडिशा के सुंदरगढ़ में नुआगांव प्रखंड के पतरापाली गिरजा टोली में सनातन तिग्गा (28) ने लकड़ी के डंडे से पीट-पीटकर अपने मामा संजीत लाकड़ा की हत्या कर दी। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों के हवाले कर दिया गया। इस घटना को अंजाम देने वाले आरोपित भांजा सनातन तिग्गा को गिरफ्तार कर लिया गया है। दुर्गा पूजा के अवसर पर रविवार की रात गिरजा टोली में नुआखाई भेटघाट (मिलन समारोह) का आयोजन किया गया था। इसमें मामा और भांजा शामिल हुए थे। इस दौरान मामा और भांजा के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया।

गुस्से में आकर भांजे सनातन ने पास में पड़े लकड़ी के डंडे को उठाकर अपने मामा संजीत पर जानलेवा हमला कर दिया। जिस कारण घटनास्थल पर ही मामा संजीत की मौत हो गई थी। सुबह ग्रामीणों की ओर से घटना की जानकारी दिए जाने पर बिसरा पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू की थी। साइंटिफिक टीम की मदद से घटना स्थल की जांच की गई थी। पुलिस आरोपित सनातन को थाने में रखकर पूछताछ कर रही है। प्राथमिक जांच में उसने पुलिस को बताया कि समारोह के दौरान उसका अपने मामा के मामा के साथ घरेलू बातचीत को लेकर विवाद हो गया था। नशे में होने कारण उसका मामा थम नहीं रहा था। जिस कारण उसे गुस्सा आ गया तथा उसने पास में पड़े लकड़ी के डंडे को उठाकर अपने मामा की बुरी तरह से पिटाई कर दी। जिसकारण घटनास्थल पर ही उसने दम तोड़ दिया। पुलिस ने बताया कि आरोपित सनातन को मंगलवार के दिन कोर्ट में पेश किया जाएगा। 

गौरतलब है कि ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में रंगदारी मांग रहे एक अभियुक्त को पकड़ने गई नयापल्ली थाना पुलिस टीम पर अभियुक्त के साथ उसकी मां व बहन ने हमला कर दिया। लात-घूसों के साथ ही लकड़ी के टुकड़े व सब्जी काटने वाली पहसुल से पुलिस टीम की पिटाई कर दी। इस दौरान एसआइ विजय कुमार बारिक, कांस्टेबल ज्योत्सनाराणी साहू, होमगार्ड दिप्तीरंजन पाटशाणी घायल हो गए हैं। एसआइ विजय की शिकायत पर थाने में मामला दर्ज करने के बाद शनिवार सुबह भारी संख्या में पुलिस टीम तारिणीगर में पहुंची और मुख्य अभियुक्त संजय सेठी, मां अन्नपूर्णा व बहन विष्णुप्रिया को गिरफ्तार कर कोर्ट भेज दिया है। जमानत नामंजूर होने पर तीनों को झारपड़ा जेल भेज दिया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.