भाजयुमो ने फूंका मुख्यमंत्री और गृह राज्यमंत्री का पुतला

बहुचर्चित ममिता मेहेर हत्या घटना के मुख्य आरोपित गोविद साहू के साथ राज्य के गृह राज्यमंत्री कैप्टन दिव्यशंकर मिश्र की घनिष्ठता की बात सामने आई है।

JagranFri, 22 Oct 2021 09:59 PM (IST)
भाजयुमो ने फूंका मुख्यमंत्री और गृह राज्यमंत्री का पुतला

संवाद सूत्र, संबलपुर : बहुचर्चित ममिता मेहेर हत्या घटना के मुख्य आरोपित गोविद साहू के साथ राज्य के गृह राज्यमंत्री कैप्टन दिव्यशंकर मिश्र की घनिष्ठता की बात सामने आई है। इसे लेकर संबलपुर जिला भाजपा युवा मोर्चा की ओर से इसका प्रतिवाद करने समेत गृह राज्यमंत्री कैप्टन मिश्र समेत मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का पुतला फूंका गया। मोर्चा ने अफसोस जताया है कि ममिता मेहेर हत्याकांड का मामला देश भर में सुर्खियों में है, बावजूद इसके उन्हें अबतक मंत्रिमंडल से बर्खास्त नहीं किया गया है। ऐसे में इस हत्याकांड की निष्पक्ष जांच पर संदेह जताते हुए जांच का जिम्मा सीबीआइ को सौंपे जाने की मांग की गई है। गुरुवार की शाम, स्थानीय गोलबाजार चौक में इराशिष आचार्य, गिरीश पटेल, अन्नपूर्णा बारिक, देवेंद्र महापात्र, दामोदर कर, रामचंद्र मेहेर, कर्नल प्रभात पंडा, समीर रंजन बाबू, मानस बक्शी, फणी भूषण मिश्र, महेंद्र कुमार मिश्र, अश्विनी माझी समेत भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ता उपस्थित रहकर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और गृह राज्यमंत्री कैप्टन दिव्यशंकर मिश्र का पुतला फूंककर विरोध जताया। चंदा नहीं देने पर चालक से मारपीट : राउरकेला के केबलांग थाना अंतर्गत लमसी गांव में युवकों ने चंदा के लिए ठेका संस्था के वाहन को रोका। चालक द्वारा चंदा देने से इंकार करने पर उसके साथ मारपीट की गई। जख्मी चालक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना को लेकर वाहन चालकों में असंतोष है एवं युवकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है।

सड़क निर्माण में नियोजित आरकेडी ठेका संस्था का वाहन चलाने वाले खरियाबहाल गांव का नाथूराम गंजू वाहन लेकर रात को लहुणीपाड़ा से बिमलागढ़ कैंप की ओर जा रहा था। लमसी गांव में बनेस महंत और तीन युवकों ने उसे रोका और चंदा मांगा। पैसे देने से इंकार करने पर तीनों ने मिलकर उसकी पिटाई कर दी। गंभीर चोट के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है। ओडिशा ड्राइवर महासंघ की ओर से इस पर असंतोष प्रकट किया गया है। इस संबंध में केबलांग थाने में लिखित शिकायत कर आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.