top menutop menutop menu

हत्यारोपित के माता-पिता की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन

हत्यारोपित के माता-पिता की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन
Publish Date:Thu, 13 Aug 2020 08:47 PM (IST) Author: Jagran

संसू, बामड़ा : सम्बलपुर जिले के बामड़ा प्रखंड अंतर्गत बाउंसलगा पंचायत के तालडीही गांव में बड़े भाई और तीन साल के मासूम भतीजे की निर्मम हत्या करने के आरोपित छोटे भाई को बुधवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। हांलाकि आरोपित के माता-पिता को भी गिरफ्तार करने की मांग को लेकर तालडीही गांव के ग्रामीणों ने तीन घंटे तक प्रदर्शन किया। प्रशासनिक अधिकारियों ने तीन घंटे के मशक्कत के बाद ग्रामीणों को शांत कराया। बता दें तालडीही गांव के जयराम माझी का छोटा बेटा सनातन (20) रविवार रात को अपने बड़े भाई दिलीप(28), भाभी सरिता (22) और भतीजा विश्वराज (3) को कुल्हाड़ी और खाट के पाए से मारने के बाद पैखाने की सेफ्टी टैंक में तीनों को डाल कर सेफ्टी टैंक का ढक्कन लगा दिया था।वारदात के 30 घंटे बाद मंगलवार की सुबह आरोपी की मां राईवारी माझी(52) ने गोविंदपुर थाने में दिलीप, सरिता और विश्वराज के गुम होने और अनहोनी की आशंका जताते हुए शिकायत दर्ज की थी। पुलिस और दमकल विभाग के कर्मचारियों ने आरोपी सनातन के निशानदेही पर सेफ्टी टैंक से दिलीप,सरिता और विश्वराज को निकाला गया। दिलीप और बच्चे कि मौत हो चुकी थी, लेकिन सरिता की सांसें चल रही थी। उसे तुरंत बामड़ा अस्पताल ले जाया गया और प्राथमिक उपचार के बाद सुंदरगढ़ जिला अस्पताल रेफर किया गया। जहां से उसे बुर्ला मेडिकल भेजा गया। उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। बुधवार को आरोपी सनातन को गोबिदपुर पुलिस ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। गोविंदपुर थाना अधिकारी प्रताप राणा,एएसआई जोगेश्वर किसान ने धरना स्थल पर पहुंच ग्रामीणों को समझाने की कोशिश किए थे। लेकिन इसमें विफल होने से बामड़ा तहसीलदार अनिल कुल्लू, महुलपाली थाना अधिकारी ज्योत्स्ना बेहेरा भी दोपहर को मौके पर पहुंच ग्रामीणों से वार्तालाप किए। प्रशासन और पुलिस द्वारा त्वरित कारवाई कर दोषियों को पहचान कर सजा दिलाने, गंभीर रूप से घायल सरिता का इलाज कराने, आंगनबाड़ी केंद्र में चारदीवारी निर्माण, वारदात के स्थानों की सफाई कराने का भरोसा देने के पश्चात ग्रामीणों ने धरना तोड़ा।पुलिस ने मर्डर में उपयोग किया गया टंगिया, छुरी,कपड़ा,खाट का पाया और अन्य सामग्री जब्त किया है। साइंटिफिक टीम ने भी मौकाए वारदात से प्रमाण इकट्ठा किया है। गोविंदपुर पुलिस द्वारा आरोपी के पिता जयराम और मां रायवारी से पूछताछ जारी है। मंगलवार की रात को मृतक दिलीप और मासूम विश्वराज कि पोस्टमार्टम के बाद गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.